आचार्य चाणक्य की 7 बातें जो जिंदगी बदल सकती है

Acharya Chanakya की 7 बातें जो आपका जीवन बदल सकती है? आचार्य चाणक्य ने अपने जीवन में बहुत सी ऐसी बातें कही है जिनका पालन करके कोई भी अपनी जिंदगी में कामयाब बन सकता है चाणक्य हमारे देश के महान पुरुष रहे है जिन्हें आज भी याद किया जाता है उनकी कही बातें आज भी लोगों के दिलों में जितने की आग जला देती है अगर कोई आचार्य चाणक्य की बातों पर अटल रहे तो अवश्य ही अपने जीवन में सफलता प्राप्त कर सकता है इसी लिए इस पोस्ट में आचार्य चाणक्य की 7 ऐसी बातें बता रहा हु जो आपकी जिंदगी बदल सकती है।

Acharya Chanakya Ki 7 Bate Jo Aapki Jindagi Badal Sakti Hai

आचार्य चाणक्य को कौटिल्य के नाम से भी जाना जाता है पर चाणक्य का असली नाम कौटिल्य नहीं विष्णुगुप्त था इसका मुद्राराक्षस नामक ग्रंथ से पता चला था, चाणक्य चन्द्रगुप्त मौर्य के महामंत्री थे जिन्होंने अर्थशास्त्र नामक ग्रंथ लिखा था।

विष्णुगुप्त यानि चाणक्य रावलपिंडी के पास ताक्षसिला के रहने वाले थे इनके जीवन की घटनाओं का संबंध मौर्य चन्द्रगुप्त की राजप्राप्ति से था चाणक्य राजसी सुख को छोड़कर दूर एक छोटी कुठिया में रहते थे।

चाणक्य का जन्म ईसा पूर्व में 371 को हुआ था चाणक्य उस समय के एक प्रसिद्ध विद्वान थे और आज इस पोस्ट में मैं चाणक्य की कुछ ऐसी बाते बता रहा हु जिन्हें अगर हम अपनाएं तो खुद विद्वान बन सकते हैं।

चाणक्य की 7 बातें जो आपका जीवन पलट सकती हैं

आचार्य चाणक्य ने अपने अर्थशास्त्र में बहुत सी ऐसी बाते बताई है जिन पर अम्ल करके हम अपने जीवन को एक नई राह पर ले जा सकते है आइये चाणक्य की ऐसी ही 7 बातें जानते है।

1. किसी को अपनी कमजोरी ना बताएं

आज हर कोई एक दुसरे को निचा दिखाने के लिए एक दुसरे की कमजोरी देखते है जिससे उसे जलील किया जाए. जब हम खुद किसी की कमजोरी छुपा नहीं सकते, तो कोई आपकी कमजोरी कैसे छुपा सकता है. कुछ लोग यही गलती करते है अपने दोस्त या किसी और को अपनी कमजोरी बता देते है जो उन्हें बाद में महंगी पड़ती है इसीलिए चाणक्य के अनुसार अगर आप अपने जीवन में सुखी रहना चाहते है तो कभी किसी को अपनी कमजोरी ना बताएं।

2. आलसी मत बनो

आलसी लोग कभी किसी काम में सफल नहीं हो सकते क्युकी वो किसी काम को मन से नहीं करते, उनका पूरा ध्यान काम करने पर नहीं होता जबकि आलस्य ही असफलता का मुख्य कारण है और अलसी वो ही लोग होते है जो असफल होते है क्युकी सफल लोग किसी भी काम को पूरी लगन और मेहनत से करते है. चाणक्य के अनुसार अगर आप अपने जीवन में सफल होना चाहते है तो आलसी मत बनो तभी आप अपने जीवन में कामयाब हो पाओगे।

3. अपने वर्तमान में जिओ

चाणक्य के अनुसार हमे अपना भूतकाल भूलकर अपने वर्तमान में जीना चाहिए साथ ही भूतकाल को याद करके कभी ना पछतावे सफल लोग सिर्फ वर्तमान में जीते है ना की भविष्य की योजनायें बनाकर, क्युकी भूतकाल यानि आपका कल अब वापस कभी नहीं आएगा, तो अगर आप अपनी जिंदगी में सफलतापूर्वक और खुश रहकर बीताना चाहते है तो भूतकाल गया और भविष्य आने वाले समय को भूल जाए और वर्तमान जो की अभी है सिर्फ उसमे जिओ।

4. जो आप खुद देखते और सुनते है सिर्फ उस पर विश्वास करें

अक्सर ऐसा होता है जैसे की आपका दोस्त आपको किसी के खिलाफ भड़का दे और आप उसकी बातो में आकर किसी और से झगडा कर लेते है ये सब आपने नहीं बल्कि आपके दोस्त ने किया है क्युकी आपने खुद ना कुछ देखा और ना कुछ सुना, हो गई बिना बात की लड़ाई, ऐसी बातो से बचने का एक ही तरीका है की किसी की बातों पर विश्वास ना करें सिर्फ उन पर विश्वास करें जो आप देखते और सुनते है तभी आप अच्छा जीवन जी सकते हैं।

5. कभी भी खुद को या किसी और को बदनाम ना करें

अपमानित होकर आप कभी खुश नहीं रह सकते, क्युकी अगर रहेंगे तो लोग आपको खुश नहीं रहने देंगे, क्युकी बदनामी कुछ ऐसी ही होती है चाणक्य के अनुसार अपनी या किसी और की बदनामी करवा कर जीने से मरना अच्छा है. अगर आप अपनी जिंदगी में खुश रहना चाहते है तो कभी किसी और को या खुद को बदनाम ना करें और ना ऐसा कोई काम करे जिससे आप बदनाम हो, कहते है की मौत सिर्फ एक क्षण का कष्ट देती है पर बदनामी हर रोज कष्ट देती हैं।

6. ऐसा दोस्त ना बनाएं जो आपसे ऊँचा या निचा हो

ये बात आपको अटपटी लगेगी पर अगर आप अपने जीवन में खुश रहना चाहते है तो आपको इस बात पर अम्ल करना पड़ेगा, ऐसे दोस्त से दोस्ती ना जोडें जो आपसे ज्यादा अमिर है या गरीब है क्युकी अगर आप खुद से गरीब दोस्त से दोस्त करोगे तो वो आपसे उम्मीद करेगा, और अगर आप खुद से अमिर दोस्त से करोगे तो आप खुद उससे उम्मीद करोगे, ऐसे ही आपका जीवन संकटों से भर जायेगा और वो संकट आपको खुश रहना भुला देंगे।

7. अपने आप को किसी का आदि ना बनाएं

किसी से इतना लगाव मत रखो की आप उसके आदि बन जाए और आप उसके बिना रहना भूल जाए, ऐसे बहुत से लोग है जो एक अच्छा दोस्त बना लेते है और धीरे धीरे उन्हें वो इतना प्यारा लगने लगता है की वो उसके आदि हो जाते है और उसके बिना उनका दिल नहीं लगता. चाणक्य के अनुसार अगर आप अपनी जिंदगी में खुश रहना चाहते है तो खुद को किसी का इतना आदि ने बनाये की आप उसके बिना रह ही ना पाओ नहीं तो आप खुद को भूल जाओगे।

सच में, अगर आप विश्वास करेंगे तो चाणक्य के 5 अनमोल वचन आपको आपके जीवन में खुश रखेंगे।

  • किसी काम में असफल होने पर अपने नसीब को बुरा ना कहे, क्युकी आप खुद अपना नसीब बनाते है, नसीब और किस्मत पर तो उन्हें रोना चाहिए जिनके हाथ - पैर नहीं है, आपकी किस्मत और नसीब आपके हाथ और पैरो में है आप चाहे जैसे इसे सभांल सकते हैं।
  • अगर आप अपने जीवन में सुखी रहना चाहते है तो 3 चीजों से कभी संतुष्ट ना हो, 1. प्रयत्न, 2, ईश्वर का स्मरण. 3. दूसरों की मदद. अगर आप इन 3 कामो में नहीं हारते है तो समझो आप दुनिया के सबसे ताकतवर व्यक्ति हैं।
  • जो करना चाहते हो दिल से करो और पुरे जोर और लगन से करो और तब तक हार मत मानो तब तक की आप उसे खत्म नहीं कर लेते।
  • बुद्धिमान आदमी खुद की इन्द्रियों को अपनी उंगलियों की तरह वश में करते हुए सही समय पर अपने लक्ष्य को पूरा करने की ताकत ना होने पर भी ऐसा महसूस करते हुए पूरा कर लेता हैं।
  • जो किसी काम से ना डरे और जो कभी भी कितनी भी बड़ी मेहनत करने से नहीं डरता हो उसे कभी अपने जीवन में दुखों का सामना नहीं करना पड़ेगा।

निष्कर्ष

इनके अलावा चाणक्य ने जीवन में कामयाब बनने और खुश रहने के लिए बहुत सारी बातें बताई है जिनसे हम अपने जीवन में खुद रह सकते है और अपने लक्ष के प्रति मुड सकते है और अपनी मंजिल हासिल कर सकते हैं।

उम्मीद है की आप इस पोस्ट में आचार्य चाणक्य की बातों को अपने जीवन में अपनाएंगे और अपनी जिंदगी में बदलाव ला सकेंगे, साथ में अगर आपको चाणक्य की कोई ऐसी बात पता है जो लोगों की सोच बदल सकती है तो उसे कमेंट में लिखें।

साथ ही अगर आपको इस पोस्ट में चाणक्य की 7 बातें जो आपको खुश रख सकती है पसंद आए तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें।

Avatar for Jamshed Khan

मुझे लिखने का बहुत शौक है। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन और फेस्टिवल से रिलेटेड आर्टिकल लिखता हूँ।

Leave a Comment

×