महात्मा गांधी के जीवन से जुड़ी 50 बातें - Mahatma Gandhi in Hindi

सत्य और अहिंसा के पुजारी राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी का नाम इतिहास के पन्नो में सदा के लिए अमर हैं। गाँधी जी का जन्मदिन 2 अक्टूबर को भारत में गाँधी जयंती और पुरे विश्व में अन्तर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रूप में मनाया जाता है। यहाँ हम दुनिया को सत्य और अहिंसा का पाठ पढ़ाने वाले महात्मा गाँधी के जीवन से जुडी बातें बता रहे हैं जिनके बारे में शायद ही आपको पता होगा। Gandhi Life 50 Facts in Hindi.

महात्मा गाँधी के जीवन से जुडी बातें - Mahatma Gandhi Life Facts

Father of nation के सत्य और अहिंसा के पाठ को हम सब जानते हैं। आज महात्मा गाँधी कि जयंती पर हम आपको बापू की जिंदगी से जुडी कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे है जो आपको नहीं पता होंगी।

हमने यहाँ पर महात्मा गाँधी से जुड़ीं 50 बातें शेयर कि हैं। राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी से जुडी ये बातें आपको गाँधी के जीवन के बारे में बताएगी और मोटीवेट करेंगी और आपको इस पोस्ट से गाँधी के जीवन की जानकारी भी मिलेगी।

महात्मा गांधी के के बारे में 50 तथ्य - Mahatma Gandhi Facts in Hindi

महात्मा गाँधी जयंती 2022, महात्मा गाँधी के जीवन से जुड़े तथ्य, राष्ट्रपिता के जीवन से जुडी बातें, महात्मा गाँधी रोचक तथ्य इन हिंदी, महात्मा गाँधी के बारे में 50 बातें, फादर ऑफ़ नेशन कि लाइफ से जुडी बातें हिंदी में।

Mahatma gandhi jayanti 2022, mahatma gandhi ke jivan se judi 50 baatein hindi me, Interesting facts about mahatma gandhi in hindi, father of nation life facts in hindi.

महात्मा गाँधी के जीवन से जुडी बातें

  1. महात्मा गांधी जी का पूरा नाम मोहनदास करमचंद गांधी है। उन्हें बापू भी कहा जाता है।
  2. महात्मा गाँधी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को पोरबंदर गुजरात में हुआ था।
  3. गांधी जी के सम्मान में 2 अक्टूबर को उनकी जन्म तिथि भारत में राष्ट्रीय अवकाश गांधी जयंती के रूप में मनाई जाती हैं।
  4. महात्मा गाँधी जी के पिता का नाम करमचंद गाँधी और माता का नाम पुतली बाई था।
  5. गांधी जी की पढ़ाई उनके गाँव के स्कूल से ही शुरू हुयी। स्कूल में उनका उपनाम मोनिया था।
  6. गांधी जी बचपन से ही बहुत ईमानदार थे, एक बार स्कूल में निरीक्षण के दौरान जब उनके शिक्षक ने उन्हें सवालों की प्रतिलिपि बनाने में मदद करना चाही तो उन्होंने साफ मना करके अपनी ईमानदारी साबित कर दी।
  7. गांधीजी की पत्नी का नाम कस्तूरबा था, गांधी जी प्यार से उन्हें "बा" कहकर बुलाते थे।
  8. महात्मा गांधी जी को सबसे पहले राजकुमार शुक्ला ने बापू कहकर बुलाया था।
  9. 12 अप्रैल 1919 को रवीन्द्रनाथ टैगोर ने गाँधी जी को एक खत लिखा था जिसमें उन्होंने "महात्मा" कहकर संबोधित किया था।
  10. नेताजी सुभाषचंद्र बोस ने सबसे पहले गाँधी जी को राष्ट्र के पिता कहकर संबोधित किया था।
  11. "महात्मा" गांधी का पहला नाम नहीं है। इस नाम को उनके महान कार्यों के लिए दिया गया था। महात्मा का अर्थ महान आत्मा होता हैं।
  12. महात्मा गाँधी जी का विवाह महज 13 साल की उम्र में 14 साल की कस्तूरबा से हो गया था।
  13. कस्तूरबा गांधीजी की चौथी पत्नी थी जिनसे गाँधी को चार संतान हरिलाल, मणिलाल, रामदास और देवदास थे।
  14. गांधी जी के बड़े बेटे ने उन्हें छोड़ दिया था और इस्लाम धर्म भी अपना लिया था।
  15. 15 साल की उम्र में गाँधी और उनकी पत्नी को पहला बच्चा हुआ लेकिन कुछ दिनों बाद उस बच्चे की मौत हो गयी।
  16. महात्मा गांधी जी ने लंदन से अपनी कानून (Law) की पढ़ाई पूरी की।
  17. महात्मा गाँधी जी ने आयरिश उच्चारण के साथ अंग्रेजी बोली क्योंकि उनके पहले अंग्रेजी शिक्षकों में एक आयरिश था।
  18. महात्मा गांधी जी कभी अमेरिका नहीं गए और ना ही अपने पूरे जीवनकाल के दौरान एयरप्लेन में बैठे थे।
  19. महात्मा गांधी जी को लेखन पसंद था।
  20. महात्मा गाँधी जी को अपनी फोटो खिंचवाना कतई पसंद नहीं था। आजादी की लड़ाई के दौरान केवल गांधी जी ऐसे शख्स थे जिनकी सबसे ज्यादा फोटो ली गयी।
  21. महात्मा गाँधी जी का फोटो 1996 से भारतीय रुपये में दिखाई दी हैं।
  22. एक बार ट्रेन के सफ़र के दौरान बापू जी का एक जूता ट्रेन से नीचे गिर गया था तो बापू ने अपना दूसरा जूता भी ट्रेन से फेंक दिया।
  23. एक बार गांधीजी को काला होने के कारण प्रथम श्रेणी के डिब्बे से चलती ट्रेन से बाहर फेंक दिया था।
  24. ऐपल कंपनी के संस्थापक स्टीव जॉब्स गोल फ्रेम का चश्मा महात्मा गाँधी जी को सम्मान देने के लिए पहनते थे।
  25. गाँधी जी अपने नकली दांत अपनी धोती में रखते थे और उनका उपयोग सिर्फ खाना खाने के दौरान करते थे।
  26. गांधी जी को अपने बड़े भाई के साथ धूम्रपान की आदत लग गयी थी लेकिन उन्होंने जल्द ही इन बुरी आदतों को छोड़ दिया था।
  27. महात्मा गांधी को नोबेल पुरस्कार कभी नहीं मिला। हालाँकि उन्हें 5 बार नोबेल पुरस्कार के लिए नामित किया गया था।
  28. गांधी जी को 1930 में अमेरिका की टाइम मैगजीन ने "Man of the year" पुरस्कार से नवाजा था।
  29. उन्होंने सन 1933 "हरिजन" नामक अख़बार शुरू किया था।
  30. महात्मा गाँधी दक्षिण अफ्रीका में 3 फुटबॉल क्लबों के संस्थापक थे।
  31. महात्मा गाँधी जी अपनी बकरी के साथ यात्रा करते थे ताकि वह ताजा दूध प्राप्त कर सके।
  32. महात्मा गाँधी अपने जीवन कल के दौरान हर दिन 18 किलोमीटर चले जो दुनिया के 2 चक्कर लगाने के लिए पर्याप्त हैं।
  33. एक बार गांधी जी ने बिना भोजन 21 दिन तक उपवास किया था।
  34. भारत में 53 प्रमुख सड़कों और भारत के बाहर 48 सडकों का नाम गांधीजी के नाम पर रखा गया हैं।
  35. भारत की तुलना में महात्मा गाँधी के नाम पर नीदरलैंड में ज्यादा सड़कें हैं।
  36. गांधी जी 4 महाद्वीपों और 12 देशों के नागरिक अधिकार आंदोलन के लिए जिम्मेदार थे।
  37. गाँधी जी जिस देश से भारत को आजादी दिलाने के लिए लड़ाई लड़ी उसी देश ने 21 साल बाद गाँधी के 100वें जन्मदिन का सम्मान करते हुए उनके नाम से डाक टिकट जारी किया था।
  38. महात्मा गांधी जी ने आजादी का जश्न नहीं मनाया। जब चाचा नेहरु आजादी के जश्न पर भाषण दे रहे थे तो गाँधी वहां नहीं थे।
  39. महातम गांधी जी दक्षिण अफ्रीका में 21 साल तक रहे। उन्हें इस बीच कई बार कैद भी किया गया था।
  40. दक्षिण अफ्रीका में महात्मा गांधी जी की सालाना इनकम $15000 थी।
  41. गांधी जी को 14 बार गिरफ्तार किया गया और उन्होंने 6 साल जेल में बिताये।
  42. गांधी जी मरने से पहले कोंग्रेस को समाप्त करना चाहते थे।
  43. उन्होंने भारत में स्वतंत्रता संग्राम के दौरान लगभग एक करोड़ शब्द लिखे थे।
  44. महात्मा गाँधी को 1948 में नोबेल पुरस्कार के लिए चुना गया था लेकिन उससे बापू जी चल बसे।
  45. 30 जनवरी 1948 की शाम को दिल्ली के बिड़ला भवन में महात्मा गांधी जी की गोली मरकर हत्या की गयी थी।
  46. जिन कपड़ों में महात्मा गाँधी जी गोली मारकर हत्या की गयी थी वहीँ गांधी जी के कपडे आज भी गांधी संग्रहालय मदुरई में रखे हैं।
  47. ब्रिटेन में हुयी एक नीलामी में गांधी जी का चरखा 110, 000 पाउंड में बिका।
  48. महात्मा गांधी जी का जन्म शुक्रवार को हुआ था, भारत को आजादी भी शुक्रवार मिली थी और गाँधी जी की शुक्रवार को हत्या कर दी गयी थी।
  49. महात्मा गांधी जी की शव यात्रा 8 किलोमीटर लंबी थी।
  50. गांधी जी के योगदान को भविष्य पीढ़ी को बताने और बापू को सम्मान देने के लिए उनके जन्मदिन 2 अक्टूबर को गाँधी जयंती के रूप में मनाने का फैसला लिया गया।

महात्मा गाँधी जी का जीवन सभी के लिए प्रेरणा रहा है। अपने लक्ष्यों को पूरा करने के लिए ताकत या क्रूरता का इस्तेमाल के बजाय गाँधी का हथियार सत्य, शांति, प्रेम और अहिंसा थे।

उन्होंने हमें एक बेहतर व्यक्ति बनने के साथ-साथ सभी के लिए योगदान देना भी सिखाया।

ये भी पढ़े,

अगर आपको इस पोस्ट में महात्मा गाँधी के जीवन से जुड़ी बातों से उनके जीवन से अच्छी सीखे मिले तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें।

Avatar for Jamshed Khan

मुझे लिखने का बहुत शौक है। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन और फेस्टिवल से रिलेटेड आर्टिकल लिखता हूँ।

Comments ( 6 )

  1. wow amazing or good work sir aap sahi me bhut achi reseach kri hai facts ko nikalne me moslty sabhi facts aapne sahi nikale hai great work sir.. keep it up i understand ki 10 minuts blog padhne me lagti hai or aapko banane me 10 ghante… hard work

    Reply
  2. बहुत ही अच्छी जानकारी दी आपने पहली बार पढने को मिली इतनी उपयोगी जानकारी के लिए आपका धन्यबाद

    Reply
  3. nice information about mahatma gandhi.

    Reply
  4. wow sir, mahatma gandhi ji ke baare me ye padh kar to dhanya ho gya. Thanks bhai

    Reply
  5. Nice information about Mahatma gandhi ji thanks for sharing

    Reply
  6. NIce, school ki yaad taza kar di apne..

    Reply

Leave a Comment

×