स्कूल टीचर (School Teacher) कैसे बने? अध्यापक बनने की जानकारी

हर किसी का अपनी ज़िदंगी का एक लक्ष्य होता है। कोई डॉक्टर बनना चाहता है तो कोई इंजीनियर लेकिन कुछ स्टूडेंट्स होते हैं जो अध्यापक यानि स्कूल टीचर (School Teacher) बनना चाहते हैं। आप ये पोस्ट पढ़ रहे हैं मतलब आप भी शिक्षक बनना चाहते हैं, अगर हां तो आपको इस आर्टिकल में टीचर कैसे बनते है? टीचर बनने के लिए कौनसी पढ़ाई करे? की पूरी जानकारी मिलने वाली है।

स्कूल टीचर कैसे बने

अगर आप भी टीचर बनना चाहते हैं तो ये पोस्ट आपके लिए ही है, क्योंकि यहां हम आपको टीचर कैसे बना जाता है? (how to become a teacher in Hindi) की संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं।

वैसे तो हर पद का अलग महत्व होता है, लेकिन हमारे देश में टीचर्स को अलग ही सम्मान दिया जाता है। कहते हैं कि एक शिक्षक का दर्जा भगवान से भी बड़ा होता है।

कई लोगों को नहीं पता होता है कि एक टीचर बनने के लिए क्या करना होता है और एक अच्छी guidance ना मिलने के कारण students कई गलतियां कर बैठते हैं। इसीलिए ज़रूरी है समय रहते हमें पता हो कि मंजिल तक पहुंचने के लिए हमें किस रास्ते पर जाना है।

टीचिंग लाइन में अपना करियर बनाने से पहले आपको कुछ बातों का पता होना चाहिए। जैसे टीचर्स कितने तरह के होते हैं। इसका फायदा ये होगा कि आप आसानी से चुन पाएंगे कि आपको किस तरह का टीचर बनना है।

तो चलिए पहले इसी के बारे में जान लेते हैं।

शिक्षक कितने प्रकार के होते हैं?

आपने अपने स्कूल में हमेशा देखा होगा कि कुछ टीचर्स छोटे बच्चों को पढ़ाते हैं जैसे नर्सरी, एलकेजी, यूकेजी आदि और वहीं कुछ टीचर्स पहली क्लास से पांचवी क्लास तक के स्टूडेंट्स को पढ़ाते हैं।

इसके अलावा कुछ टीचर्स छठी से दसवीं तो कुछ ग्यारवीं और बाहरवीं के स्टूडेट्स को पढ़ाते हैं। इसके बाद कॉलेज में लेक्चरर और प्रोफेसर्स देखने को मिलते हैं। यानि टीचर की पोस्ट को तीन भागों में बांटा गया है।

  • प्राइमरी टीचर (Primary Teacher) (PRT)
  • ट्रेंनड ग्रेजुएट टीचर (Trained Graduate Teacher) (TGT)
  • पोस्ट ग्रेजुएट टीचर (Post Graduate Teacher) (PGT)

आज हम आपको डिटेल में बताएंगे कि किस प्रकार का टीचर बनने के लिए क्या करना होता है? आपकी क्वॉलिफिकेशन्स क्या होनी चाहिए और कौनसा एग्जाम देकर आप सरकारी नौकरी भी पा सकते हैं।

चलिए अब जानते है कि Sarkari master kaise bane, school teacher kaise bane, teacher kaise bante hai, How to become a teacher in Hindi?

स्कूल टीचर (School Teacher) कैसे बने - अध्यापक बनने की पूरी जानकारी हिंदी में

Teacher बनने के लिए सबसे पहले आपको ये पता होना चाहिए कि टीचर बनने के लिए क्या-क्या जरूरी है।  यानी मास्टर बनने की basic requirements क्या है, जो एक टीचर बनने की चाहत रखने वाले स्टूडेंट को पूरी करनी होती है।

टीचर बनने की योग्यता (Qualification) क्या होती है।

1. 12वीं पास होना ज़रूरी

टीचर बनने के लिए ये एक बेसिक क्वॉलिफिकेशन होती है। आप चाहें प्राइमरी टीचर बनें या फिर कॉलेज में प्रोफेसर, आपका बाहरवीं पास होना बेहद ज़रूरी है।

इसके अलावा 11वीं में वहीं सब्जेक्ट सिलेक्ट करें, जिसमें आपकी रूचि है और उसी में आप आगे अपने करियर बढ़ाना चाहते हैं। मान लीजिए कि आपको कैमेस्टिरी (chemistry) बहुत पसंद है तो 11वीं 12वीं में वहीं स्ट्रीम लें जिसमें कैमिस्ट्री सब्जेक्ट हो।

2. फेवरिट सब्जेक्ट पर ध्यान दें

कोशिश कीजिए कि आपका जो भी पसंदीदा सब्जेक्ट है आप उसमें सबसे ज्यादा focus करें और अपने favorite subject में एक्सपर्ट बनें। ताकि आप आने वाले समय में बच्चों को उस सब्जेक्ट में अच्छी शिक्षा दे सकें।

याद रहे आपकी अब के पसंदीदा सब्जेक्ट में जितनी ज्यादा पकड़ होगी आप उतना ही बेहतर तरीके से स्टूडेंट को बड़ा सकोगे। इससे भविष्य में आपको प्रमोशन में ली मदद मिलेगी।

3. ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करें

12वीं पास के बाद अपनी ग्रेजुएशन पूरी करें। Graduation में भी वहीं कोर्स या सब्जेक्ट लें, जिसे आप टीचिंग लाइन (teaching line) में आगे continue करना चाहते हैं।

साथ ही अपनी टीचिंग को भी सुधारें, अपने विषय के बारे में इतने एक्सपर्ट बन जाएगी पेपर में आपके सबसे ज्यादा marks आ सके, और आप पहली बार में ही exam क्लियर कर ले।

4. B.Ed कोर्स के लिए अप्लाई करें

जब आपकी ग्रेजुएशन पूरी हो जाए तो आपको एक अच्छा स्कूल टीचर (school teacher) बनने के लिए बीएड कोर्स (B.Ed Course) के लिए अप्लाई कर लेना चाहिए।

B.Ed एक टीचिंग से रिलेटेड कोर्स है। इस कोर्स को करने के बाद आप किसी भी सीनियर सेकेंडरी स्कूल में टीचर की नौकरी पा सकते हैं। यह कोर्स पहले 1 साल का होता था लेकिन अब तो साल का होता है।

मुख्यतः सरकारी टीचर बनने की चाह रखने वाले लोग बीएड जरूर करते हैं। अगर आप भी सरकारी अध्यापक बनना चाहते हैं तो आपको भी यह कोर्स करना चाहिए।

चलिए अब आपको बताते हैं कि अगर आप किसी specific category (type) का टीचर बनना चाहते हैं तो आपको कौन कौन-सा कोर्स करना चाहिए।

PRT - प्राइमरी टीचर बनने के लिए क्या करें?

PRT के तहत आप पहली से पांचवी कक्षा के स्टूडेंट्स को पढ़ाएंगे। इसके लिए आपको 12वीं पास करनी होगी, उसके बाद ग्रेजुएशन (कम से कम 50 फीसदी मार्क्स) और इसके बाद आपको चार साल का BACHELOR OF ELEMENTARY EDUCATION (B.EI.ED) की डिग्री होनी चाहिए।

या फिर आप बीएड (बैचलर ऑफ एजुकेशन), बीटीसी (बेसिक ट्रेनिंग सर्टिफिकेट), एनटीटी (नर्सरी टीचर ट्रेनिंग), जेबीटी (जूनियर टीचर ट्रेनिंग), डीएड (डिप्लोमा इन एजुकेशन) जैसे कोर्सेस भी कर सकते हैं। इनमें से कोई भी कोर्स करने के बाद आप प्राइमरी टीचर बनने के लिए एलिजिबल हो जाएंगे।

TGT - ट्रेंनड ग्रेजुएट टीचर बनने के लिए क्या करें?

TGT के तहत आप छठीं से दसवीं तक के स्टूडेंट्स को पढ़ा सकते हैं। इसके लिए आपको ग्रेजुएशन डिग्री के साथ साथ बीएड (बैचलर ऑफ एजुकेशन) भी करनी होगी। जो कि 2 साल की होती है।

बीएड में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम देना होता है। इसके लिए ग्रेजुएट होना अनिवार्य है। इस कोर्स को करने के बाद उम्मीदवार प्राइमरी, अपर प्राइमरी और हाई स्कूल में पढ़ाने के लिए एलिजिबल हो जाते हैं।

PGT- पोस्ट ग्रेजुएट टीचर बनने के लिए क्या करें?

पीजीटी के तहत टीचर्स 11वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स को पढ़ा सकते हैं। इसके लिए आपका पोस्ट ग्रेजुएट होना ज़रूरी है और साथ बीएड (बैचलर ऑफ एजुकेशन) भी अनिवार्य है।

Post graduate teacher बन्ना हर किसी का सपना होता है वीडियो स्टूडेंट इसमें सफलता हासिल करते हैं। इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी, तभी आप सफल होंगे।

ये परीक्षाएं पास करने के बाद आप किसी भी प्राइवेट स्कूल में नौकरी कर सकते हैं। अब आपको बताएंगे कि सरकारी टीचर कैसे बना जाएं

सरकारी टीचर कैसे बने - सरकारी अध्यापक बनने के लिए क्या करें?

सरकारी नौकरी कोई भी हो उसकी हमें सबसे ज्यादा होती है, भले ही उसकी सैलरी बहुत कम ही क्यों ना हो। ठीक वैसे ही सरकारी टीचर की नौकरी को दी जाती है।

सरकारी टीचर बनने के लिए आपको CTET और TET को क्वॉलिफाई करना होगा।

CTET - सेंट्रल टीचर Eligibility टेस्ट एग्जाम क्लियर कैसे करें

CENTRAL BOARD OF SECONDARY EDUCATION यानि CBSE द्वारा आयोजित ये एक परीक्षा होती है। इसके क्वॉलिफाई करने के बाद आप सरकारी नौकरी पा सकते हैं। ये परीक्षा दो भागों में होती है।

इसके तहत दो पेपर आयोजित कराए जाते हैं। पहली से पांचवी तक के स्टूडेंट्स को पढ़ाने में रूचि रखने वाले को पेपर 1 देना होता है। छठी से दसवीं के स्टूडेंट्स को पढ़ाने में रूचि रखने वालों को पेपर 2 की तैयारी करनी होती है।

इसके अलावा जो कैंडिटेट्स पहली से दसवीं तक के स्टूडेंट्स को पढ़ाने में दिलचस्पी रखते हैं उन्हें दोनों पेपर देने होते हैं। इस परीक्षा को पास करने के लिए उम्मीदवार का 60 फीसदी अंक लाना अनिवार्य है।

इस परीक्षा को पास करने के बाद उन्हें एक सर्टिफिकेट दिया जाता है जो सात साल के लिए वेलिड होता है। वेलिडिटी खत्म होने तक कैंडिटेट सरकारी जॉब के लिए अप्लाई कर सकता है। हालांकि राज्‍य स्‍तर की परीक्षा में इस सर्टिफिकेट की कोई उपयोगिता नहीं है।

TET - TEACHER ELIGIBILITY TEST

ये परीक्षा राज्य सरकार और केंद्र सरकार द्वारा आयोजित कराई जाती है। ग्रेजुएशन के साथ B.ED या B.EI.ED वाले छात्र इस परीक्षा के लिए एलिजिबल होते हैं। इसमें स्टूडेंट्स को CTET की तरह की प्रोसेस फॉलो करना होता है।

कुछ राज्यों में डीएड करने वाले छात्र भी इस परीक्षा को दे सकते हैं। इस परीक्षा को पास करने के बाद राज्य सरकार कुछ निश्चित सालों के लिए एक सर्टिफिकेट देती है जिसकी अवधि ज्यादातर पांच-सात साल की होती है। इन सालों के दौरान कैंडिटेट सरकारी टीचर की वैकेंसी के लिए अप्लाई कर सकता है।

UGC NET - Nation Testing Agency

इसके अलावा आपको बता दें कि अगर आपको कॉलेज में लेक्चरर बनना है तो आपकी पढ़ाई पूरी करने के लिए यूजीसी नेट की परीक्षा देनी होगी। जो साल में दो बार आयोजित की जाती है। इसमें तीन पेपर शामिल होते हैं। पहले पेपर में जनरल नॉलेज, टीचिंग एप्टीट्यूट, रीजनिंग और दूसरे तथा तीसरे पेपर में चुने गए विषय से सवाल पूछे जाते हैं।

Conclusion,

दोस्तों, हमने इस आर्टिकल में टीचर कैसे बन सकते हैं, टीचर बनने की योग्यता क्या है, सरकारी टीचर कैसे बने, प्राइवेट टीचर कैसे बने इत्यादि सब की जानकारी दी हैं।

साथ ही टीचर बनने के लिए आपको कौनसा कोर्स चाहिए, कौनसा एग्जाम देना चाहिए। इस सब के बारे में बताया है, उम्मीद है आपको सब कुछ सही से समझ आ गया होगा।

उम्मीद है कि आपको इस पोस्ट के ज़रिए अपने लक्ष्य तक पहुंचने का एक रास्ता मिल गया होगा और आप क्लियर हो गए होंगे कि एक टीचर बनने के लिए आपको क्या करना है।

इन सबके अलावा ज़रूरी है आपकी मेहनत और लगन। अगर आप मेहनत से अपने लक्ष्य की तरफ आगे बढेंगे तो आपको सफलता ज़रूर मिलेगी।

यह भी पढ़ें,

अगर आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगे तो इसे अपने दोस्तों (जो टीचर बनना चाहते हैं) के साथ शेयर जरूर करें।

Avatar for भावना गुप्ता

मैं भावना पेशे से एक न्यूज़ रिपोर्टर हु, साथ ही मुझे लिखने का भी शौक है। इस ब्लॉग पर मैं Howto, हेल्थ और एजुकेशन वाले आर्टिकल शेयर करती हु।

Comments ( 1 )

  1. Thanks for this article. isme teacher banne ki puri jankari di gai hai. Mere kafi doubt iss aricle ko padne ke baad clear ho gaye hai.

    Reply

Leave a Comment

×