New Year OFFER | Win OPPO Reno7 Pro 5G Mobile for FREE! (
)

दुनिया की 10 सबसे प्राचीन भाषाएँ कौन-कौनसी है?

एक अनुमान के अनुसार पृथ्वी पर 6,900 से अधिक भाषाएं बोली जाती हैं। शायद इसके बारे में आपको पता भी होगा, लेकिन क्या आपको पता है कि विश्व की 10 सबसे प्राचीन भाषाएं कौन सी है? अगर नहीं तो इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप दुनिया की 10 सबसे प्राचीन भाषाओं के बारे में जान जाएंगे, क्योंकि इस आर्टिकल में हम उत्पत्ति के अनुसार संसार की 10 सबसे पुरानी भाषाओं के बारे में बता रहे हैं। दुनिया की 10 सबसे प्राचीन भाषाएं - 10 Oldest Languages of the World in Hindi.

दुनिया की सबसे प्राचीन

हम अक्सर अपनी भाषा को, विशेषकर अंग्रेजी को सबसे प्राचीन मानते हैं क्योंकि यह दुनिया की सबसे ज्यादा पॉपुलर भाषा है। लेकिन ऐसा नहीं है।

ऐसी कई भाषाएं हैं, जिन्हें हम हजारों वर्षों से ट्रेस कर सकते हैं। दुनिया भर में 6900 भाषाएं बोली जाती हैं लेकिन इनमें से 90 फ़ीसदी भाषाओं को बोलने वाली की संख्या 1 लाख से भी कम है।

लगभग 150-200 भाषाएं ऐसी हैं जो 10 लाख से अधिक लोगों द्वारा बोली जाती है जबकि 357 भाषाएं ऐसी हैं जिनको सिर्फ 50 लोग ही बोलते हैं और सिर्फ 46 भाषा ऐसी है जिनको बोलने वाले की संख्या सिर्फ 1 है।

अब सवाल यह उठता है कि इनमें से विश्व की सबसे प्राचीन भाषा कौन कौन हैं? कौन सी भाषा सबसे प्राचीन है? जब हम आपको विश्व की 10 सबसे प्राचीन भाषाओं का विवरण दे रहे हैं।

विश्व की 10 सबसे दुनिया की सबसे प्राचीन भाषाएं

भाषाविदो ने सबसे प्राचीन लिखित भाषा का शोध किया और उनकी खोज की और पता लगाया कि विश्व की सबसे पुरानी भाषा कौन सी है। विश्व की 10 सबसे पुरानी भाषा में निम्न प्रकार है।

1. संस्कृत (Sanskrit)

संस्कृत प्राचीन भारतीय भाषा है। संस्कृत भाषा को देव भाषा कहा जाता है। संस्कृत भाषा ईसा से 5000 साल पहले बोली जाती थी। दुनियाभर के तमाम विश्वविद्यालयों एवं शिक्षण संस्थान संस्कृत को सबसे प्राचीन भाषा मानते।

संस्कृत भाषा दुनिया की सबसे प्राचीन भाषा है। वर्तमान समय में संस्कृत बोलचाल में ना के बराबर उपयोग होती है लेकिन पूजा पाठ एवं कर्मकांड में आज भी इस भाषा का उपयोग किया जाता है।

2. तमिल (Tamil)

तमिल भाषा को दुनिया की सबसे पुरानी भाषा के तौर पर मान्यता मिली हुई है, यह द्रविड़ परिवार की सबसे प्राचीन भाषा है। तमिल भाषा को संस्कृत भाषा से भी पुरानी भाषा माना जाता है। यह करीबन 5,000 साल पहले उपयोग में थी।

एक सर्वे के मुताबिक प्रतिदिन तमिल भाषा में 1863 अखबार प्रकाशित होते हैं और वर्तमान में तमिल भाषा बोलने वालों की संख्या लगभग 8 करोड है। वर्तमान समय में यह सिर्फ भारत, श्रीलंका, सिंगापुर और मलेशिया में ही बोली जाती है।

3. लैटिन (Latin)

लैटिन प्राचीन रोमन साम्राज्य प्राचीन रोमन धर्म की राजभाषा थी। संस्कृत की ही तरह यह भाषा भी एक शास्त्रीय भाषा है। इसी से फ्रांसीसी, इतालवी, स्पेनिश, रोमानियाई, पुर्तगाली और वर्तमान की सबसे ज्यादा पॉपुलर भाषा अंग्रेजी का उद्गम हुआ है।

वर्तमान समय में यह रोमन कैथोलिक चर्च की धर्म भाषा और वेटिकन सिटी की राजभाषा है। यूरोप में ईसाई धर्म के प्रभुत्व की वजह से मध्ययुगीन और पूर्व- आधुनिक कालो में लेटिन भाषा लगभग सारे यूरोप की अंतरराष्ट्रीय भाषा थी।

4. मिस्र (Egyptian)

विश्व को दुनिया की सबसे प्राचीन सभ्यताओं में से एक माना जाता है। इजिप्टियन बादशाह मिस्र की सबसे प्राचीन भाषा है। यह भाषा एफ्रो-एशियाई भाषाई परिवार से हैं।

यह भाषा लगभग 3400 ईसा पूर्व बोली जाती थी। अभी भी यह भाषा अपने स्वरूप को मिस्र में जीवित बनाए हुए हैं। हालांकि मुट्ठी भर लोग ही आज इस भाषा का इस्तेमाल करते हैं।

5. हिब्रू (Hebrew)

हिब्रू भाषा लगभग 3000 साल पुरानी है। यहूदियों की प्रचलित भाषा थी, वर्तमान समय में यह इजराइल की राजभाषा है। यह विलुप्त आने वाली थी लेकिन इजराइली लोगों ने इसे फिर से जिंदा किया।

यहूदी समुदाय से "पवित्र भाषा" के रूप में मानता है और बाइबल का पुराना नियम इसी में लिखा गया है। यह भाषा इब्रानी लिपि में लिखी जाती है, जुदाई सिपाही और पढ़ी जाती है।

6. ग्रीक (Greek)

ग्रीक भाषा यूरोप की सबसे पुरानी भाषा है, जो 1450 ईसा पूर्व बोली जाती थी। ग्रीक भाषा ग्रीस, अल्बानिया और साइप्रस में बोली जाती थी। लगभग 15 मिलियन से अधिक लोग इस भाषा का उपयोग करते थे।

वर्तमान समय में ग्रीक भाषा को बोलने वाले लोग ग्रीस, अल्बानिया और साइप्रस के अलावा संयुक्त राज्य अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों में भी हैं।

7. चीनी भाषा

चीनी भाषा संसार में सबसे अधिक बोले जाने वाली भाषा है। यह भाषा चीन एवं पूर्वी एशिया के देश में बोली जाती है। चीनी भाषा चीनी तिब्बत परिवार से आती है, यह वास्तव में कई भाषाओं और बोलियों का समूह है।

मानकीकृत चीनी भाषा असल में एक "मंदारिन" नामक भाषा है। यह भाषा ईसा के आगमन से भी लगभग 1200 साल पुरानी है। मौजूदा समय में लगभग 1.2 बिलियन लोग चीनी भाषा बोलते हैं।

8. अरेमिक (Aramaic)

अरेमिक भाषा आज हिब्रू और अरबी भाषाओं में मिल चुकी है। आमतौर पर इसे बाइबिल की भाषा के रूप में जाना जाता है। विद्वानों का मानना है कि यह बाशा प्रभु यीशु और उसके शिष्यों द्वारा बोले जाने वाली भाषा है।

हालांकि अब यह भाषा विलुप्त होने के कगार पर है क्योंकि इसे बोलने वाले अधिकांश लोग सेवानिवृत्ति की आयु के हैं। आज भी इराक, ईरान, सीरिया, इजराइल और लेबनान में कुछ लोगों द्वारा ही यह भाषा बोली जाती है।

9. फारसी (Farsi)

फारसी आधुनिक काल में ईरान, अफगानिस्तान और तजाकिस्तान में बोले जाने वाली प्रचलित भाषा है। हर्षित पुरानी फारसी भाषा का प्रत्यक्ष वंशज है, जो फारसी साम्राज्य की अधिकारिक भाषा थी।

आधुनिक फारसी भाषा 800 सीई के समय बोली जाती थी और तब से अब तक यह काफी बदल गई है। शेक्सपियर के समय से एक अंग्रेजी वक्ता की तुलना में अंग्रेजी वक्ता को पत्नी की तुलना में इसे अपेक्षाकृत कम कठिनाइयों के साथ पढ़ सकते हैं।

10. अरबी (Arabic)

300 के दशक के शुरुआती दिनों में अरबी भाषा का पता लगाया जा सकता है। मतलब उस समय पुरानी अरबी भाषा बोली जाती थी। इसका पता ने नमारा शिलालेख से चलता है, जिसे 1901 में खोजा गया था।

यह भाषा अरब देश और एशिया, अफ्रीका और यूरोप के कुछ हिस्से में बोली जाती हैं वाली भाषा थी। आज भी यह भाषा प्रचलित है उसे बोलने वाले और पढ़ने लिखने वाले लोग बहुत हैं।

निष्कर्ष,

यह थी दुनिया की 10 सबसे प्राचीन भाषाएं जो विश्व में सबसे पहले बोली जाती थी। इनके अलावा और भी कई सारी भाषण जिन्हें Oldest Languages की List में शामिल किया गया है।

सबसे पुरानी लिखित भाषा सुमेरियन भाषा को माना जाता है, यह 3500 ईसा पूर्व की है लेकिन इसको बोले जाने का समय सिर्फ 2000 साल ही है।

ये भी पढ़ें,

अगर आपको यह प्राचीन भाषाएं की जानकारी अच्छी लगे तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

Avatar for Jumedeen Khan

मैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी शेयर करता हूं। ❤️

Comments ( 1 )

  1. bahut hi helpfull post hai

    Reply

Leave a Comment

×