दिवाली से जुड़े 29 रोचक तथ्य - Diwali Interesting Facts

दिवाली जिसे दीपावली और दिवली के रूप में भी जाना जाता है। यह भारत में एक महत्वपूर्ण त्योहार है जो मुख्य रूप से हिन्दुओं द्वारा मनाया जाता है। आज हम आपको दिवाली से जुड़े कुछ रोचक तथ्य बताने वाले है जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए। आईये पढ़ते है, दीपवाली से जुड़े कुछ रोचक तथ्य। 29 Diwali Interesting Facts in Hindi.

Diwali Interesting Facts in Hindi

इसे प्रकाश का पर्व के रूप में जाना जाता है और यह अंधकार पर प्रकाश और बुराई पर अच्छाई का प्रतीक है। हर साल, इस त्योहार की तारीख हिंदू चंद्र कैलेंडर द्वारा गणना की जाती है। यह 2022 में 4 नवंबर को मनाया जाएगा।

अगर आपको दिवाली पर निबंध चाहिए तो ये "छात्रों के लिए दिवाली पर हिंदी निबंध" पढ़ें और दिवाली पर शायरी चाहिए तो निचे वाली पोस्ट पढ़ें।

यदि आप दिवाली के बारे में कुछ मजेदार तथ्य पढ़ने आये है तो आईये पढ़ते है, दिवाली के बारे में 29 इंटरेस्टिंग फैक्ट्स हिंदी में। Diwali Interesting Facts in Hindi.

दिवाली के बारे में 29 रोचक तथ्य - Diwali Interesting Facts in Hindi

दीपावाली, दिवाली के बारे में रोचक तथ्य, दिलचस्प बातें, मजेदार तथ्य, इंटरेस्टिंग फैक्ट्स हिंदी में, दिवाली से जुड़े रोचक फैक्ट्स, दिवाली की रोचक जानकारी हिंदी में।

Diwali interesting facts in hindi, Interesting facts about diwali 2022 in hindi, Diwali ke bare me rochak tathya, Diwali amazing facts in hindi.

29 Diwali Interesting Facts in Hindi:

1. दिवाली हिंदू कैलेंडर के कार्तिक माह के १५ वें दिन मनाई जाती है। हिंदू धर्म भारत का एक प्रमुख धर्म है और इसे दुनिया का सबसे पुराना धर्म माना जाता है।

2. इस त्यौहार को ८०० मिलियन से अधिक लोग अलग-अलग तरीकों से मनाते है।

3. यह धन और समृद्धि की देवी लक्ष्मी के सम्मान में मनाया जाता है।

4. यह त्योहार भगवान् राम और सीता के वनवास के १४ वर्ष पुरे होने के बाद लौटने का भी प्रतीक है।

5. दीपावली शब्द का हिंदी अर्थ "दीपों की पंक्ति" (दीया)

6. दिवाली का त्यौहार अंधकार पर प्रकाश की जीत का प्रतीक है।

7. यह भारत का सबसे प्रसिद्द, सबसे बड़ा और उज्ज्वल त्योहार है।

8. इसे 5 दिनों के लिए मनाया जाता है।

9. जिस रात को दिवाली मनाई जाती है, उसी रात जैनी लोग महाभारत के अनुसार मोक्ष प्राप्ति के लिए रोशनी का त्योहार मनाते है।

10. दिवाली मनाने के लिए लोगों के घरों और आस-पास तेल और प्रकाश दीये (lamp) का उपयोग उच्च मात्र में किया जाता है।

11. यह उत्सव उस प्रकाश की याद दिलाता है जो अयोध्या के जंगल से भगवन राम और उनकी पत्नी सीता को लाने के लिए किया गया था।

12. दिवाली के दिये घरों को चमकाते है, आतिशबाजी आसमान को रोशन करती है और रंगोली घरों को सजाती है। ये सब लोग देवी लक्ष्मी को आकर्षित करने के लिए करते हैं।

13. दिवाली के दौरान इस्तेमाल किये जाने वाले दीये मिट्टी के होते है, हालांकि अब प्लास्टिक और धातु के दीये उपलब्ध है। इन दीयों को घी और तेल से भरा जाता है और कपास की बाती का उपयोग किया जाता है। पूरी रात दीये जलते है।

14. सिख भी दिवाली मनाते है क्योंकि यह उनके गुरू हरगोबिंद साहब और भारत के ५२ अन्य राजाओं और राजकुमारीओं की रिहाई का प्रतीक है। जिन्हें मुगल सम्राट शाहजहाँ द्वारा बंदी बनाया गया था।

15. दिवाली नए साल में प्रवेश करने से पहले सफाई करने, घरों को बेदाग बनाने की परंपरा बन गई है।

16. यह त्योहार सर्दियों की शुरूआत का भी संकेत है।

17. दुनिया भर में और विशेष रूप से भारत में हिंदू उपहारों का आदान-प्रदान, नए कपड़े पहन के, भोजन तैयार करके यह त्योहार मनाते है।

18. इस दिन भगवान् गणेश और देवी लक्ष्मी की मूर्तियों को प्रार्थनाओं और अनुष्ठानों के लिए कंधे से कन्धा मिलाकर रखा जाता है। भगवान् गणेश की पूजा सबसे पहले माँ लक्ष्मी के द्वारा की जाती है।

19. भगवान विष्णु और देवी लक्ष्मी के विवाह के सम्मान में भी दिवाली मनाई जाती है।

20. यह त्योहार दानव नरका के ऊपर भगवान् कृष्ण की विजय का प्रतीक भी है।

21. वेस्ट बंगाल में हिंदू लोग दिवाली के अवसर पर देवी काली का सम्मान करते है।

22. सिख लोग दिवाली को उस अवसर के रूप में मनाते हैं जिस दिन उनके गुरू हरगोबिंद जी को ग्वालियर में मुगल शासक जहांगीर की कैद से कई हिंदू राजाओं के साथ रिहा किया गया था।

23. भारत के बाहर अंग्रेजी शहर लीसेस्टर सबसे बड़े दिवाली समारोह की मेजबानी करता है।

24. दिवाली के पीछे सबसे लोकप्रिय परंपरा यह बताती है कि यह उस दिन का प्रतीक है जिस हिंदू देवता भगवान राम राक्षस राजा रावण को मारकर अपने घर अयोध्या लौटे थे। पौराणिक कथाओं के अनुसार, शासन में उसकी वापसी का जश्न मनाने के लिए देश भर में रोशनी की गई थी।

25. दुनिया के लगभग हर कोने में एक बड़े भारतीय प्रवासी के साथ दिवाली को श्रीलंका, पाकिस्तान, इंडोनेशिया, फिजी, थाईलैंड, मॉरिशस, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा सहित कई देशों में बहुत धूम-धाम से मनाया जाता हैं।

26. दिवाली के दौरान अरबों रुपयों की आतिशबाजी की जाती है। इस आतिशबाजी से बहुत अधिक प्रदुषण फैलता है। जो भारतके घनी आबादी वाले क्षेत्रों के लिए खतरा है।

27. ये आतिशबाजी स्वास्थ्य संबंधी खतरों जैसे श्वसन संबंधी समस्याओं, दिल के दौरे और अन्य करणों की वजह बनती है।

28. दिवाली में विस्फोट किए गए पटाखों की कुल लागत लगभग एक बिलियन डॉलर आंकी गई है। यह एक बहुत बड़ी राशि है जिसका उपयोग अन्य उद्देश्यों के लिए किया जा सकता है।

29. दिवाली के दौरान आतिशबाजी से बच्चों को खतरा होता है। इसलिए, आवश्यक सावधानी बरती जानी चाहिए और आने वाले वर्षों में त्योहार को मनाने का पर्यावरण अनुकूल तरीका अपनाना चाहिए।

ये थे दिवाली के बारे में कुछ रोचक तथ्य, जिन्हें पढ़कर आप दिवाली के बारे में पहले से ज्यादा जान जाओगे।

अतिरिक्त सुझाव

दिवाली ख़ुशी का त्योहार है लेकिन आज यह कई तरह के खतरों की वजह बन चूका है जैसे पटाखों की आतिशबाजी से प्रदुषण और बच्चों को चोटें आदि। पटाखों में करोड़ों की बर्बादी।

अगर हम पटाखों का कम से कम उपयोग करे तो हम प्रदुषण और पैसा दोनों के नुकसान से बच सकते है। जितना पैसा हम पटाखों में खर्च करते है उससे हम अपने देश के उन व्यक्तियों को शिक्षा और बेहतर सुविधा प्रदान करा सकते है जिसकी उन्हें आवश्यकता हैं।

यह भी पढ़ें:

अगर आपको Diwali Interesting Facts पसंद आये तो सोशल मीडिया पर शेयर करें।

Avatar for Jamshed Khan

मुझे लिखने का बहुत शौक है। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन और फेस्टिवल से रिलेटेड आर्टिकल लिखता हूँ।

Leave a Comment

×