आत्मविश्वास कैसे बढ़ाएं? Self Confidence बढ़ाने के 10 तरीके

यदि आप आत्मविश्वासी नहीं है तो आप कुछ नहीं कर पाएंगें! आत्मविश्वासी उसे कहते है जो अपने आप पर विश्वास करता है या जो 100 बार हारकर भी जितना चाहता है। अगर आपमें आत्मविश्वास (self confidence) कम है तो आप कोशिश करने से पहले ही हार मानने लग जाओगे। इतना ही नहीं, आप अनुशासन और आत्मविश्वास के बिना किसी भी काम में सफल नहीं हो पाओगे। इस पोस्ट में हम आत्मविश्वास कैसे बढ़ाएं - आत्मविश्वास बढानें के 10 बढ़िया तरीके जानेंगे।

आत्मविश्वास (Self-Confidence) कैसे बढ़ाये

कहा जाए तो आत्मविश्वास मानवता के लिए जरुरी हिस्सा है क्योंकि आत्मविश्वासी लोग खुद को पसंद करते है अपनी मंजिल को पाने के लिए प्रेरित रहते है और भविष्य के बारे में सकारात्मक सोचते है जबकि कम आत्मविश्वास वाला आदमी यह सब सोचने और करने में स्वयं पर विश्वास नहीं रखता हैं।

अक्सर, कम आत्मविश्वास वाले लोग दुसरे लोगों को खुद की तुलना में बेहतर मानते है लेकिन आप इस गलतफहमी को दूर करें और अपने आप को हर किसी के बराबर समझो, ऐसी सोच से आप अपना आत्मविश्वास बढ़ा सकते हैं।

Self Confidence कैसे बढ़ाएं - आत्मविश्वास बढ़ाने के 10 बढ़िया तरीके

यहां मैं आपको अपना आत्मविश्वास बढ़ाने के तरीके बता रहा हूँ अगर आप इन्हें अपना लेते है तो आप आत्मविश्वासी बन सकते है और हर उस काम को मुमकिन बना सकते है जो दुनिया के लिए नामुमकिन हैं। Self-confidence kaise badhaye? aatmwishwas badhane ke 10 tarike in hindi.

1. अपने आप को स्वीकार करें

आप इस दुनिया में unique है जरुरी यह है की आप उन चीजों से परेशान ना हों जिन्हें आप कर नहीं सकते, या जो चीजें आपको परेशान करती हैं। अपनी कमजोरियों और गलतियों के बारे में सोचने और शिकायत करने के बजाय, अपनी life को बेहतर बनाने के तरीकों की तलाश करें। नया सीखने के लिए नए लोगों से जुड़ों और खुद को पहचानों और स्वीकार करो की आप कौन हैं।

2. दूसरों से बातचीत करें

यह बहुत सहायक और जरुरी है की आप अपने जीवन को बेहतर बनाने और सक्सेस प्राप्त करने के लिए अन्य सफल लोगों से बात करें क्योंकि लोगों की चुनौतियों और सफलताओं के बारे में जानना और सुनना अपने बारे में बेहतर महसूस करने का एक अच्छा तरीका हो सकता है। इसके अलावा उन तरीकों के बारे में जानने की कोशिश करें जिनसे आप अपने जीवन में अपनी बाधाओं को दूर कर सकते हैं।

3. एक लक्ष्य बनाएं

ऐसे लक्ष्य बनाएं, जो आपके लिए ज्यादा आसान या अधिक कठिन ना हो! एक लक्ष्य बनाएं और उसे पूरा करने के लिए कोशिश करें। यदि आप अपने लक्ष्य को पूरा नहीं कर पा रहे है तो परेशान ना हो, आप अपने लक्ष्य को बदल सकते है और एक और लक्ष्य सेट कर सकते हैं।

4. निरंतर रहें

अपने जीवन में अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए कोशिश करते रहें, हार ना मानें। अगर आप कोई गलती कर रहे है तो अपनी गलतियों से सीखें और अपनी हालातों में सुधार करने की कोशिश करें। इस बात पर बहस और चिंता ना करें की आपको क्या करना चाहिए या क्या नहीं करना चाहिए बल्कि ध्यान रखें की सफलता पाने के लिए कई बार कोशिश करनी पड़ती है इसलिए तब तक लगातार कोशिश करते रहे और निरंतर रहें जब तक की आप सफलता प्राप्त नहीं कर लेते हैं।

5. अपनी कमजोरी और ताकत को जानें

यह पता लगाना जरुरी और अच्छा है की आपमें क्या अच्छा और बुरा है और ऐसा आप किसी भी टाइप की परीक्षा के माध्यम से कर सकते है। इसलिए अपनी कमजोरियों और शक्तियों को जानना जरुरी है क्योंकि तभी आप सही काम को करने का फैसला ले सकते हैं और उसे पूरा कर सकते हैं।

6. अपनी सफलता याद रखें

अधिकतर लोग अपनी सफलता को भूल जाते है या याद कम रखते है और सिर्फ उन चीजों पर ध्यान देते है जिन्हें करने के लिए वे संघर्ष करते है अगर आप भी ऐसा करते है तो आप गलती कर रहे है। हमेशा अपने अतीत की उपलब्धियों को याद रखें चाहे वे छोटी ही क्यों ना हो, ये आपको बड़ी उपलब्धि पाने के लिए प्रेरित करेंगी और आपके जीवन को सकारात्मकता से भर सकती है इसलिए जीवन के नकारात्मक बिंदुओं पर ध्यान ना दें बल्कि अपनी पिछली सफलताओं पर ध्यान केंद्रित करें।

7. अपने भविष्य के बार में सोचें

इसके बारे में सोचने के लिए समय निकालें की आप जीवन में क्या करना या पाना चाहते है, दूसरों के लिए अपना जीवन ना जिएं। एक बार जब आप यह पता लगा लेते है की आप जीवन में क्या चाहते है तो आप वो जल्दी प्राप्त कर सकते हैं।

8. सकारात्मक पुष्टि पढ़ें

यह बहुत जरुरी भी है और बहुत सारी पुष्टिकरण है जिनसे आप आत्मविश्वास महसूस करते है इसलिए self-help बुक पढ़ें और उन चीजों और बातों को एक डायरी में लिख लें जो आपको प्रेरित करती हैं। हर रोज कुछ सकारात्मक पढ़ें और अपनी जिंदगी को बेहतर बनाने पर विचार करें। उन चीजों पर गौर ना करें जो आपको डराती या चिंतित करती हैं।

9. सकारात्मक सोचें

किसी भी तरह अपनी सोच को सकारात्मक बनाएं रखें और अपना हर काम सकारत्मक सोच के साथ शुरू करें। किसी भी परिस्तिथि में नकारात्मक सोच को अपने आप पर हावी ना होने दें। हमेशा सकारात्मक सोचें!

आत्मविश्वास के साथ शुरू किया काम कभी अधुरा नहीं रहता, अगर आपमें यह (self confidence) नहीं है तो आप किसी काम को शुरू ही नहीं कर पाएंगे और confident बनकर आप हर काम में सफल हो सकते हैं।

निष्कर्ष

अगर आप इन तरीकों और बातों को अपना लेते है तो आप हर काम को सफलतापूर्वक कर सकते है! मुझे आशा है की इस पोस्ट में बताई बातों पर विश्वास करके आप अपना आत्मविश्वास बढ़ा सकते हैं।

अगर आप इस पोस्ट को पढ़कर आत्मविश्वासी बन सको या आपको इनसे कुछ प्रेरणा मिलें या आपको कोई अच्छी बात पता है जिससे self confidence में सुधार हो सके तो कमेंट में बतायें!

अगर आपको इस पोस्ट की जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ share करें।

Avatar for Jamshed Khan

मुझे लिखने का बहुत शौक है। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन और फेस्टिवल से रिलेटेड आर्टिकल लिखता हूँ।

Comments ( 16 )

  1. sir ji main to Jabab hi nhi de pata apne senior ko
    jo muje ache se aata h vo b explain nhi kar pata
    m bahut kam bolta hu logo se isliye log muje dafar samjte h

    Reply
    • Log tumhe chahe kuch bhi smjhe bas ye yaad rakho, bolne se jyada sunne wale ek din raj karte hai.

      Reply

Leave a Comment

×