हिंदी शायरी - Hindi Shayari (Best Shayari in Hindi)

Hindi Shayari: शायरी किसी व्यक्ति के प्रति अपने दिल की भावनाओं को व्यक्त करने का एक जरिया है। जो हमें शब्दों के माध्यम से अपनी भावनाओं को साझा करने में सक्षम बनाती है।

Hindi Shayari

जब कभी भी आपको किसी प्रकार की शायरी की आवश्यकता हो, आप इस पेज पर विजिट करके अपनी मन पसंद Hindi Shayari प्राप्त कर सकते हैं।

आप इस हिंदी शायरी आर्टिकल को सोशल मीडिया के माध्यम से अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कर सकते हैं।

Hindi Shayari

दिल की धड़कन और मेरी सदा है तू,
मेरी पहली और आखरी वफ़ा है तू,
चाहा है तुझे चाहत से भी बढ़कर,
मेरी चाहत और चाहत की इंतिहा है तू।

तडप के देखो किसी की चाहत में,
तो पता चले की इंतजार क्या होता है,
यूँ ही मिल जाए अगर कोई बिना तड़पे,
तो कैसे पता चले की प्यार क्या होता हैं।

जो तीर भी आता वो खाली नहीं जाता,
मायूस मेरे दिल से सवाली नहीं जाता,
कांटे ही किया करते है फूलों की हिफाजत,
फूलों को बचाने कोई माली नहीं आता।

नजरे-करम मुझे पर इतना न कर,
कि तेरी मोहब्बत के लिए बागी हो जाऊं,
मुझे इतना न पिला इश्क-ए जाम कि,
मैं इश्क के जाम का आदि हो जाऊं।

आमद से पहले तेरी सजाते कहाँ फूल,
मौसम बहार का तो तेरे साथ आया हैं।

चाहा ना उसने मुझे बस देखता रहा,
मेरी ज़िंदगी से वो इस तरह खेलता रहा,
ना उतरा कभी मेरी ज़िंदगी की झील में,
बस किनारे पर बैठा पथर फेंकता रहा।

तुम हकीकत नहीं हसरत हो,
जो मिले ख्वाब में वही दौलत हो,
किस लिए देखती हो आईना,
तुम तो खुदा से भी ज्यादा खूबसूरत हो।

इस नजर ने उस नजर से बात करली,
रहे खामोश मगर फिर भी बात करली,
जब मोहब्बत की फिजा को खुश पाया,
तो दोनों निगाहों ने रो -रो कर बरसात करली।

झूठी मोहब्बत वफा के वादे,
साथ निभाने की कसमें,
कितना कुछ करते है लोग,
सिर्फ वक्त गुजारने के लिए।

जिसके नसीब में हो,
जमाने की ठोकरें,
उस बदनसीब से न,
सहारों की बात कर।

तेरा प्यार ही मेरी जान है,
शायद इस हकीकत से तू अनजान है,
मुझे खुद नहीं पता मैं कौन हूँ,
क्योंकि तेरा प्यार ही मेरी पहचान हैं।

सूखे पत्तों से प्यार कर लेंगे हम,
तुम पर ऐतबार कर लेंगे हम,
तुम एक बार यह कह दो,
आपसे प्यार करते है हम,
तुम्हारा जिंदगी भर इंतजार कर लेंगे हम।

Hindi Shayari

कुछ सोचूं तो तेरा ही ख्याल आता है,
कुछ बोलू तो तेरा नाम आता है,
कब तक मैं छुपाऊँ अपने दिल की बात,
तेरी हर एक अदा पे हमें प्यार आता है।

फलसफा समझो न असरारे सियासत समझो,
जिंदगी सिर्फ हकीकत है हकीकत समझो,
जाने किस दिन हो जायें हवायें भी नीलाम यहाँ,
आज तो सांस भी लेते हो गनीमत समझो।

चाहने वाले तो मिलते ही रहेंगे तुझे सारी उम्र,
बस तू कभी जिसे भूल न पाए,
वो चाहत यक़ीनन हमारी होगी।

कोशिश करो कोई आपसे ना रूठें,
जिंदगी में अपनों का साथ ना छुठे,
दोस्ती कोई भी हो उसे ऐसे निभाओ,
कि उस दोस्ती की डोर कभी ना टूटे।

किसी से प्यार करो तो इतना करो कि,
अगर वो आपको छोड़ के जाए तो,
किसी का भी हो ना पाए।

खुशनसीब होते है वो बादल,
जो दूर रहकर भी जमीं पर बरसते हैं,
और एक बदनसीब हम है,
जो एक ही दुनिया में पास रहकर भी दूर हैं।

जब ख्याल आया तो ख्याल भी उनका आया,
जब आँखें बंद की ख्वाब भी उनका आया,
सोचा याद कर लू किसी और को,
मगर होठ खुले तो नाम भी उनका आया।

कभी रूठ ना जाना मुझे मनाना नहीं आता,
कभी दूर ना जाना मुझे पास बुलाना नहीं आता,
अगर तुम भूल जाओ तो वो तुम्हारी मर्जी,
हमें तो भूल जाना भी नहीं आता।

उसे फुर्सत ही कहाँ जो वक्त निकाले,
ऐसे ही होते है आजकल चाहने वाले।

हैरान हूँ मैं दिल अब पहले सा मासूम नहीं रहा,
पत्थर तो नहीं बना मगर अब माँ भी नहीं रहा।

Hindi Shayari

कितना गुस्सा आता है ना उस वक्त,
जब कोई आपसे झूठ और आपको सच पता हो।

हमें देखकर उसने मुहं मोड़ लिया,
तसल्ली हो गयी कि चलो, पहचानती तो हैं।

मत किया कर ऐ दिल किसी से मोहब्बत इतनी,
जो लोग बात नहीं करते वो प्यार क्या करेंगे।

हमारे बिन अधूरे तुम रहोगे,
कभी चाहा किसी ने खुद तुम कहोगे,
हम ना होंगे तो ये आलम ना होगा,
मिलेंगे बहुत से पर हम सा कोई पागल ना होगा।

ऐसे ही मिल जाते है इस दुनिया में बहुत से लोग,
और लोग उसे ही मोहब्बत समझ लेते हैं।

मेरे होंठो पर लफ्ज़ भी अब तेरी तलब लेकर आते हैं,
तेरे जिक्र से महकते हैं तेरे सजदे में बिखर जाते हैं।

कोई नहीं आएगा मेरी जिदगी में तुम्हारे सिवाए,
एक मौत ही है जिसका मैं वादा नहीं करता।

तुम्हें चाहा तो बस चाहा इतना कि,
किसी और को चाहने की चाहत ना रही।

पैर में काँटा क्या चुभा,
ये आस बंध गई,
कि जरूर गली में कोई गुलाब होगा।

वफा का रंग तो गहरा दिखाई देता है,
लहू उसमें कुछ हमारा दिखाई देता है,
हमारा गम से ताल्लुक बहुत पुराना है,
हमारा दर्द से रिश्ता दिखाई देता है।

तुझे देखने के लिए ये दिल तरसता है,
एक तेरे इंतजार में ही ये तड़पता है,
कैसे समझाऊं मैं इस नादान दिल को अपने,
जो मेरा होकर भी बस तेरे लिए धड़कता हैं।

लफ्जों की तरतीब मुझे बांधनी नहीं आतीं,
हम तुमको याद करते है सीधी सी बात है।

दिल को ऐसा दर्द मिला जिसकी दवा नहीं,
फिर भी खुश हूँ मुझे उससे कोई शिकवा नहीं,
और कितने अश्क बहाऊं अब उसके लिए,
जिसको खुदा ने मेरी किस्मत में लिखा ही नहीं।

धोखा ना देना कि तुझपे ऐतबार बहुत है,
ये दिल तेरी चाहत का तलबगार बहुत है,
तेरी सूरत ना दिखे तो कुछ दिखाई नहीं देता,
हम क्या करें की तुझसे हमें प्यार बहुत हैं।

उदास नज़रो में ख़्वाब मिलेंगे,
कभी काटे तो कभी गुलाब मिलेंगे,
मेरे दिल की किताब को मेरी नज़रो से पढ़ कर तो देखो,
कही आपकी यादे तो कही आप मिलेंगे।

गम ने हंसने न दिया,
जमाने ने रोने न दिया,
इस उलझन ने चैन से जीने न दिया,
थक के जब सितारों से पनाह ली,
नींद आई तो तेरी याद ने सोने न दिया।

आंखें बंद करके किया था मैंने तो यकीन तुझ पर,
लेकिन तुमने तो बंद आंखों का फायदा उठा मेरी आंखें ही खोल दी।

न हथियार से मिलते हैं,
न अधिकार से मिलते हैं,
दिलों पर कब्जे बस,
अच्छे व्यवहार से मिलते हैं।

सूरज ढला तो कद से ऊँचे हो गए साये,
कभी पैरों से रोंदी थी यहीं परछाइयाँ हमने।

Hindi Shayari

हाथ पकड़ कर रोक लेते अगर,
तुझ पर जरा भी जोर होता मेरा,
ना रोते हम यूँ तेरे लिए,
अगर हमारी जिंदगी में तेरे सिवा कोई और होता।

जिंदगी में कोई प्यार से प्यारा नहीं मिलता,
जो है पास आपके उसको संभाल के रखना,
क्योंकि एक बार खोकर प्यार दोबारा नहीं मिलता।

यूँ ना पढ़ा करो मेरी शायरी तुम इतने गौर से,
कही कुछ जेहन में बैठ गया,
तो मुझे भुला ना पाओगे।

ऐ शख्स तेरा साथ मुझे हर शक्ल में मंजूर हैं,
यादें हो या खुशबु हो,
यकीन हो या गुमान हो।

सच्ची मोहब्बत में प्यार मिले ना मिले,
लेकिन याद करने के लिए एक चेहरा जरूर मिल जाता हैं।

मोहब्बत किसी से करनी हो तो हद में रहकर करना,
वर्ना किसी को बेपनाह चाहोगे तो टूटकर बिखर जाओगे।

घायल कर के मुझे उसने पूछा,
करोगे क्या फिर मोहब्बत मुझसे,
लहू-लहू था दिल मेरा मगर,
होंठों ने कहा बेइंतहा-बेइंतहा।

अगर किसी चीज को तुम दिल से चाहो तो,
वो चीज कुछ ज्यादा ही भाव खाने लगती हैं।

बिना बात के ही रूठने की आदत है,
किसी अपने का साथ पाने की चाहत है,
आप खुश रहें मेरा क्या है,
मैं तो आईना हूँ,
मुझे तो टूटने की आदत हैं।

जरा सा बात करने का तरीका सीख लो तुम भी,
उधर तुम बात करते हो इधर दिल टूट जाता हैं।

लाख किसी को प्यार दे दो,
जिसने धोखा देना है वो धोखा ही देगा।

मतलब की दुनिया थी इसलिए छोड़ दिया सबने मिलना,
वर्ना ये छोटी सी उम्र तन्हाई के काबिल नहीं होती।

चाहत की राह में बिखरे अरमान बहुत हैं,
हम उसकी याद में परेशान बहुत हैं,
वो हर बार दिल तोड़ता है ये कह कर की,
मेरी उम्मीदों की दुनिया में अभी मुकाम बहुत हैं।

तेरे बिना कैसे गुजरेगी ये रातें,
तन्हाई का गम कैसे सहेंगी ये रातें,
बहुत लंबी है घड़ियां इंतजार की,
करवट बदल-बदल कर कटेंगी ये रातें।

प्यार किया बदनाम हो गए,
चर्चे हमारे सरेआम हो गए,
जालिम ने दिल उस वक्त तोडा,
जब हम उसके गुलाम हो गए।

सच्ची मोहब्बत बस होती है,
मिलती कभी नहीं।

अपनी कलम से दिल से दिल तक की बात करते हो
सीधे सीधे कह क्यों नहीं देते हम से प्यार करते हो।

Hindi Shayari

इश्क मेरा इस कदर टूटना तो लाजमी था,
कांच का दिल था और मोहब्बत पत्थर से की थी।

जल्द महसूस होगा तुम्हें मेरा होना क्या था,
मेरा ना होना क्या हैं।

उसकी मोहब्बत का सिलसिला भी क्या अजीब था,
अपना भी ना बनाया और किसी और का होने भी ना दिया।

क्यों बयान करूँ अपने दर्द को,
यहाँ सुनने वाले बहुत है,
पर समझने वाला की नहीं।

आज हम है कल हमारी यादें होगी,
जब हम ना होंगे तब हमारी बातें होंगी,
कभी पलटोगे जिंदगी के पन्ने तो शायद,
आपकी आँखों से बरसातें भी होंगी।

दिल जो टुटा तो कई हाथ दुआ को उठे,
ऐसे माहौल में अब किसको पराया समझें।

मैं तो आईना तो टूटना मेरी फितरत हैं,
इसलिए पत्थरों से मुझे कोई गिला नहीं।

कितनी तकलीफ होती है ना,
जब हमारे ही सामने हमारा अपना कोई,
किसी और को अपनी जिंदगी बना ले।

कौन कब किसका और कितना अपना है,
ये तो वक्त ही बताता हैं।

दिल का हाल बताना नही आता,
किसी को ऐसे तड़पाना नही आता,
सुनना चाहते है एक बार आवाज आपकी,
मगर बात करने का बहाना नही आता।

वो मिली भी तो क्या मिली,
बन के बेवफा मिली,
इतने तो मेरे गुनाह ना थे,
जितनी मुझे सजा मिली।

हर भूल तेरी माफ़ की,
तेरी हर खता को भुला दिया,
गम है की मेरे प्यार का,
तूने बेवफाई सिला दिया।

भुला देंगे तुम्हें भी,
जरा सब्र तो करो,
तुम्हारी तरह बेवफा होने में थोडा वक्त तो लगेगा।

हमें सीने से लगाकर हमारी सारी कसक दूर कर दो,
हम सिर्फ तुम्हारे हो जाए हमें इतना मजबूर कर दो।

खड़े-खड़े साहिल पर हमने शाम कर दी,
अपना दिल और दुनिया आपके नाम कर दी,
ये भी न सोचा कैसे गुज़रेगी ज़िंदगी,
बिना सोचे-समझे हर ख़ुशी आपके नाम कर दी।

क्या चाहूँ रब से तुम्हें पाने के बाद,
किसका करूँ इंतज़ार तेरे आने के बाद,
क्यों मोहब्बत में जान लुटा देते हैं लोग,
मैंने भी यह जाना इश्क़ करने के बाद।

जख़्म इतना गहरा है इज़हार क्या करें,
हम ख़ुद निशां बन गये ओरों का क्या करें,
मर गए हम मगर खुली रही आँखे हमारी,
क्योंकि हमारी आँखों को उनका इंतजार हैं।

जमाने में आए हो तो,
जीने का हुनर भी रखना,
दुश्मनों से कोई खतरा नहीं,
बस अपनों पर नजर रखना।

अफसोस क्या करें,
तेरे ना मिलने का,
मिला तो आज तक,
मैं खुदा से भी नहीं।

समेट लो इन नाजुक पलों को,
न जाने ये लम्हें कल हो न हो,
हो भी ये लम्हें क्या मालूम,
शामिल उन पलों में हम हो न हो।

कुछ खास है जो तुझे मुझसे जोड़े रखता है,
वरना इतना माफ़ तो मैंने खुद को भी नहीं किया।

शहर में इक अफवाह सी है,
कि आज भी तुझे मेरी परवाह सी है।

खफा भी रहते हो और वफ़ा भी करते हो,
पाना भी नहीं चाहते और खोने से भी डरते हो।

महफ़िल भी रोएगी हर दिल भी रोएगा,
जो डूबी मेरी कश्ती तो साहिल भी रोएगा,
इतना प्यार बाटेंगे दुनिया में ऐ दोस्त,
मेरी मौत पे आशिक तो क्या,
मेरा कातिल भी रोएगा।

सबकुछ मिल गया तुमसे प्यार करके,
बस कुछ रह गया तो वो तुम ही थे।

सितम सारे हमारे छांट लिया करो,
नाराजगी से अच्छा है हमें डांट लिया करो।

तुम्हें जो अच्छा लगे वही करना,
जिंदगी आपकी है किसी के बाप की नहीं।

कुछ लोग हमारी कदर इसलिए नहीं करते,
क्योंकि हम उन्हें एहसास दिला चुके होते है की उनके बगैर नहीं रह सकते।

तू हजार बार भी रूठे तो मना लूँगा तुझे,
मगर, देख मुहब्बत में शामिल कोई दूसरा न हो।

2 Line Hindi Shayari

ख्याल रखा करो अपना,
मेरे पास तुम्हारे जैसा कोई नहीं।

क्यों बनूँ मैं किसी और की तरह,
जमाने में जब कोई मुझसा नहीं।

हम करीब तो है पर दूरी है,
जी तो रहे है पर मजबूरी है।

देखा है मैंने यह आलम इस जमाने में,
बहुत जल्दी थक जाते है लोग रिश्ते निभाने में।

हमें मोहब्बत सिर्फ तुमसे है,
वरना हमें भी चाहने वाले बहुत है।

जिस तरह से मैंने चाहा तुझे,
कोई और चाहे तो भूल जाना मुझे।

Avatar for Jamshed Khan

मुझे लिखने का बहुत शौक है। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन और फेस्टिवल से रिलेटेड आर्टिकल लिखता हूँ।

Comments ( 1 )

  1. बेहतरीन शायरी कलेक्शन sir

    Reply

Leave a Comment

×