New Year OFFER | Win OPPO Reno7 Pro 5G Mobile for FREE! (
)

सफल आदमी कैसे बने - अपनी मंजिल को पाने की 10 टिप्स

इस संसार में हर कोई कामयाब होना चाहता है। हर कोई बहुत ऊँचे ऊँचे सपने देखता है। हर कोई अपनी मंजिल तक पहुचना चाहता हैं। हर कोई यहाँ एक बहुत ही अच्छा इन्सान बनना चाहता है। हर कोई यहाँ एकदम अलग दिखना चाहता है मगर अपने इस जूनून को हर कोई हकीकत में नहीं बदल पाता क्यों? क्योकि हमें खुद पता नहीं होता की कौन सी छोटी-छोटी बाते हमें बड़ा बना सकती है तो आज मै यहाँ आपको वो छोटी छोटी बाते बताऊंगा जो आपको एक कामियाब इंसान के साथ साथ एक अच्छा और अनोखा महान इंसान बना सकती है।

safar se manzil tak

सफ़र से मंजिल तक” इन शब्दों को पढने से ही पता चलता है की सफ़र से मंजिल तक पहुचना एक बहुत बड़ा सफ़र होता है और इसमे हमें कितनी समस्याओ का सामना करना पड़ता है लेकिन ये इंसान की क्षमता पर भी निर्भर करता है की जिस सफ़र में हम दौड़ लगा रहे है तो हमारी भागने की क्षमता किया है।

क्युकी हम जितनी जल्दी और ज्यादा मेहनत करते है हम उतनी ही जल्दी अपनी मंजिल के करीब होते है मगर सिर्फ दौड़ लगाने से ही कुछ नहीं होता यहाँ जरुरत है आपको एक अच्छा और मेहनती इन्सान बनने की क्योंकि 3 Idiot में आमीर खान के वो शव्द तो याद होंगे ही “कामयाबी के पीछे मत दौड़ो बल्कि एक कामियाब इंसान बनो फिर देखना कामयाबी खुद आपके पीछे पीछे आयेगी।” हम जितनी ज्यादा मेहनत करते है मंजिल भी उतनी ही जल्दी हमारे करीब आती रहती है।

मंजिल को पाने के इस सफ़र में तब हमारी समस्याए हमें और भी बड़ी और डरावनी नजर आने लगती है जब हम हर समस्या को बहुत ही बड़ा मान कर उसका सामना करने की जगह उससे डरने लगते है जिस तरह से एक चिड़िया तिनके तिनके को जोड़ कर अपना घोसला बनाती है और अगर घोसला आंधी तूफ़ान से बिगड़ जाये तो वो हार नहीं मानती बल्कि फिर दोवारा प्रयास करती है और एक दिन उसका घोसला फिर से तैयार हो जाता है। इसी तरह आप भी हार मत मानिये और अपनी मंजिल को हर हाल में हासिल कीजिये अब आप हमारे ये टिप्स पढ़िए और खुद को एक कामयाब इंसान बनाइये।

सफल कैसे बने - अपनी मंजिल को पाने के लिए क्या करें

हर कोई एक सफल आदमी बनना चाहता है जिसे सारी दुनिया सलाम करे और उसका नाम अच्छे कामो में लिया जाये। राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी भी तो हमारे जैसे एक इंसान ही थे फिर क्यों दुनिया उन्हें याद करती हैं। क्या आप भी ऐसे ही अच्छे इंशान नहीं बनना चाहते अगर हां तो ये बाते ध्यान से पढ़े और इन पर अमल करें।

1. अपनी मंजिल का सही पता होना

सबसे पहले आपको ये पता होना चाहिए की आपकी मंजिल किया है जब आपको अपनी मंजिल का ही पता नहीं होगा तो सफ़र तय करना नामुमकिन है तो पहले आप ये तय करे की आपको करना किया है आपकी मंजिल किया है और अपनी मंजिल का सही रास्ता तलास करे और फिर अपना सफ़र तय करे।

2. मन को इधर उधर न भटकने दे

आपका लक्ष्य एक ही होना चाहिए और आपको अपना लक्ष्य बार बार बदलते नहीं रहना चाहिए अपना कोई भी एक लक्ष्य आपको एक ही बार में सही से सोच समझ के तय कर लेना चाहिए और उस लक्ष्य को पूरा करने के लिए आपको लगन से मेहनत करनी चाहिए। मुझे ये भी करना है, मुझे वो भी करना है या मै ये कर लेता या मुझे ये करना चाहिए था इन बातो से आपको दूर रहना होगा और आपका लक्ष्य चाहे जो भी हो आपके लिए आपका लक्ष्य सबसे महत्वपूर्ण होना चाहिए

3. अपने शिछक खुद बने

आपके अन्दर का चिंतन आपको यह बताने के लिए काफी है की आप कब गलत है और कब सही है जो लोग चिंतन मनन को अपने जीवन का हिस्सा बनाते है वो हर कदम सोच समझ कर उठाते है। आप दूसरो से राय लेने की बजाये अपने मन की सुने और खुद फैसला करे की आप क्या गलत और क्या सही कर रहे है। इसलिए अपनी कमियों का आकलन तो करे ही साथ ही अपने अंदर एक ऐसे शिक्षक को भी जन्म दे जो आपकी क्षमताओ को भी सराहे और आपको सही मार्गदर्शन दे।

आपकी सोच मजबूत होनी चाहिए एक समझदार इंसान वह है जो अपने गुजरे वक्त की गलतियों से सीखता तो है लेकिन अतीत के दर्द को खुद पर हाबी नहीं होने देता इसके लिए स्वंय को व्यस्त रखे और मानसिक तौर पर खुद को उस वक्त अकेला न छोडे और अपने सोचने का जरिया ये बनाये की जो हुआ बेहतर हुआ और वो गुजर चूका है आपकी यह सोच न सिर्फ सकारात्मकता को जन्म देती है बल्कि आपको वर्तमान के निर्णय लेने के काबिल बनाती है इसके अलावा डायरी मेंटेन करने की आदत भी आपके दिल के नकारात्मक बिचारो के बोझ को कम कर देती है और मन हल्का महसूस होता है ।

4. दूसरो की मदद करना

दुनिया में बहुत से ऐसे लोग है जिन्हें मदद की जरुरत है या जो दुखी है उनको अनेक समस्याए परेशान कर रही है अगर इस तरह के लोग आपको मिलते है तो आपको जितना हो सके उनसे बिना कुछ लिए उनकी मदद करनी चाहिए ऐसा करने से आपका मन प्रसन्न होगा और आप एक आत्मनिर्भर इंसान बनेंगे दूसरो की मदद करने से हमें एक अनमोल ख़ुशी मिलती है और हम खुद की नजर में एक अच्छे इंसान बन जाते है।

दूसरो का दर्द बाँटने से हमें ख़ुशी की प्राप्ति होती है और हम दुसरे लोगो को ख़ुशी देकर खुद के गम भूल जाते है और ऐसा लगता है जैसे हमने आज एक बहुत अच्छा और बड़ा काम किया है। हमारी यही आदत समाज में हमारी एक अच्छी पहचान बनाने के साथ साथ हमें एक अच्छा और कामियाब इन्सान बनाती है।

5. गुस्से पर काबू रखना

अगर हम जिंदगी  में सच में कुछ करना चाहते है तो सबसे पहले हमें खुद के गुस्से पर काबू रखना होगा क्योंकि गुस्सा एक ऐसी चीज है जो हमें अंदर ही अंदर ख़त्म तो करता ही है साथ ही हमें हमारी मंजिल तक जाने से भी रोकता है।

गुस्से में लिया गया फैसला हमेशा गलत होता है खुद पर गुस्सा करके हम खुद को धीरे धीरे ख़त्म तो करते ही है साथ ही अगर हम किसी और इंसान पर गुस्सा निकालते है और हम घर या घर से बाहर किसी पे गुस्सा करते है तो इस तरह समाज में हमारी छवि खराब होती है और हम ऐसा करके किसी का प्यार तो हासिल नहीं कर सकते मगर हाँ हम घर और समाज में लोगो की नफरत का शिकार जरूर हो जाते है।

एक अच्छा इन्सान बनने के लिए हमें सभी के साथ प्यार और मुहब्बत वाला व्यवहार बनाये रखना होगा और गुस्से को खुद पर हाबी नहीं होने देना है

6. खुश रहना है जरूरी

जीवन एक संघर्स है ये हम सभी जानते है तो हमें अपने संघर्स को लेकर इतना दुखी नहीं होना चाहिए जीवन अनमोल है तो दुखी होने से क्या फायदा , अच्छा होगा की आप जीवन की इस भाग दौड़ में खुद भी खुश रहे और दूसरो को भी खुश रखे जीवन का एक एक पल हमारे लिए बहुत अनमोल है इसका जीता जागता उदहारण के तोर पर आपने शाहरुख खान की मूवी " कल हो न हो" में देखा ही होगा इसलिए अपनी मंजिल तक पहुचने के लिए खुश रहना भी जरूरी है

क्योकि खुश रहने से हमारी सेहत पर भी काफी अच्छा असर पड़ता है हमारे खुश होने से हमारे आस पास के लोग भी खुश रहते है और ये आदत भी हमारे एक अच्छे इंसान होने में सहायक होती है।

7. नियमो का पालन करना न भूले

हम अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में बहुत व्यस्त रहते है समझ नहीं आता क्या करे और क्या न करे, कैसे करे तो आपके लिए जरूरी है के आप अपने सभी कामो की सूची बनाये और अपने घर के काम से लेकर पढाई और बाहर के काम तक का टाइम टेबल जरूर बनाये। फिर उसका नियम के साथ पालन करे इससे आपकी समस्या कम होगी साथ ही आप खुद को Relax महसूस करेंगे।

8. हमेशा दूसरो पर निर्भर न रहे

अपना हर काम खुद करे और हमेशा खुद पर निर्भर रहे दूसरो पर निर्भर रहने वाला इंसान हमेशा दूसरो के सहारे जीता है वो कभी खुद कुछ नहीं कर सकता। ऐसे इंसान के भविष्य का भी कोई पता नहीं होता है इसलिए हमेशा खुद पर निर्भर रहे और अपना हर काम खुद ही करे।

अगर आपके सामने कोई समस्या आ भी जाती है तो आप अपनी हर समस्या का खुद ही समाधान करे क्योंकि ज्यादातर समस्याए खुद इंसान अपनी गलतियों से बढाता है और उन समस्याओ का समाधान भी उसी इंसान के पास होता है  हर समस्या में उसका समाधान भी छुपा होता है तो हर समस्या को खुद ही सुलझाये और दुसरो पर निर्भर रहना छोड दे

9. पढाई करने का सही तरीका चुने

पढाई में सबसे जादा जरूरी है की आपके पढाई का टाइम टेबल। हर काम के लिए एक निश्चित समय जरूर बना हुआ होना चाहिए और पढाई नियम के अनुसार ही करे जो नियम आप ने बनाया है उसे प्रतिदिन प्रयोग करे। मगर हम पढाई तो कर रहे है और याद कुछ नहीं होता क्यों?

क्योकि हमें पढाई करने का सही तरीका पता नहीं होता किताबें लेकर रटने से कुछ नहीं होता अगर याद ही करना है तो उसका सही तरीका ये है की या तो आप किताबो की बात को समझने की कोशिश करे या उसे पढने के साथ साथ लिखने की आदत भी डाले। हमें कोई भी कहानी एक ही बार में याद हो जाती है क्योंकि हम उसे दिल और दिमाग से समझते हुए पढ़ते है

इसमे ऐसा क्यों है, कैसे है, क्या है और आगे किया होने वाला है ये सब हमे एक ही बार में समझ आ जाता हैं। इसी तरह किताबो में लिखी बातो को आप समझने की कोशिश करे इसमे क्या लिखा है किस बारे में दिया है रटने की जगह अगर आप समझने का प्रयास करते है तो अच्छे से याद होगा और पढने के साथ साथ अगर लिखते रहेंगे तो आपको और भी जल्दी और बढ़िया याद होगा।

साथ ही आपकी लिखने की Speed भी बढ़ेगी जो आपके लिए आने वाले दिनों में जैसे परीक्षाओ में फायदेमंद साबित होगी।

10. देखने का नजरिया बदले

किसी भी चीज को देखने का नजरिया बदले। जो लोग अच्छे होते है वो हमेशादूसरो में अच्छाई ही तलाश करते है और जो लोग बुरे होते है वो हमेशा दूसरो में सिर्फ बुराई ही तलाश करते है और आप तो बहुत अच्छे हो तो दुसरो की बुराई देखना छोड़ दे।

जब हमारा देखने का नजरिया अच्छा होता है तो हम अपने साथ साथ सभी का अच्छा ही सोचते है और हमारे इस व्यवहार का असर दूसरो पर भी पड़ता है जो समाज में एक नया बदलाव ला सकता है। हमारे देखने का नजरिया ऐसा होना चाहिए की हमें हमारी हर समस्या छोटी लगने लगे और हमें हमारी मंजिल करीब दिखाई दे, हमारी जिंदगी में हमारा देखने का नजरिया बहुत महत्वपूर्ण होता है।

ये हमारी नजर पर निर्भर होता है की हम किसी भी चीज या सामने वाले इंसान को किया समझ रहे है या हम अपनी जिंदगी को किस रूप में ढालना चाहते है अगर नजरिया अच्छा है तो संभव है की जिंदगी में हम खुद के साथ साथ दूसरो के साथ भी अच्छा कर सकते हैं।

सफ़र से मंजिल तक अगर हम इन बातो का ख्याल रखे तो मै उम्मीद करती हु की काफी हद तक आप अपनी मंजिल के करीब होंगे और समाज में हमारी एक अच्छी पहचान बनेगी। हर इंसान को उसके कर्म और मेहनत के हिसाब से ही फल मिलता है अगर कर्म अच्छे है तो फल भी अच्छा मिलेगा

इसीलिए जरूरी है के हम सबसे पहले एक अच्छे इंसान बने क्योंकि सफलता भी उन्ही के कदम चूमती है जो सभ्य लोग होते है जिनकी सोच अच्छी होती है।

जो हमेशा दुसरो का अच्छा सोचते है वही अपनी मंजिल को हासिल भी कर पाते है। झूठ और छल कपट से कुछ भी हासिल नहीं होता बल्कि हमारे पास जो होता है

हम उसे भी खो देते है और फिर हम उन्ही असभ्य लोगो की तरह बन जाते है जो कभी न तो खुद का अच्छा कर सकते है और न दूसरो को अच्छा करने देते है। इसी लिए जरूरी है की हम एक अच्छे इन्सान बने और अच्छी कामियाबी हासिल करे।

मुझे उम्मीद है की आपको ये पोस्ट पसंद आयेगी, अगर हाँ तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले।

Avatar for Jumedeen Khan

मैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी शेयर करता हूं। ❤️

Comments ( 11 )

  1. Thank you sir apka bahot sukriya

    Reply
  2. PositiveBate:

    शुक्र‍िया,धन्‍यवाद सर इतनी अच्‍छी पोस्‍ट के ल‍िये. वास्‍तव में आपके द्धारा बताये गये Tips और Tricks क‍ि‍सी की जिदगी को बदलने की क्षमता रखते है. मै आपसे बहुत कुछ सीखता हूँ. आप नि:स्‍वार्थ भाव से अपने दर्शको का मार्गदशन करते है.

    पॉंजिटव बातें

    Reply
  3. mera name Md Rehan alam hai mujhe ek safal insan banna mere under koi bhi ek laksh nahi mai kya karunga ki mai apne life mai aage baru mujh main problam ye hai ki mai zindgi ka koi ek magsad nahi bana pata hu

    Reply
    • नमाज पढ़ा करो, अल्लाह आपकी हर राह आसान कर देगा

      Reply
  4. hello sir mai bahut kafi motivation padh chuka hu lekin iska mujh par koi asar nahi hota jab tak mai motivation padhta hu tab tak hi motivate rah pata hu aur sir mere andar constaration power nahi hai negative thoughts ne mujhe gher rakha hai mai kitna hu prayas karta hu ye mere andar se jane ka nam hi nahi leti hai sir kripya mujhe koi aisa topic bataye jisse mai apni negative thoughts ko hamesa ke liye chhod du plese reply sir my question aapka agya kari shishya fardeen khan

    Reply
    • Aap har negativity me positive cheeze dhudhna shuru karo aur achhe logo se milna shuru karo jo positive thinking wale ho negative people ko avoid karo. Iska sabse bada ilza hai ki aap apne aap se wada kar lo ki aaj ke bad aal negative sochoge hi nahi aur fir us karke dikhao.

      Reply
  5. आपने बहुत ही अच्छा आर्टिकल लिखा है। एक इंसान कैसे अपनी जिंदगी में सफल हो सकता है। सफलता के आपने जो रास्ते बताए हैं,वह बहुत ही अच्छे हैं। जिसे पढ़कर प्रेरणा हीन(Demotivate) व्यक्ति अपने आप में प्रेरित(Motivate) हो सकता है।यदि कोई व्यक्ति दी हुई बातों पर अमल करता है,या अनुसरण करता है तो सफलता उससे दूर नहीं है। वह सफलता को अवश्य हासिल कर सकता है।

    Reply
  6. Hello sir mene aapke email par guest post send kar di aap check karke publish kar de. Or ek question hai mera feedbuner par sab setting sahi hai delivery option me India ki time set hai fir bhi feedbuner subscriber ko latest notification nahi jaa raha hai. Iske alwa koyi free email marketing hai

    Reply
    • Ok main post check karke aapko reply kar dunga. Please setup again right settings.

      Reply
  7. Aapne yeh badia article.likha hai, mene poora padha or mere ko bahut pasand aaya aap aise or article likhkar hme or accha mehsos kara sakte h

    Reply
  8. Beautiful Motivational Post

    Reply

Leave a Comment

×