समाज में मान-सम्मान (Respect) कैसे पाएं? 7 तरीके

इज्जत, आदर, सम्मान एक ऐसी चीज हैं जो हर कोई पाना चाहता हैं। दुनिया में मान-सम्मान पाने की चाहत सबकी होती है। सब चाहते हैं की लोग उसकी इज्जत करें, उसे सम्मान (Respect) मिलें, पर इज्जत खुद-ब-खुद मिलने वाली चीज नहीं हैं, यह कमानी पड़ती हैं। यह आपके काम से मिलती हैं। आपको अपने व्यवहार के दम पर इज्जत मिलती हैं। How to Get Respect in Hindi.

How to Get Respect in Hindi

समाज में मान-सम्मान पाने की लालसा, उम्मीद सबके मन में पैदा होती हैं लेकिन सम्मान की उम्मीद करना नहीं बल्कि इसे कमाना सीखें। सम्मान हमें अपने द्वारा किए गए कार्यों और व्यवहार से मिलता हैं। सम्मान सिर्फ उन्हीं लोगों को मिलता है जो ईमानदार होते है और दूसरों का सम्मान करना जानते हैं।

इस आर्टिकल में आज हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताने वाले हैं जिन्हें अगर आप अपनी जिंदगी में अपना ले तो कोई आपकी बेइज्जती नहीं कर करेगा। बल्कि लोगों के दिलों में आपके लिए कदर, इज्जत और बढ़ जाएगी।

समाज में सम्मान कैसे पाएं  Respect Kaise Paye? How to Get Respect in Hindi सम्मान पाने के तरीके

Izzat kaise paye, Apni value kaise banaye, samman pane ke upay in hindi, Maan samman pane ke liye kya kare, Respect kaise paye, Apni importance kaise badhaye, Dusro se samman kaise paye, How to get respect in hindi.

1. सम्मान पाने के लिए खुद का सम्मान करें

अगर आप चाहते हैं कि लोग आपका आदर करें तो इसकी शुरूआत खुद से करें। जी हाँ, अपने आप की इज्जत करना सीखें। अपनी नजर में खुद को एक अच्छा और काबिल व्यक्ति समझें। अपने आप को अच्छा समझें। खुद से प्यार करें। अपने काम से प्यार करें।

आपको खुद पर यकीन होना चाहिए कि आप इज्जत के काबिल हैं। तभी आप लोगों को समझा सकेंगे की आप सम्मान के लायक हैं। अपनी कमजोरियों की बजाय अपनी अच्छाईयों को याद रखें। यह बात हमेशा याद रखें, आपको इज्जत तभी मिल सकती हैं जब खुद को इज्जत के काबिल समझते हैं।

अगर आप खुद को एक नाकाम इंसान समझते हैं, अपने काम को छोटा समझते हैं, अपनी गलतियों को याद करके पछताते रहते हैं तो आपको कभी भी लोगों से इज्जत नहीं मिल सकती। आपको सम्मान तभी मिलेगा जब आप खुद का सम्मान करेंगे।

2. किसी के साथ ज्यादा समय न बिताएं

अक्सर आपने गौर किया होगा, जब कोई आपका अपना आपसे कही दूर चला जाता हैं तो आप उसकी कमी महसूस करते हैं। आपको उसकी अच्छी बातें याद आती हैं, लेकिन जब वो आपके पास था तो आप उसे इतनी अहमियत नहीं देते थे। तब आपके लिए उसकी कोई value नहीं थी। आप उसका आदर नहीं करते थे।

ठीक वैसे ही अगर आप हर समय उपलब्ध रहेंगे। अगर आप लोगों के साथ बहुत ज्यादा समय बिताते हैं तो लोग आपको simple समझते हैं और उनके दिल में आपकी कोई value नहीं होती हैं और आपकी इज्जत नहीं करते हैं।

यह बात हमेशा याद रखें, जो चीज दुर्लभ होती हैं उसकी वैल्यू, कदर ज्यादा होती हैं। आपके लिए भी वे चीजें ज्यादा महत्व, अहमियत नहीं रखती होंगी जो आपको आसानी से मिल जाती हैं। मतलब, आपकी नजर में सरलता से उपलब्ध होने वाली चीजों की कोई अहमियत नहीं होती हैं।

जो आपके अच्छे दोस्त हैं, आपको सम्मान देते हैं उनके साथ अच्छे रहें और समय बिताएं। लेकिन जो आपकी respect नहीं करें उनसे थोड़ा कम मिले-झुले। तभी वे धीरे-धीरे आपको सम्मान देने लगेंगे।

3. दूसरों का सम्मान करें और सम्मान पाएं

दूसरों का सम्मान करें और सम्मान पाएं: आप दूसरों को जितना सम्मान देंगे उतना ही आपको लोगों से सम्मान मिलेगा। इसलिए अगर आप चाहते हैं कि लोग आपका आदर करें तो पहले आप लोगों को इज्जत देना सीखें। मतलब, आप जैसा व्यवहार चाहते हैं, वैसा ही व्यवहार दूसरे लोगों के साथ करें।

लोग जितनी इज्जत आपको देते हैं, उनको उतनी इज्जत जरूर दें। किसी का अपमान करके आप उसके दिल में अपने लिए जगह नहीं बना सकते। आप तभी लोगों का दिल जीत सकते हैं जब आप उन्हें प्यार देना जानते हो। तभी आप उसे प्यार देने के लिए जज कर सकते हैं।

यदि आप दूसरों के दृष्टिकोण का सम्मान नहीं करते हैं तो आप उनसे यह उम्मीद कभी न करें कि वे आपका सम्मान करेंगे। चाहे आप उनकी बात से सहमत न हो, पर फिर भी आपको उनकी बातों को गौर से, पूरे सम्मान के साथ सुनना चाहिए।

आपकी बात अलग-अलग हो सकती है लेकिन कम से कम आपको उनकी बातें सुननी तो चाहिए। उनकी बात को समझने की कोशिश करें। आप उनकी बातों से असहमत हो सकते हैं लेकिन आपको उनका मजाक या अपमान नहीं करना चाहिए।

4. आप जो कहते हैं वो करके दिखाएं

यह बात हमेशा याद रखें, कोई भी बेईमान और अविश्वसनीय व्यक्ति को पसंद नहीं करता है। अगर आप चाहते हैं कि लोग आपकी इज्जत करें तो कभी भी किसी से झूठे वादें, झूठी बातें नहीं करें और जो आप कहते हैं उसे पूरा करें। अगर आप अपनी बात के पक्के हैं तो हर कोई आपकी इज्जत करेगा।

अगर आप लोगों से झूठ बोलते हैं तो कोई आपका सम्मान तो बड़ी बात हैं, एक पल के लिए भी विश्वास नहीं करेगा। इसलिए अपनी कही बातों पर खरे उतरें तभी लोग आपका आदर कर करेंगे वरना नहीं। अगर आप अपने वादे और निर्णय के पक्के हैं तो हर कोई आपकी इज्जत जरूर करेगा।

5. एक अच्छा श्रोता बनें

यदि आप चाहते हैं कि आप लोगों की नजरों में एक अच्छा इंसान बनें, एक ऐसा इंसान जिसकी सब इज्जत करें तो आपके अंदर एक खासियत जरूर होनी चाहिए। अगर आपके अंदर यह खासियत (लक्षण) हैं तो आपको यह शिकायत एकदम खत्म हो जाएगी कि लोग आपकी इज्जत नहीं करते हैं।

क्या आप जानते हैं कि वो खासियत क्या हैं? नहीं पता, दरअसल वो खूबी यह की आप एक अच्छे श्रोता बनो। लोगों की बातों को गौर से सुनने वाला। यह काम जितना आसान है उतना ही मुश्किल भी हैं। ज्यादातर लोग जब बातें कर रहे होते हैं तो उनका सारा ध्यान सामने वाले की बातों को सुनने से ज्यादा इस बात पर होता हैं की वे उनकी बात खत्म होने पर क्या कहेंगे।

उनका ध्यान लोगों की बातों पर बहुत कम होता हैं। सामने वाले की बातें सुनने के बजाय अपनी बातें कहने में लगे होते हैं। ऐसे में, अगर कोई अपनी बातों को आराम देकर उनकी बातों पर ध्यान देता हैं वो उनकी पसंद बन जाता हैं।

इसलिए अगर आप भी सामने वाले की बात को खत्म होने तक गौर से सुनने और समझने वाले बन जाते हो तो आप भी सामने वाले की पसंद बन सकते हैं। मतलब, अगर आप ध्यान से सुनने वाले बन गए तो हर कोई आपकी इज्जत करेगा और आपसे बात करना पसंद करेगा।

6. गलत को गलत कहने से नहीं डरें

ऊपर तीसरे पॉइंट्स के अनुसार, लोग आपकी इज्जत तभी करेंगे जब आप उन्हें इज्जत देंगे। लेकिन उन लोगों को भी इज्जत नहीं देनी चाहिए जो आपके साथ बुरा व्यवहार करें। इज्जत पाने के लिए कभी भी किसी का बुरा व्यवहार बर्दाश्त न करें। दूसरों का सम्मान करें लेकिन गलत व्यवहार करने पर आवाज उठाएं।

अगर कोई आपके साथ बुरा बर्ताव कर रहा हैं और आप खामोश हैं तो कोई भी आपकी इज्जत नहीं करेगा। अगर आपके अंदर गलत को गलत कहने की ताकत नहीं हैं तो आप कभी किसी से सम्मान नहीं पा सकते। यदि आप ऐसा करते हैं तो लोग आपको हल्के में लेना शुरू कर देंगे। इससे वे आपकी इज्जत तो नहीं करेंगे पर जब भी उनका दिल आपका अपमान करने के लिए करेगा वो आपको अपमानित करेंगे क्योंकि आप ही ने उन्हें यह छूट दी हैं।

इसलिए दूसरों को यह जरूर बताएं की आपकी क्या-क्या सीमाएं हैं, जो उन्हें पार नहीं करनी हैं। जिससे आप बात कर रहे हैं उसे यह भी पता होना चाहिए कि आपको किस तरह की और कौन-कौनसी बातें पसंद नहीं हैं। यह चीज लोगों को आपको ही बतानी होगी। कैसे, अपनी बातों से या अपने व्यवहार से।

7. अपने व्यक्तित्व (Personality) पर ध्यान दें

लोग आपको किस नजरिए से देखते हैं इसमें आपकी दिखावट सबसे ज्यादा मायने रखती हैं। इसलिए अगर आप चाहते हैं लोग आपकी respect करें तो आपको अपनी appearance पर जरूर ध्यान देना चाहिए। आपकी पोशाक आकर्षक और साफ़-सुथरी हों, खुद को stylish बनाएं, बातचीत करने का अंदाज अच्छा हो।

इसलिए अच्छी तरह से कपड़े पहने, अपने हर काम को अच्छे से किया करो। क्योंकि जितनी अच्छी आपकी ड्रेस होगी, जितना अच्छा आपका अंदाज होगा उतनी ही अच्छी आप लोगों में अपनी छवी बना पाएंगे और उसी हिसाब से लोग आपकी respect करेंगे। इसलिए अपनी personality को मन मोह लेने वाला अंदाज दें।

अंतिम विचार

हर व्यक्ति के जीवन में सम्मान महत्वपूर्ण हैं क्योंकि सम्मान वो गोंद है जो रिश्तों को जोड़े रखने का काम करती हैं। जब कोई हमें सम्मानित करता हैं तो हम भी दूसरों का सम्मान करना सीखते हैं।

कभी-कभी हम खुद को अपमानित महसूस करते हैं, किसी के मजाक उड़ाने से या किसी अन्य वजह से। हम दुखी रहते हैं। लेकिन इस आर्टिकल में सम्मान पाने के तरीके को आजमा के आप समाज में इज्जत, आदर और सम्मान पा सकते हैं।

यदि आप यहाँ बताए गए मान-सम्मान पाने के उपायों को अपने जीवन में ध्यान रखेंगे तो आपको हर तरह से सम्मान मिलेगा। लोग आपका आदर करेंगे आपको सम्मान देंगे।

यह भी पढ़ें:

अगर आपको How to get respect in Hindi की जानकारी उपयोगी लगे तो सोशल मीडिया पर शेयर करें।

Avatar for Jamshed Khan

मुझे लिखने का बहुत शौक है। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन और फेस्टिवल से रिलेटेड आर्टिकल लिखता हूँ।

Comments ( 4 )

  1. thanks for sharing such motivational ideas

    Reply
  2. nice writing.. sabse pehle apne aap ka samman kare.. tabhi aapki soch achhi banegi, aur phir hum society me improvement kar payenge.. bahut achhi jaankari thhi..

    Reply
  3. pahle to mere bhai kya look n feel hai aapke blog ka wakai bahut hi lajwab ,aur content simple aur satik ,dhanywad ,bro

    Reply
  4. Thank you! Sir, logon ke samne uncomfortable feel hota hai, badi badi aankhon se dekhte hain,jaise kabhi pahle nahin dekha.

    Reply

Leave a Comment

×