आईटीआई (ITI) क्या है और कैसे करें?

What is ITI in Hindi: हर किसी को अपने करियर की चिंता होती है, हर कोई एक अच्छी नौकरी करके वेल-सेटल्ड लाइफ चाहता है। लेकिन समस्या तब आती है जब हम अपने करियर को लेकर कंफ्यूज़ होते हैं और ये सबसे बड़ा कंफ्यूज़न अक्सर 10वीं, 12वीं के बच्चों में देखने को मिलता है। क्योंकि कई बच्चों को उस वक्त तक नहीं पता होता कि उन्हें आगे किस फील्ड जाना है। जब इसी कंफ्यूज़न में वो अपने दोस्तों, परिवार वालों से सलाह लेते हैं उन्हें कुछ लोगों से आईटीआई करने की सलाह ज़रूर दी जाती है। ऐसे में अगर आप भी 10th या 12th के student हो तो आपको पताहोना चाहिए कि ये आई.टी.आई (Industrial Training Institute) क्या है और कैसे करते है?

आईटीआई (ITI) क्या है और कैसे करें?

आईटीआई एक बहुत पॉपुलर कोर्स है। जो लोग सलाह देते हैं वो स्टूडेंट्स को आईटीआई शब्द तो बता देते हैं लेकिन उसकी पूरी इंफोर्मेशन देने में कहीं न कहीं चूक जाते हैं।

तो अगर आप आईटीआई करने की प्लानिंग कर रहे हैं तो इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें ताकि आपको उसकी पूरी जानकारी हो और आप अपने दोस्तों को भी डिटेल में कोर्स के बारे में बता सकें।

तो चलिए जानते हैं कि ITI क्या है, कैसे करते हैं और आईटीआई करने वाले स्टूडेंट्स को कौनसी नौकरी मिलती है ITI kya hai, kaise kare, I.T.I. kya hota hai, ITI hindi me, Jobs in ITI in Hindi?

आईटीआई क्या है? (What is ITI in Hindi)

आईटीआई की फुल फॉर्म है Industrial Training Institutes। ये एक ऐसा कोर्स है जिसे करने के बाद नौकरी आसानी से मिल जाती है। यहां तक कि आपने कई बार गौर किया होगा कि कुछ सरकारी नौकरियों में आईटीआई के सर्टिफिकेट की मांग की जाती है। यानि अगर आपके पास आईटीआई का सर्टिफिकेट है तो आप कई govt jobs के लिए भी एलिजिबल हो जाएंगे।

आईटीआई में स्टूडेंट्स को प्रोफेशनल कोर्सेस करवाए जाते हैं। यहां थ्योरी से ज़्यादा प्रैटिक्ल नॉलेज पर फोकस किया जाता है। ताकि स्टूडेंट्स को इंडस्ट्रियल लेवल की जॉब्स के लिए तैयार किया जा सकें।

इसीलिए इसमें ये सुनिश्चित किया जाता है कि स्टूडेंट्स की इंडस्ट्रियल स्किल को ग्रूम किया जाए। आठवीं, दसवीं या बारहवीं के बाद स्टूडेंट्स आईटीआई के लिए दाखिला ले सकते हैं और किसी भी ट्रेड में अपनी योग्यता बढ़ा सकते हैं। देश में आटीआई के लिए सेंटर्स मौजूद है।

आईटीआई के सेंटर पूरे देश भर में है।

आईटीआई के इंस्टिट्यूट्स

बता दें कि आईटीआई के इंस्टिट्यूट्स दो तरह के होते हैं एक होता है सरकारी और दूसरा प्राइवेट। एक रिपोर्ट के मुताबिक देश में करीब 2284 सरकारी इंस्टिट्यूट्स हैं जबकि 9,680 प्राइवेट आईटीआई इंस्टीट्यूट्स है।

कैसे लें आईटीआई में एडमिशन

ITI admission के लिए निम्न योग्ताओ का होना जरुरी है।

1. योग्यता

जैसा हमने आपको ऊपर बताया कि 8वीं से लेकर 12वीं तक का कोई भी स्टूडेंट्स आईटीआई में दाखिला ले सकता है।

लेकिन बता दें कि कुछ ट्रेड्स ऐसे होते हैं जिसे 8वीं पास भी कर सकते हैं। वहीं कुछ इंडस्ट्रीज में 10वीं या 12वीं मिनिमम क्वॉलिफिकेशन के तौर पर मांगी जाती है।

2. आयु सीमा

कैंडिडेट की उम्र 14 से 40 साल के बीच में होनी चाहिए।

आयु में छूट - अगर कोई व्यक्ति पूर्व कर्मचारी है या कोई महिला वॉर विडो है उन्हें पांच साल की उम्र में छूट दी जाती है। यानि 45 साल तक की उम्र तक अप्लाई कर सकते हैं। वहीं विकलांगों को 10 साल की छूट दी जाती है।

आईटीआई कोर्स की फीस

आईटीआई कोर्स की फीस ग्रामीण और शहरी इलाकों में अलग अलग होती है इसके अलावा इंजीनियरिंग ट्रेड्स और नॉन-इंजीनियरिंग ट्रेड्स की फीस में भी थोड़ा अंतर होता है।

ग्रामीण क्षेत्र

  • इंजीनियरिंग ट्रेड्स की फीस 15,000 रुपए
  • नॉन इंजीनियरिंग ट्रेड्स की फीस 12,000 रुपए

शहरी क्षेत्र

  • इंजीनियरिंग ट्रेड्स की फीस 16,500 रुपए
  • नॉन इंजीनियरिंग ट्रेड्स की फीस 13,200 रुपए

आईटीआई कोर्स में शामिल ट्रेड्स

चलिए अब आपको बताते हैं कि आईटीआई में कौन-कौन से ट्रेड्स को शामिल किया गया है।

अगर कोर्स दो साल का है तो

  • Draughtsman Civil
  • Draughtsman Mechanical
  • Electrician
  • Electronics Mechanic
  • Fitter
  • Machinist
  • Machinist Grinder
  • Mechanic Motor Vehicle
  • Mechanic Ref. & Air conditioning
  • Painter General
  • Turner
  • Wireman

और अगर कोर्स एक साल है तो

  • Carpenter
  • Computer Operator & Programming Assistant (COPA)
  • Foundryman
  • Mechanic Tractor
  • Plumber
  • Sewing Technology
  • Stenography & Secretarial Assistant (English)
  • Stenography & Secretarial Assistant (Hindi)
  • Welder

आईटीआई में एडमिशन का प्रोसेस

आईटीआई में एडमिशन लेने के दो तरीके हैं। हर राज्य में आईटीआई के अलग रूल है। कई जगह आपके मार्क्स के आधार पर एडमिशन दिया जाता है यानि सरकार की तरफ से मेरिट लिस्ट निकाली जाती है।

वहीं कुछ राज्यों में एंट्रेस एग्जाम के बाद मेरिट लिस्ट निकाली जाती है। जिसके बेसिस पर एडमिशन मिलता है।

पूरा प्रोसेस

  • ऑनलाइम फॉर्म फिल करें।
  • एंट्रेंस परीक्षा/मेरिट आधारित प्रवेश
  • डॉक्यूमेंट्स वेरिफिकेशन और फीस भरने की तारीख
  • आईटीआई एडमिशन की एप्लीकेशन का प्रोसेस
  • अपने राज्य की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं।
  • आईडी प्रूफ और मोबाइल नंबर के जरिए रजिस्टर करें।
  • इसके बाद एप्लीकेशन फॉर्म भरें।
  • भरी गई जानकारी को जांच लें।
  • फॉर्म सब्मिट करें।
  • ऑनलाइन एप्लीकेशन फीस भरें और रसीद को अपने पास सेव कर लें।

एप्लीकेशन की फीस

  • जनरल कैटेगरी– 250 रूपए
  • एससी/एसटी/ओबीसी कैटेगरी –150 रूपए

आईटीआई एंट्रेस एग्जाम कैसे होता है?

ज़्यादातर अगस्त में ही आईटीआई के लिए एग्जाम ऑर्गेनाइज़ किया जाता है। जिसमें 100 multiple answer questions होते हैं। समय सीमा 3 घंटे होती है।

न्यूमैरिकल एबिलिटी,लोजिकल रीजनिंग, इंग्लिश, जनरल नॉलेज के आधार पर ये सवाल पूछे जाते हैं।

एडमिशन के लिए ज़रूरी डॉक्यूमेंट्स

  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • श्रेणी का प्रमाण पत्र
  • 8वीं/10वीं/12वीं पास की मार्क शीट और सर्टिफिकेट
  • एंट्रेस सर्टिफिकेट (केवल एंट्रेस एग्जाम वालों के लिए)
  • रिजल्ट या मेरिट लिस्ट
  • स्थानान्तरण प्रमाण पत्र
  • पहचान प्रमाण जैसे वोटर आईडी कार्ड, आधार कार्ड और ड्राइविंग लाइसेंस आदि

आईटीआई में जॉब

आईटीआई कोर्स करने के बाद आप अपने ट्रेड के मुताबिक (जानकारी ऊपर दी गई है) सरकारी और प्राइवेट दोनों ही जॉब्स पा सकते हैं। इसके अलावा आप खुद का बिजनेस भी शुरू कर सकते हैं।

तो दोस्तों, उम्मीद है कि आईटीआई को लेकर आपके सारी कंफ्यूज़न क्लियर हो गए होंगे। मैंने इस आर्टिकल में आपको बारीकी से आईटीआई के बारे में बताने की कोशिश की है।

ये भी पढ़े,

आईटीआई क्या है, कैसे करें, इसके इंस्टिट्यूट्स, फीस, योग्यता आदि। अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आया तो शेयर ज़रूर करें।

Avatar for भावना गुप्ता

मैं भावना पेशे से एक न्यूज़ रिपोर्टर हु, साथ ही मुझे लिखने का भी शौक है। इस ब्लॉग पर मैं Howto, हेल्थ और एजुकेशन वाले आर्टिकल शेयर करती हु।

Leave a Comment

×