मोबाइल वॉलेट क्या है और ये कैसे काम करता है?

मोबाइल वॉलेट क्या है? (What is Mobile Wallet in Hindi): क्या आप जानते हैं कि मोबाइल वॉलेट क्या होता है? अधिकतर स्मार्टफोन यूजर मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल करते हैं। इस पोस्ट में हम आपको मोबाइल वॉलेट क्या है, मोबाइल वॉलेट का उपयोग कैसे करें, मोबाइल वॉलेट काम कैसे करता है, मोबाइल वॉलेट कितने प्रकार का होता है, मोबाइल वॉलेट के फायदे और नुकसान के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे हैं। Mobile Wallet Kya Hai? - What is Mobile Wallet and How it Work in Hindi.

What is Mobile Wallet in Hindi

आजकल सभी लोग स्मार्टफोन इस्तेमाल करते हैं। उनमें से अधिकतर लोग मोबाइल वॉलेट का उपयोग भी करते हैं। कोई फोन रिचार्ज के लिए करता है तो कोई बिल पे करने के लिए।

मोबाइल वॉलेट भी अब लोगों की जिंदगी का अहम हिस्सा बन गया है। क्योंकि इसने हमारी बहुत सी cash problems को खत्म कर दिया है। हम कई जगह पर mobile wallet से pay कर सकते हैं।

आज बाजार में आप लगभग हर तरह के प्रोडक्ट को मोबाइल वैलेट के द्वारा भुगतान कर सकते हो। जिसमें ग्लोबल से लेकर भारतीय, टेक कंपनी से लेकर टेलीकॉम प्लेयर तक शामिल है।

Mobile wallet service ने Cashless India में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। मोबाइल वैलेट सेवा ने आज के युग को बदल कर रख दिया है और एक नए कैशलेस सोसाइटी का निर्माण किया है।

आइए जानते हैं मोबाइल वॉलेट क्या है और यह काम किस प्रकार से करता है।

मोबाइल वॉलेट क्या है? (What is Mobile Wallet in Hindi)

मोबाइल वॉलेट एक प्रकार की भुगतान सेवा है, जिसके माध्यम से व्यक्ति व्यवसाय और मोबाइल उपकरणों के जरिए धन प्राप्त कर सकता है और भेज सकता है।

मोबाइल वैलेट को मोबाइल मनी और मोबाइल मनी ट्रांसफर के नाम से भी जाना जाता है।

यह ई-कॉमर्स मॉडल का ही एक रूप है जिसे मोबाइल उपकरणों के साथ उनकी सुविधा और आसानी से पहुंच के कारण उपयोग करने के लिए डिजाइन किया गया है।

साधारण शब्दों में कह तो मोबाइल वैलेट मोबाइल में खोले जाने वाले बैंक खाते के समान है। जिसमें पैसे डिजिटल मनी के तौर पर स्टोर किए जाते हैं। ये साधारण बैंक खाते की तरह वर्चुअल खाता होता है।

सिर्फ आकार बैंक हमारे डाक्यूमेंट्स को आधार बनाकर लेन-देन करता है, उसी प्रकार से मोबाइल वह लिस्ट उपयोगकर्ता के मोबाइल नंबर को आधार बनाकर transaction करता है।

उदाहरण के लिए, अगर आप किसी रेस्टोरेंट में जाते हैं, कपड़े की दुकान से कपड़े खरीदते हैं यह बाजार से कोई भी सामान खरीदते हैं तो आप उसका भुगतान मोबाइल वैलेट के जरिए कर सकते हो।

लेकिन यह तभी मुमकिन हो सकता है जब आपके द्वारा खरीदे गए सामान वाली दुकान पर मोबाइल वॉलेट सर्विस प्रोवाइड होती हो, आप app, website द्वारा payment कर सकते हो।

मोबाइल वॉलेट कैसे काम करता है?

मोबाइल वॉलेट एक खाते से दूसरे खाते में पैसा ट्रांसफर करने के सरल सिद्धांत पर काम करता है। इसके लिए लेने वाले और देने वाले दोनों उपयोगकर्ताओं के पास मोबाइल वॉलेट खाता होना चाहिए।

जैसा कि हमने ऊपर बताया मोबाइल वॉलेट एक वर्चुअल खाता होता है जिसमें आपको बैंक अकाउंट, डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड के जरिए पैसे डालने होते हैं। आप अपने हिसाब से मोबाइल वॉलेट में Money Add कर सकते हैं।

उसके बाद आप जब भी कोई प्रोडक्ट खरीदते हो तो और प्रोडक्ट कंपनी mobile wallet payment accept करती है तो आप मोबाइल वॉलेट में जोड़े गए पैसे से भुगतान कर सकते हो।

 

How Mobile Wallet Work in Hindi

मोबाइल वॉलेट में पैसा जमा करने के बाद आप क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने के बजाएं अपने मोबाइल, टेबलेट और स्मार्ट वॉच के जरिए भुगतान कर सकते हो।

मोबाइल वॉलेट प्रीपेड और पोस्टपेड दोनों तरीके का होता है। प्रीपेड वॉलेट को रिचार्ज करने की जरूरत होती है, ताकि उस पैसे का इस्तेमाल आप Online Payment करने के लिए कर सकें।

जबकि पोस्टपेड वॉलेट में सीधे आपके बैंक अकाउंट से पैसे कटते हैं। जैसे जैसे आप अपने वॉलेट से खर्च करते जाएंगे, वैसे वैसे आपके बैंक अकाउंट से पैसे कटते जाएंगे।

मोबाइल वॉलेट कितने प्रकार का होता है?

मोबाइल वॉलेट एक से ज्यादा प्रकार के होते हैं। भारत में तीन प्रकार के मोबाइल वॉलेट उपलब्ध है।

1. ओपन वॉलेट (Open Wallet)

इस प्रकार के वॉलेट में खरीददारी के साथ साथ नकदी निकालने की सुविधा भी होती है। यानि कि इस प्रकार के मोबाइल वॉलेट के जरिए आप एटीएम और अन्य माध्यम से पैसा निकाल सकते हैं।

उदाहरण के लिए, वोडाफोन का m-pesa

2. सेमी क्लोज्ड वॉलेट (Semi Closed Wallet)

सेमी क्लोज्ड मोबाइल वॉलेट के तहत आप ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते हैं और कोई भी सर्विस ले सकते हैं। लेकिन आप इससे कैश नहीं निकाल सकते हैं।

उदाहरण के लिए, पेटीएम

3. क्लोज्ड वॉलेट (Closed Wallet)

इस वॉलेट में ऑर्डर के कैंसिल होने पर व्यापारी या दुकानदार के पास पैसा लॉक्ड रहता है। यानी जब सेवा प्रदाता अपनी कंपनी की सेवाओं के लिए उपयोगकर्ता के वॉलेट में कुछ राशि डालती है तो उस पैसे का इस्तेमाल सिर्फ उस कंपनी के प्रोडक्ट बाय करने में ही खर्च किया जा सकता है।

उदाहरण के लिए, फ्लिपकार्ट, स्नैपडील और अमेजन

मोबाइल वॉलेट का उपयोग कैसे करते हैं?

मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले आपको उस वॉलेट में अपना अकाउंट बनाना होगा। उसके बाद आपको अपने मोबाइल वॉलेट में अपने Bank Account, Debit Card या Credit Card के जरिए पैसा जमा करना होगा।

मोबाइल वॉलेट में बैलेंस ऐड करने के बाद आप अपने मोबाइल वॉलेट से खरीददारी या अन्य सेवाओं का भुगतान कर सकते हैं।

आपको सिर्फ ये 3 काम करने हैं।

  1. सबसे पहले आप उस वॉलेट में Register करें।
  2. उसके बाद अपने बैंक अकाउंट में क्रेडिट कार्ड के जरिए उसमें बैलेंस सेट करें।
  3. Balance add करने के बाद आप भुगतान करना शुरू कर सकते हैं।

अगर आपको मोबाइल वॉलेट का उपयोग करने की स्टेप बाय स्टेप विद स्क्रीनशॉट जानकारी चाहिए तो आप यह पोस्ट पढ़ें,

इस आर्टिकल में हमने PayTM Wallet का इस्तेमाल करने के बारे में पूरी जानकारी डिटेल से बताएं हुई है।

आप मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल रूपए पैसे के लेनदेन, शॉपिंग करने, ऑनलाइन शॉपिंग करने या कोई भी सामान खरीदने के लिए कर सकते हो।

बहुत सी कंपनियां कैशबैक ऑफर भी देती हैं, आप उनके द्वारा खरीदारी करके पैसों की बचत भी कर सकते हैं।

लेकिन मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल करने से पहले आपको कुछ बातों का ख्याल रखना जरूरी होता है। उसके लिए आप यह पोस्ट पढ़ें,

इस पोस्ट में हमने मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल करते समय ध्यान रखने योग्य बातें बताई है। जिनको पढ़कर आप मोबाइल वॉलेट के नुकसान से बच सकते हैं।

मोबाइल वॉलेट के फायदे और नुकसान

मोबाइल वॉलेट के कई सारे फायदे हैं तो कुछ नुकसान भी हैं। चलिए मैं आपको मोबाइल वॉलेट के क्या-क्या फायदे हैं और क्या क्या नुकसान है के बारे में भी बता देता हूं।

मोबाइल वॉलेट के फायदे:

  • पर्स यानी वॉलेट खो सकता है, या फिर आपकी जेब को भी काटा जा सकता है। लेकिन मोबाइल वॉलेट ना तो चोरी हो सकता है ना ही खो सकता है।
  • मोबाइल वॉलेट में भी पर्स की तरह आप अपनी जरूरत के हिसाब से पैसा रख सकते हैं। इससे फायदा यह होता है कि आपको अपने बैंक अकाउंट, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड की जानकारी को सार्वजनिक नहीं करना पड़ता है।
  • मोबाइल वॉलेट में सिर्फ जरूरत के हिसाब से पैसे रख सकते हैं। यानी कि अगर कोई आपके मोबाइल वॉलेट को एक्सेस  भी कर ले तो आपके बैंक अकाउंट का पैसा सुरक्षित रहेगा।
  • मैनुअल पर्स से पेमेंट करते वक्त खुले पैसों की दिक्कत आ सकती है। लेकिन मोबाइल वॉलेट से आप कितने भी पैसों का आसानी से भुगतान कर सकते हैं।
  • मोबाइल वॉलेट होने पर हमेशा ढेर सारा कैश साथ लेने की जरूरत नहीं पड़ती है। साथ ही हर बार अपने साथ एटीएम कार्ड ले जाने की समस्या भी खत्म हो जाती है।
  • जो लोग बार-बार अपने साथ एटीएम कार्ड ले जाना भूल जाते हैं। उनके लिए मोबाइल वॉलेट भुगतान करने का एक बहुत ही अच्छा तरीका है।

मोबाइल वॉलेट के नुकसान:

मोबाइल वॉलेट के क्या क्या नुकसान है? आइए जानते हैं मोबाइल वॉलेट के नुकसान कौन-कौन से हैं।

  • सबसे पहले मोबाइल वॉलेट सेवा के लिए तेज इंटरनेट सेवा की जरूरत होती है।
  • मोबाइल वॉलेट सेवा उन्हीं लोगों के लिए बेहतर है जो टेक्नोलॉजी फ्रेंडली हैं।
  • जानकारी के अभाव में बहुत कम व्यापारी और लोग इसका इस्तेमाल कर पाते हैं।
  • मोबाइल वॉलेट में प्रतिदिन के हिसाब से पैसे डिपाजिट करने और खर्च करने की सीमा होती है।

भारत में सबसे ज्यादा पेटीएम वॉलेट उपयोग किया जाता है। मैं भी ज्यादातर PayTM Wallet का इस्तेमाल करता हूं। आप भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

निष्कर्ष,

तो अब आप समझ गए होंगे कि मोबाइल वॉलेट क्या है, मोबाइल वॉलेट का उपयोग कैसे करें, मोबाइल वॉलेट काम कैसे करता है, मोबाइल वॉलेट कितने प्रकार का होता है, मोबाइल वॉलेट के क्या-क्या फायदे हैं, मोबाइल वॉलेट के क्या क्या नुकसान है?

हमें उम्मीद है कि Digital Wallet की इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको मोबाइल वॉलेट के बारे में सबकुछ मालूम हो गया होगा। अगर अभी भी आपको मोबाइल वॉलेट के बारे में कोई चीज समझ नहीं आ रही है तो आप कमेंट सेक्शन में अपना सवाल पूछ सकते हैं।

ये भी पढ़ें,

अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

Avatar for Jumedeen Khan

मैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी शेयर करता हूं। ❤️

Comments ( 1 )

  1. Nice post ...... support me india India's no.1 blog.

    Reply

Leave a Comment

×