New Year Giveaway | Get OPPO Reno7 Pro 5G Mobile for FREE! (
)

अच्छे दोस्त और बुरे दोस्त के बीच क्या अंतर होता है ?

हमारे जीवन में एक दोस्त बहुत बड़ी भूमिका निभाता है। एक सच्चा दोस्त आपकी जिंदगी को खूबसूरत बना सकता है। अगर आप दोस्ती का असली सुख पाना चाहते है तो आपको एक अच्छा दोस्त चुनना होगा। अच्छा दोस्त चुनने के लिए आपको अच्छे और बुरे दोस्त में फर्क जानना होगा। इस पोस्ट में हम आपको सच्चे और झूठे दोस्त के बीच 10 अंतर बता रहे है जिनसे आप अच्छे और बुरे दोस्त को पहचान सकते हैं।

Achhe or Bure Dost Me Kya Antar Hota Hai

हमारी जिंदगी हमारी बचपन कि संगत पर काफी हद तक depend होती है। बचपन में हम हम जिस तरह के दोस्त बनांते है या जिस तरह के दोस्तों के साथ रहते है हमे वैसी ही आदत हो जाती है।

अगर आपको लाइफ में एक अच्छा और सच्चा दोस्त मिल जाये तो आपकी लाइफ ही अलग होगी। एक अच्छा दोस्त हमारा हर मुसीबत में साथ देता है और बुरा दोस्त सिर्फ अच्छे वक़्त में हमारे साथ रहता है।

इस पोस्ट में हम अच्छे दोस्त और बुरे दोस्त, सच्चे दोस्त और झूठे दोस्त के बारे में बता रहा है कि इन दोनों में क्या-क्या फर्क different होता हैं। Difference between good friend and bad friend in hindi.

Table of Contents

अच्छे दोस्त और बुरे दोस्त में 10 अंतर

सच्चे दोस्त और झूठे दोस्त में क्या फर्क होता है, अच्छा और बुरा दोस्त में क्या अंतर होता है, सच्चा दोस्त कैसा होता है, बुरे दोस्त को कैसे पहचानें, सच्चे दोस्त के 10 गुण, सच्चे दोस्त को कैसे पहचाने, सच्चे दोस्त की आदतें, ख़राब दोस्त को कैसे जाने, अच्छे और बुरे दोस्त में 10 अंतर, सच्चे मित्र को कैसे पहचानें।

Sachhe or jhuthe dost me kya antar hota hai, Sache mitra ki pehchan in hindi, Acche mitra ke gun, Sache dost ki pehchan kaise kare, Bure dost ko kaise pahchane, Achhe or bure dost me frak, Sachhe or jhuthe dost me farak.

सच्चा या अच्छा दोस्त कैसा होता है?

यहाँ मैं आपको सच्चे और झूठे दोस्त के बीच 10 अंतर बता रहा हूँ जिन्हें पढ़कर आप अच्छे और बुरे दोस्त की पहचान कर सकते है और ख़राब दोस्त से धोखा खाने से बच सकते है। आईये पहले अच्छे दोस्त के 10 गुण जानते हैं।

1. सच्चा दोस्त आपकी सफलता से जलता नहीं है

अच्छा दोस्त आपकी तरक्की और सफलता से कभी नहीं जलता है बल्कि आपको बधाई और जश्न मनाने के लिए कहता है। सच्चे दोस्त की सबसे बड़ी खाशियत वो आप पर विश्वास करता है। अच्छा दोस्त आप पर शक नहीं करता है। वह आपकी परवाह करता है।

2. अच्छा दोस्त आप जैसे है वैसे ही अपनाता है

एक अच्छा दोस्त आपके सुख शांति के समय के बजाय बुरे समय में आपका साथ देता है। वो आपकी छोटी परेशानी को भी बड़ी समझता है। वह व्यस्त होने पर भी समय निकालकर आपकी निस्वार्थ भाव से मदद करता है। सच्चे दोस्त आप जैसे है वैसे ही स्वीकार करता है।

3. सच्चा मित्र तब साथ देता है जब सब साथ छोड़ देते है

एक सच्चा दोस्त वो होता है जो तब हमारा साथ देता है जब हम साथ छोड़ देते है। जो तब साथ दे जब सब साथ छोड़ दें। वह आपकी मुसीबत में हाथ बंटाता है। सच्चे दोस्त के लिए हमेशा आपके लिए समय रहता है। वह आपके समय की कद्र करता है और आपको सम्मान देता है।

4. अच्छा दोस्त उस समय आपके साथ रहता है जब उसे कही और होना चाहिए था

एक सच्चा दोस्त वो है जो उस वक्त आपके साथ खड़ा है जब उसे कही और होना चाहिए था। वह आपसे व्यर्थ की बातें नहीं करता है। सच्चा मित्र आपसे अपनी समस्याओं के बारे में भी बात करता है। आप उससे अपनी कोई अच्छी बात या अपना राज छिपा नहीं पाते है।

5. सच्चा दोस्त आपको किसी की नजरों में या कदमों में गिरने नहीं देता है

सच्चे दोस्त आपको कभी गिरने नहीं देते, ना किसी की नजरों में और ना किसी के क़दमों में। आपका अच्छा दोस्त आपके सीक्रेट किसी को नहीं बताता है। सच्चा दोस्त खुद की खुशी के लिए आपको नीचा नहीं दिखाता है। वह आपसे झूठ नहीं बोलता है और विश्वासघात नहीं करता हैं।

6. सच्चा मित्र आपकी अच्छाई और बुराई दोनों बताता है।

अच्छा दोस्त वो होता है जो आपको आपकी अच्छाईयों और बुराइयों को बताता है। वह आपको बुराई की राह से बचाता है। आपका सच्चा मित्र वो होता है जो आप के साथ अकेले में बूरा बरताव करता है लेकिन लोगों के सामने आपसे अच्छा व्यवहार करता है।

7. सच्चा दोस्त आपके अंदर के दर्द को महसूस कर सकता है

एक सच्चा दोस्त वो होता है जो आपके अंदर छिपे दर्द और सच को भी देख ले। सच्चा दोस्त सिर्फ आपकी सही आदतों और बातों का गुणगान करता है। वह आपकी बातों को सुनता है। आप आपस में अपनी भावनाएँ बांटते है। वह अपनी खुशी में आपको शामिल करता है।

8. सच्चा दोस्त आपको कभी नीचा दिखाने की कोशिश नहीं करता है

एक अच्छा और सच्चा दोस्त कभी आपको नीचा दिखाने की कोशिश नहीं करता बल्कि आपको ऊपर उठने के लिए प्रेरित करता है। आपका सच्चा दोस्त निराशा के वक्त आपको हिम्मत और जोश देता है। वे आपकी तुलना खुद से नहीं करता है।

9. सच्चा दोस्त तब तक रास्ते में नहीं आता जब तक आप गलत रास्ते पर नहीं जाते है

एक अच्छा दोस्त आपके रास्ते में तब तक नहीं आता है जब तक आप किसी गलत रास्ते पर नहीं जाते है। आपका अच्छा दोस्त आपको बुरे कामों से बचाता है और आपको सत्य मार्ग पर ले जाता है। आप खुद ऐसा महसूस करते है की वो आपका सच्चा दोस्त है।

10. सच्चा दोस्त आपकी पीठ पीछे बुराई नहीं करता है

सच्चा दोस्त कभी भी पीठ पीछे आपकी बुराई नहीं करता है। आपका सच्चा और अच्छा दोस्त आपके दुःख और सुख दोनों में आपका साथ देता है। जब आप हतोत्साहित होते है तो आपकी उत्साहित करता है। आप उसके साथ खुशी महसूस करते है।

झूठा या बुरा दोस्त कैसा होता है?

एक बुरा और झूठा दोस्त सच्चे और अच्छे मित्र के बिलकुल विपरीत होता है। जहाँ सच्चा दोस्त आप पर सकारात्मक प्रभाव डालता है वहीँ बुरा और झूठा दोस्त आपको बुराई की और खींचता है और आप पर नकारात्मक विचारों को हावी करने की कोशिश है।

1. बुरा दोस्त आपकी कामयाबी से चिड़ता है

बुरा दोस्त आपकी तरक्की से झलता है। आपकी सफलता से अंदर ही अंदर जलता है लेकिन बाहर से झूठी हँसी का दिखावा करता है। वे आपकी तूलना खुद से करते है।

2. बुरा दोस्त आपको बदलने की कोशिश करता है

बुरा दोस्त आपको आपकी वर्तमान स्थिति में नहीं अपनाता है बल्कि आपको बदलने के लिए कहता है। बुरे दोस्त आपको अपने काबू में रखने में रखना चाहते है और आपको अपने हिसाब से बदलने की कोशिश करते हैं।

3. बुरे दोस्त आपका दिल दुखाते है

आपका दिल दुखाते है साथ ही आप पर अपना गुस्सा निकालते है। उन्हें आपके समय की कोई कद्र नहीं होती है वे आपका समय बर्बाद करने की कोशिश करते हैं। बुरे दोस्त की सबसे बड़ी पहचान, वे आपके अन्य दोस्तों को पसंद नहीं करते हैं।

4. बुरा मित्र आपके अच्छे समय में आपका साथ देता है

बुरे दोस्त आपके अच्छे समय में आपका साथ देते है, आपकी मदद करते है। लेकिन बुरे समय में वे आपका साथ बीच चौराहें पर छोड़ने में भी संकोच नहीं करते है। किसी ने सही कहा है की, इंसान का बुरा वक्त भी आना जरूरी है क्योंकि इसी से अपनों और परायों की पहचान होती हैं।

5. झूठा दोस्त आपकी पीठे पीछे बुराई करता है

झूठा दोस्त आपके सामने तो आपकी बढ़ाई करता है लेकिन आपकी पीठ पीछे आपकी बुराई करने में उसे बिलकुल शर्म नहीं आती है। बुरा दोस्त कभी भी आपको आपकी अच्छाईयों को नहीं बताता है। कभी-कभी गुस्से में वो आपसे आपकी बुराई करने लग जाता है।

6. बुरा दोस्त मतलबी होता है

बुरा मित्र निस्वार्थ आपकी मदद नहीं करता है। वो तभी आपकी सहायता करने के लिए तैयार होता है जब उसे आपसे कोई मतलब होता है। मतलब वो अपना काम सीधा करने के लिए मजबूरी में आपकी हेल्प करता है। वे अपने मतलब के लिए आपके साथ विश्वासघात कर सकते हैं।

7. बुरा मित्र विश्वास नहीं करता है, शक करता है

झूठा दोस्त आप पर ऊपर से विश्वास कर सकता है लेकिन वे कभी भी दिल से आपका विश्वास नहीं करते है। बुरा मित्र आप पर शक करता है। वो आपका इस्तेमाल करते है और आपसे झूठ बोलते हैं। वे आपको कभी आपसे पीछे या आपको साथ नहीं रखना चाहते है।

8.  बुरा दोस्त आपको नीचा दिखाने की कोशिश करता है

आपका बुरा दोस्त आपको नीचा दिखाने की कोशिश करता है जैसे कोई गलत काम करके उसका आरोप आप पर लगा देता है। इसकी शुरुवात वो छोटी-छोटी गलतियों से भी कर सकते है। वे अपनी गलती आप पर थोपने में जरा भी देरी नहीं करते है। बुरा मित्र हमेशा आपसे आगे रहना चाहता है।

9. बुरा दोस्त आपका सीक्रेट सबको बता देता है

बुरे दोस्त आपकी अच्छाइयों को कभी पब्लिक नहीं करना चाहते है। हाँ अगर आपका कोई ऐसा राज है जिसे आप किसी को नहीं बताना चाहते है या जिससे समझ में आपकी छवि ख़राब हो सकती है, उस सीक्रेट को लोगों को बताने में आपका कपटी दोस्त बड़ा आनंद महसूस करता है।

10. बुरा दोस्त आपको बुरी संगत और गलत राह पर ले जाता है

जब प्लेयर दो हो और अवार्ड एक तो धोखेबाज प्लेयर अपने साथी को किसी भी तरह से हराने की कोशिश करता है। वैसे ही बुरा दोस्त आपको बुरी संगत में फ़साने की कोशिश करता है और आपकी गलत रास्ते को सही रास्ते बताकर उस पर चलने के लिए उत्साहित करता है।

निष्कर्ष

एक अच्छा दोस्त आपको बुरी चीजें करने से रोकता है। बुरा दोस्त आपको अच्छे काम करने से रोकता है। अच्छा मित्र आपके अच्छे और बुरे दोनों समय में साथ देता है। जो कुछ भी करने में सक्षम है वो करता है और आपको आपकी कमजोरी को ताकत बताता है।

हमें आशा है की यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी साबित होगी क्योंकि इस पोस्ट में बताये गये अंतरों से आप सच्चे और झूठे दोस्त की पहचान कर सकते है। अपने दोस्त को पहचानना भी जरूरी है क्योंकि एक अच्छा दोस्त आपकी जिंदगी को स्वर्ग और एक बुरा दोस्त आपकी लाइफ को नर्क बना सकता हैं।

अगर आप इस पोस्ट की मदद से सच्चे और झूठे मित्र में पहचान कर सको तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें।

Avatar for Jamshed Khan

मुझे लिखने का बहुत शौक है। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन और फेस्टिवल से रिलेटेड आर्टिकल लिखता हूँ।

Comments ( 7 )

  1. Hello Sar mera Facebook band ho gaya hai chalu kar dijiye block ho gaye please sar

    Reply
  2. smi is true friend for all blogger

    Reply
  3. kya bat hai sir aapne bahut he sarlta ke sath eak achche dost or bure dost me differentiate kiya hai.

    Reply
  4. Bahut hi accha explain kiya aapne between good friend and bad friend

    Reply
  5. Aisa Hota Hai Ki Kabhi Kabhi Hum Kisi Ke Chehre Ke Pichhe Ki Asliyat Nahi Jaan Paate Hain...

    Shukriya Is Article Ko Share Karne Ke Liye...

    Reply
  6. Bhot hi sahi baat kahi hai bhai aapne , sab apni hi sochte h

    Reply
  7. Dost wo hote hai jo apke acche din aur bure din dono me apke sath de... sahi me bahut badiya pints hai thanks share karne ke liye

    Reply

Leave a Comment

×