सच्चे और झूठे लोगों में क्या अंतर होता है?

अच्छे और बुरे लोगों के बीच क्या अंतर है? इस दुनिया में हमें 2 तरह के लोग मिलते हैं, एक हमारा अच्छा चाहने वाला और दूसरा हमारा बुरा चाहने वाला। लेकिन हम उन्हें आसानी से नहीं पहचान पाते हैं। बुरा चाहने वाला हमारी जिंदगी को बर्बाद कर सकता है। ऐसे में जरूरी है कि हमें सच्चे और झूठे लोगों में अंतर पता हो। इसलिए इस पोस्ट में हम यही बताने वाले हैं कि, Achhe or Bure Logo Ko Kaise Pahachane? आईये जानते हैं कि, सच्चे और झूठे लोगों में क्या अंतर होता है?

Achhe or Bure Logo Ko Kaise Pahachane

आप अपने झूठे दोस्त, बेवफा प्रेमी या किसी अन्य बेईमान व्यक्ति का पता कैसे कर सकते हैं। आपको कैसे पता चलेगा कि, जो आदमी आपके साथ रहता है वह व्यक्ति वास्तव में आपके लिए अच्छा है या बुरा, या सिर्फ आप का फायदा उठा रहा हैं। इसलिए आप सभी पर भरोसा नहीं कर सकते हैं।

इस दुनिया में बहुत से ऐसे लोग हैं जो भरोसेमंद होने का दिखावा करते हैं लेकिन असल में वह अपने उद्देश्य को पूरा करने के लिए आपके साथ होने का नाटक करते हैं। अगर आप ऐसे लोगों को यानि, अच्छे और बुरे लोगों को पहचानना सीख जाओ तो आप ऐसे लोगों से धोखा और चोट खाने से बच सकते हैं।

इस आर्टिकल में हम असली और नकली लोगों के बीच 15 अंतर बता रहे हैं जिन्हें जानने के बाद आप आसानी से सच्चे और झूठे या अच्छे और बुरे लोगों को पहचान सकते हैं।

सच्चे और झूठे लोगों में क्या अंतर होता है? Achhe or Bure Logo Ko Kaise Pahachane

Achhe or Bure Logo Ko Kaise Pahachane? सच्चे और झूठे व्यक्ति को कैसे पहचाने? ईमानदार और बेईमान लोगों को कैसे पहचाने? अच्छे और बुरे लोगों में क्या अंतर होता है? नकली और असली लोगों को कैसे पहचाने? अच्छे और बुरे लोगों के बीच 15 अंतर जानिए।

1. सच्चे और अच्छे लोग बिना शर्त के मदद करते हैं: बुरे और झूठे लोग स्वार्थ के लिए मदद करते हैं।

अच्छे और सच्चे लोग बिना किसी उम्मीद के आपकी मदद करेंगे। वे आपकी मदद करने से खुश होते हैं। दूसरी और, झूठे और बुरे लोग आपकी मदद करने से कुछ हासिल करने की उम्मीद करते हैं। वे किसी स्वार्थ के लिए आपकी मदद करते हैं।

2. अच्छे और सच्चे लोग हमेशा आपको खुश करने के बारे में सोचते हैं: बुरे और झूठे लोग हमेशा सोचते है वे आपकी वजह से कैसे खुश रह सकते हैं।

सच्चे और अच्छे लोग आपको खुश करने के तरीके ढूँढते रहते है, वे आपको कॉल करेंगे और पूछेंगे क्या आप ठीक हैं।अच्छे लोग हमेशा आपकी भलाई चाहते हैं। दूसरी तरफ, झूठे और बुरे लोग आपसे तभी संपर्क करते है जब उन्हें आपसे कुछ चाहिए होता हैं। वे बस खुद की सेवा में लगे रहते है और सिर्फ अपनी परवाह करते हैं।

3. सच्चे और अच्छे लोग आपकी सफलता से खुश होते है और आपको धन्यवाद देते है: झूठे और बुरे लोग आपकी कामयाबी से ईर्ष्या करते है, जलते हैं।

अच्छे और सच्चे लोग आपकी कामयाबी के लिए उत्साहित होते हैं। जब आप सफल होते है तो वे आनंदित होते है क्योंकि वे आपको पहली बार में ही सफलता दिलाने में समर्थन करते हैं। दूसरी और, जब आप सफलता प्राप्त करते है तो बुरे और झूठे लोग खुद की हार महसूस करते हैं। वे आपसे ईर्ष्या करते हैं। वे अपने दिल में आपके लिए कड़वाहट महसूस करते हैं। ऐसे लोग आपको सफलता से नीचें खींचने की कोशिश करते हैं।

4. अच्छे और सच्चे लोग आपके दुःख और दर्द को महसूस करते हैं: जब आप दुखी और उदास होते हैं तो बुरे और झूठे लोग खुश होते हैं।

सच्चे और अच्छे लोग बहुत दयालु होते है, वे आपके दर्द और परेशानी को समझते हैं। जब आप उदास होंगे तो वे आपको किसी भी कारण खुश करने की कोशिश करेंगे। दूसरी तरफ, बुरे लोग तब ख़ुशी मनाते है जब आप विफलता और दुःख का अनुभव करते हैं। जब वे आपको निचा और पराजित देखते है तो वे खुद की जीत महसूस करते हैं।

5. सच्चे और अच्छे लोग बुरे समय और अच्छे समय दोनों में आपके साथ होते हैं: झूठे और बुरे लोग आपको मुश्किल समय में छोड़ देते हैं।

अच्छे और सच्चे लोग बेहतर हो या बदतर सभी हालातों में आपके साथ होते हैं। दूसरी और, बुरे और झूठे लोग सिर्फ अच्छे समय में आपके साथ होते हैं। वे आपको बुरे समय में छोड़ देते हैं। ऐसे लोग कब तक आपके साथ रहते हैं जब तक उन्हें आपकी वजह से लाभ मिलता हैं।

6. सच्चे और अच्छे लोग वास्तविक रूप से सभी लोगों के प्रति दयालु होते हैं: बुरे और झूठे लोग केवल कुछ ही चुने हुए लोगों के प्रति दया दिखाते हैं।

अच्छे और सच्चे लोग वास्तविक रूप से बिना भेदभाव के सभी के प्रति दया दिखाते हैं क्योंकि वे स्वाभाविक रूप से अच्छे होते हैं। दूसरी ओर, झूठे और बुरे लोग दयालु होने का केवल दिखावा करते हैं वे उन्हीं लोगों के प्रति दया दिखाते हैं जिनसे उन्हें कुछ फायदा होता दिखाई दे।

7. अच्छे लोग हमेशा सच्चाई का साथ देते हैं: बुरे लोग हमेशा झूठ बोलते हैं।

अच्छे लोग कभी झूठ नहीं बोलते, और वह सच बोलना कभी नहीं छोड़ते क्योंकि वह सच्चाई के आदी हैं। दूसरी ओर, बुरे लोग धोखा देने और झूठ बोलने में माहिर होते हैं। वह झूठ बोलना बंद नहीं कर सकते क्योंकि वह झूठ के आदी होते हैं।

8. सच्चे और अच्छे लोग हमेशा आपका बचाव करेंगे: झूठे और बुरे लोग आपके साथ विश्वासघात करेंगे।

अच्छे और सच्चे लोग आपकी ईमानदारी और गरिमा का सम्मान करेंगे और आपकी हर परिस्थिति में रक्षा, बचाव करेंगे। दूसरी ओर, झूठे और बुरे लोग आपको शर्मिंदा और आपकी पीठ पीछे बुराई करेंगे। वह आपके सामने आपके बारे में अच्छी बातें कहेंगे लेकिन आप की गैरमौजूदगी में वह आपकी बुराई और विश्वासघात करेंगे।

9. अच्छे और सच्चे लोग जवाबदेह होते हैं: बुरे और झूठे लोग हमेशा दूसरों को दोष देते हैं।

सच्चे और अच्छे लोग अपनी गलतियों को स्वीकार करते हैं और उनके लिए माफी मांगते हैं। दूसरी ओर, बुरे और झूठे लोग अपनी गलतियों को स्वीकार नहीं करते हैं और अपनी गलतियों को दूसरों पर थोप देते हैं।

10. सच्चे और अच्छे लोग नम्र होते हैं: झूठे और बुरे लोग घमंडी होते हैं।

सच्चे और अच्छे लोग साधारण जीवन जीते हैं। वह दूसरों को रास्ता देते हैं। कभी-कभी वह दूसरों को ऊपर उठाने के लिए खुद को निचा दिखा सकते हैं। दूसरी ओर, बुरे और झूठे लोग किसी को नीचे खींचने में जरा भी शर्माते नहीं हैं। उनका मानना है कि वह अन्य लोगों से श्रेष्ठ हैं।

11. सच्चे और अच्छे लोग आप का सम्मान करते हैं: झूठे और बुरे लोग अविवेकी होते हैं।

अच्छे और सच्चे लोग आपके विचारों, भावनाओं और निर्णय को सुनते हैं और उन्हें महत्व देते हैं। बुरे और झूठे लोग आपकी परवाह नहीं करते हैं क्योंकि वह अपने फैसले और स्वार्थी महत्वाकांक्षाओं की परवाह करते हैं।

12. सच्चे और अच्छे लोग कार्रवाई के माध्यम से प्यार और देखभाल करता है: झूठे और बुरे लोग केवल शब्दों के माध्यम से प्यार और देखभाल करते हैं।

अच्छे लोग किसी प्रतिक्रिया के माध्यम से अपना प्यार और देखभाल दिखाते हैं। वे ऐसा कोई काम करने की कोशिश करते हैं जिससे आपको महसूस हो कि वह आपसे प्यार करते हैं। दूसरी ओर, नकली और झूठे लोग आपसे कहेंगे कि वे आपसे प्यार करते हैं और आप की देखभाल करते हैं लेकिन जब आप को उनकी जरूरत होती है तो वे आपको दूर तक दिखाई नहीं देते हैं।

13. अच्छे और सच्चे लोग आपको एक बेहतर इंसान बनने के लिए प्रेरित करते हैं: झूठे और बुरे लोग आपको उनकी जरूरत के हिसाब से बदलने के लिए कहेंगे।

ईमानदार और अच्छे लोग आपको इसलिए बदलने के लिए है कहेंगे कि आप बेहतर कर सको। दूसरी ओर, झूठे और बेईमान लोग अन्य लोगों से बदलने के लिए कहेंगे लेकिन वह खुद को नहीं बदलना चाहते। वे जो दूसरों को उपदेश देते हैं, उन्हें खुद पर लागू नहीं करते हैं।

14. सच्चे लोग आप की गलतियों को भूल जाते हैं और आपको जमा करते हैं: बुरे लोग आपको कभी क्षमा नहीं करते हैं और बदला लेने की योजना बनाते हैं।

अच्छे लोग आपकी पिछली गलतियों को भूल जाते हैं। वह आपको क्षमा करते हैं और आगे बढ़ते हैं। दूसरी ओर, बुरे और झूठे लोग आपसे कहेंगे कि उन्होंने आप को माफ कर दिया, लेकिन वे आप की गलतियों को नहीं भूलेंगे और आप से बदला लेने के चक्कर में रहेंगे। वह आप को बर्बाद करने के लिए आपकी पिछली गलतियों को इस्तेमाल करेंगे।

15. अच्छे और सच्चे लोग आपको आपकी कमजोरी बताते हैं: झूठे और बुरे लोग आपको आपकी खामियां नहीं बताते हैं बल्कि उन पर हंसते हैं।

अच्छे और सच्चे लोग आप के सबसे अच्छे दोस्त की तरह होते हैं। ऐसा नहीं है कि वह आपकी आलोचना नहीं करेंगे, करेंगे लेकिन ईमानदारी से। वह आपको बताएंगे कि, आप में क्या कमी है। वे कितनी भी बड़ी कमी होने के बावजूद भी आप को स्वीकार करेंगे। दूसरी ओर, झूठे और बुरे लोग हमेशा आपकी गलतियों और दोषों की तलाश करेंगे।

अगर उन्हें आप में कोई दोष दिखाई भी देता है तो वह आप को नहीं बताएंगे। यहां तक कि, वह आपको विश्वास दिलाएंगे कि आप सही हैं। लेकिन वे उन खामियों की उपयोग आप को नीचा दिखाने के लिए करेंगे। वे आपके छिपे हुए दोषों का आप के खिलाफ इस्तेमाल करेंगे।

16. अच्छे और सच्चे लोग आप से मदद मांगते हैं क्योंकि वह आप पर भरोसा करते हैं: बुरे लोग अपने गलत उद्देश्यों को पूरा करने के लिए आपकी मदद मांगते हैं।

अच्छे लोग आपको विश्वसनीय व्यक्ति मानते हैं। वे आपसे मदद मांगते हैं क्योंकि वह वास्तव में आप पर भरोसा करते हैं। झूठे और बुरे लोग आपसे मदद नहीं मांगते हैं क्योंकि वह आपको उनके और उनकी मदद के काबिल नहीं समझते हैं। वह लोग आपसे उन कामों में मदद मांगेंगे जिनसे आपका नाम बदनाम हो या उनके गलत उद्देश्य पूरे हो।

17. अच्छे और ईमानदार लोग अध्यात्मिक होते हैं: झूठे और बेईमान लोग भौतिकवादी होते हैं।

अच्छे आदमी उन चीजों की परवाह करते हैं जो हमेशा के लिए रहती हैं जैसे सच्चा प्यार, दया, विश्वास, शांति आदि। दूसरी ओर, झूठे लोग केवल भौतिक चीजों जैसे पैसे, गहने, भोजन, शारीरिक सुंदरता आदि की परवाह करते हैं।

निष्कर्ष,

इन तरीकों से आप आसानी से अच्छे और बुरे लोगों में अंतर समझ सकते हैं। अब अगर आप इस पोस्ट को पढ़ने के बाद अच्छे और बुरे लोगों को पहचान सकते है तो उन्हें अपने जीवन से दूर कर दें। वरना, वे आपकी जिंदगी को बर्बाद कर सकते हैं।

इस पोस्ट को लिखने का उद्देश्य यह है कि आपको सच्चे और झूठे, अच्छे और बुरे, ईमानदार और बेईमान या असली और नकली लोगों में अंतर पता चल सके और आप किसी झूठे, बुरे और बेईमान व्यक्ति से बच सकों।

यदि आप इस पोस्ट को पढ़ने के बाद जान जाओ की, Achhe or Bure Logo Ko Kaise Pahachane? तो इसे सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

Avatar for Jamshed Khan

मुझे लिखने का बहुत शौक है। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन और फेस्टिवल से रिलेटेड आर्टिकल लिखता हूँ।

Comments ( 4 )

  1. Aapka so vichar bahut achha raha thanks

    Reply
  2. Kya khub likha hai aapne bahut hi achha vichar hai aapka .very good

    Reply
  3. Very nice.

    Reply
  4. बहुत अच्छा एवं उततम लिखा है आपने

    Reply

Leave a Comment

×