बाल दिवस पर निबंध - Childrens Day Essay in Hindi

भारत में बाल दिवस हर साल 14 नवंबर को भारत के पहले प्रधान मंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की जयंती पर मनाया जाता है। यदि आप बाल दिवस के लिए निबंध की तलाश में है तो यहाँ हम विद्यार्थियों के लिए बाल दिवस पर निबंध प्रस्तुत करा रहे है। छात्र यहाँ से अपनी आवश्यकता और पसंद के अनुसार बाल दिवस निबंध का चयन कर सकते हैं। Best Essay on Bal Diwas in Hindi, Childrens Day Essay in Hindi.

Childrens Day Essay in Hindi

1964 में नेहरू की मृत्यु के बाद, उनके जन्म दिवस, 14 नवंबर को बाल दिवस के रूप में मनाने का प्रस्ताव पारित किया गया था ताकि उन्हें सम्मानित किया जा सके और बच्चों के बीच उनकी लोकप्रियता को भी बढ़ाया जा सके।

यदि आपने बाल दिवस निबंध लेकिन प्रतियोगिता में भाग लिया है तो आप यहाँ से अपनी पसंद और आवश्यकता के अनुसार निबंध चुन सकते है और आप इन निबंधों का इस्तेमाल अपने स्कूल, कॉलेज में बाल दिवस के अवसर पर भी कर सकते हैं।

साथ ही बाल दिवस निबंध के माध्यम से आपको पता चल जाएगा कि बाल दिवस कब और क्यों मनाया जाता है। स्कूलों और कॉलेजों में बाल दिवस कैसे मनाया जाता है।

बाल दिवस पर निबंध - Childrens Day Essay in Hindi, Bal Diwas 14 November Essay in Hindi

हैप्पी बाल दिवस 2022 निबंध इन हिंदी, विद्यार्थियों के लिए बाल दिवस पर निबंध, बाल दिवस के लिए निबंध, बच्चों के लिए बाल दिवस पर आसान और सरल निबंध, चिल्ड्रेन डे हिंदी निबंध, छात्रों के लिए बाल दिवस निबंध, 14 नवंबर पर निबंध, जवाहरलाल के जन्मदिन पर निबंध, चाचा नेहरू पर निबंध हिंदी में।

Happy Children's day 2022 essay and speech in hindi language for students and children, Best essay on bal diwas in hindi, Short and simple/ sample essay on children day in hindi, chacha nehru par nibandh, 14 November essay in hindi, Bal diwas par nibandh hindi mein. Bal diwas ke liye nibandh in hindi.

Essay on Children's Day in Hindi

भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू का जन्मदिन है 14 नवंबर को। इस दिन को बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है, क्योंकि नेहरूजी को बच्चों से बहुत प्यार और लगाव था और बच्चे उन्हें "चाचा नेहरू के नाम से पुकारते थे।

बाल दिवस बच्चों को समर्पित भारत का राष्ट्रीय त्योहार है। देश की आजादी में भी नेहरू का अहम योगदान था और प्रधानमंत्री के रूप में भी उन्होंने देश का अच्छा मार्गदर्शन किया था।

बच्चों के कल्याण पर विश्व कॉन्फ्रेंस में बाल दिवस मनाने की सर्वेप्रथम घोषणा हुई थी। बाल दिवस की नींव 1925 में में रखी गई थी और 1954 में इसे मान्यता मिली।

बाल दिवस बच्चों के लिए बहुत महत्वपूर्ण दिन है। इस दिन सभी बच्चे खुश दिखाई देते है। विद्यालयों में बच्चे विशेष कार्यक्रम आयोजित करते है। अपने प्यारे चाचा नेहरू को प्रेम से स्मरण करते है।

बाल मेले लगाये जाते है। बच्चे अपनी कला का प्रदर्शन करते है। लोगों को शिक्षा का महत्त्व बताया जाता है। बाल दिवस के अवसर पर सरकार बच्चों के भविष्य के लिए कई कार्यक्रमों की घोषणा करती है।

बच्चों के रहन-सहन का स्तर ऊँचा उठाना हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए। बच्चों को स्वस्थ और योग्य नागरिक बनाने का प्रयास करना चाहिए।

यही बाल दिवस (Children's Day) का उद्देश्य है।

Childrens Day 14 November Essay in Hindi

भारतीय बच्चों के लिए 14 नवंबर एक विशेष दिन है। यह दिन भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू का जन्मदिन है। नेहरूजी बच्चों से बहुत प्रेम करते थे और बच्चे भी उन्हें प्यार से "चाचा नेहरू" के नाम से पुकारते थे।

इसलिए नेहरू का जन्मदिवस 14 नवंबर हर साल पुरे भारत में बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है। यह तो आप जानते ही है की बच्चे किसी भी देश का भविष्य होते है। अगर हम बच्चों का भविष्य अच्छा बनाने में प्रयत्नशील कार्य करेंगे तो ही देश का भविष्य उज्ज्वल होगा।

यह बाल दिवस और आने वाले अनेक बाल दिवस सभी का ध्यान इस ओर आकर्षित करते रहेंगे कि इस शुभ काम को सफल बनाने के लिए हमें पूरी लगन से काम करना होगा।

बच्चों का भविष्य उज्ज्वल बनाने के लिए सबसे पहला योगदान माँ-बाप का है। माता-पिता से बच्चों को सही देखभाल और प्यार मिलना चाहिए। बच्चों के स्वास्थ्य की जिम्मेदारी भी माँ-बाप की है।

यदि आपको यहाँ दिए गए निबंध पसंद आए तो आप इनका इस्तेमाल करके बाल दिवस पर एक शानदार निबंध लिख सकते है।

यह भी पढ़ें:

साथ ही आप इन Childrens Day Essay (हिंदी) को सोशल मीडिया पर शेयर भी कर सकते है ताकि कोई और विद्यार्थी की भी मदद हो जाए।

Avatar for Jamshed Khan

मुझे लिखने का बहुत शौक है। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन और फेस्टिवल से रिलेटेड आर्टिकल लिखता हूँ।

Leave a Comment

×