बुलेट ट्रेन के बारे में 20 रोचक बातें और महत्वपूर्ण तथ्य

हमने अपनी पिछली पोस्ट Bullet Train क्या है? बुलेट ट्रेन की पूरी जानकारी में बुलेट ट्रेन के बारे में जाना। आज की इस पोस्ट में हम बुलेट ट्रेन के बारे में 20 बातेंजो आप नहीं जानते होंगे के बारे में जानेंगे। यहां पर हम आपको बुलेट ट्रेन के बारे में वो सारी बातें बताने हैं जो आपको जाननी चाहिए। बुलेट ट्रेन के बारे में रोचक बातें और महत्वपूर्ण तथ्य। Important Points about Bullet Train.

Bullet Train Important Points

बुलेट ट्रेन का नाम सुनते ही दिमाग में "बहुत तेज गति से चलने वाली ट्रेन" की सामने आ जाती है। हम उस में बैठना चाहते हैं, उसके बारे में जानना चाहते हैं।

इसीलिए आज हम आपके लिए बुलेट ट्रेन के बारे में 10 जरूरी बातें लेकर आए हैं, जिनके बारे में शायद आपको नहीं पता होगा।

बुलेट ट्रेन के बारे में 20 बातें जो आपको जरूर पता होनी चाहिए

सबसे पहले मैं आपको बता दूं कि अब भारत में भी बुलेट ट्रेन चलने वाली है। 2022 तक भारत में जापान की तरह ही बुलेट ट्रेन रोड दौड़ने लगेगी।

बुलेट ट्रेन के बारे में रोचक तथ्य।

1. बुलेट ट्रेन नाम कैसे पड़ा

सबसे पहले मैं आपको बताऊंगा कि बुलेट ट्रेन का नाम बुलेट ट्रेन कैसे पड़ा? जापान में पहली बार हाई स्पीड ट्रेन चलाने का विचार 1930 में आया।

जब पहली बार जापान में 1964 में यह ट्रेन चली तो इसकी रफ्तार की तुलना बंदूक की गोली से की गई। गोली आने की बुलेट, इसलिए लोगों ने इसे बुलेट ट्रेन पुकारना शुरू कर दिया।

मैग्लेव की अधिकतम गति 581 किलोमीटर प्रति घंटा की दर्ज की गई है। यह विश्व की सबसे तेज बुलेट ट्रेन है।

2. सबसे तेज चलने वाली बुलेट ट्रेन

वर्तमान में, व्यवसायिक रूप से संचालित सबसे तेज चलने वाली बुलेट ट्रेन चीन में है। शंघाई मैग्लेव ट्रेन 267 mph यानि लगभग साढे 300 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ती है।

जापान ने भी विश्व की सबसे फास्ट ट्रेन का ट्रेन शुरू कर दिया है। यह ट्रेन 400 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने में सक्षम होगी।

3. मैग्लेव बुलेट ट्रेन

मैग्लेव बुलेट ट्रेन मैग्नेटिक लैविटेशन ट्रेन इलेक्ट्रोमैग्नेटिक के ताकत के बल पर पटरी से 10 मिलीमीटर ऊपर हवा में चलती है। जबकि दूसरी ट्रेनें असाधारण चिकनी पटरियों आर यू पर ही चलती है।

4. गैर-मैग्लेव बुलेट ट्रेन

दुनिया की सबसे तेज चलने वाली गैर मैग्लेव बुलेट ट्रेन फ्रांस में है। इसकी शुरुआत 2007 में हुई थी और और यह पहियों पर चलने वाली बुलेट ट्रेन है।

इस ट्रेन की रफ्तार 357 मील प्रति घंटा की है। यह दुनिया की सबसे फास्टेस्ट बुलेट ट्रेन में शुमार है।

5. सबसे सुरक्षित

बुलेट ट्रेन में यात्रा करना सामान्य ट्रेन की तुलना में ज्यादा सुरक्षित माना जाता है। क्योंकि आज तक 10 अरब से ज्यादा यात्रियों ने जापान की हाई-स्पीड ट्रेनों में यात्रा की है।

लेकिन आज तक जापान की बुलेट ट्रेनों में कोई भी व्यक्ति दुर्घटना में मृत्यु का शिकार नहीं हुआ है। दूसरे देशों में भी बुलेट ट्रेन जो घटना के मामले कम ही मिलते हैं।

6. सबसे तेज मालगाड़ी

ब्रांच की मेल सेवा काफी बेहतर है और उसकी टीजीवी ट्रेन दुनिया की सबसे तेज मालगाड़ी है। यह ट्रेन 168 मील प्रति घंटा यानि कि 270 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलती है।

7. मैग्लेव का विशाल नेटवर्क

वर्तमान में, जापान मैग्लेव का एक विशाल नेटवर्क तैयार कर रहा है। यह नेटवर्क बुलेट ट्रेन का भविष्य है। इश्क की गति 375 मील प्रति घंटा की दर्ज की गई है, यानी कि लगभग 600 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से भी ज्यादा।

जापान की 2027 तक इसका विशाल नेटवर्क तैयार करने की योजना है।

8. भारत की बुलेट ट्रेन

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे के साथ 2022 में अहमदाबाद- मुंबई बुलेट ट्रेन की शुरुआत की थी। लगभग 2022 तक भारत में बुलेट ट्रेन चलने लग जाएगी।

9. सुहाना सफर

मैग्लेव अन्य बुलेट ट्रेन की तुलना में काफी सहज और स्मूथ जल्दी है। इस ट्रेन के केबिन्स में कोई वाइब्रेशन और हार्डनेस की परेशानी नहीं होती है। इसमें सफर करना बहुत ही मजेदार है।

क्योंकि यह ट्रेन पटरी से 10 मिलीमीटर ऊपर चलती है जबकि बाकी ट्रेन में पटरी पर ही चलती हैं।

10. 12 मील लंबा ट्रक

जापान में आने वाले समय में नए जेनरेशन की बुलेट ट्रेनों के लिए एक टेस्ट ट्रक बनाया है। यह ट्रक 12 मील लंबा है। इस पर लोग आसानी से फ्री में चढ़ सकते हैं।

11. बेहद मजेदार

दुनिया की सबसे तेज बुलेट ट्रेन बनाना बहुत ही मेहनत का काम होता है। हालांकि के इंटरेस्टिंग होता है और इसको बनाने वाले वर्कर्स भी इसके काम के दौरान काफी अच्छा फील करते हैं।

12. बेहद ताकतवर

बुलेट ट्रेनचुंबक द्वारा चलती है। इसलिए यह बिजली से चलने वाली सामान्य ट्रेन की तुलना में काफी अधिक ताकतवर होती है।

13. बड़ा सा रेफ्रिजरेटर

बुलेट ट्रेन को चलाने के लिए क्रायोजेनिक ठंडा करने की जरूरत होती है। इसके तापमान को नॉर्मल रखने के लिए एक बड़ा सा रेफ्रिजरेटर इस्तेमाल किया जाता है।

14. पटरी से ऊपर चलती है

जैसा कि मैंने point 3 में बताया है कि मैग्लेव बुलेट ट्रेन पटरी से 10 मिलीमीटर ऊपर चलती है। यानी कि यह पटरी को छूती नहीं है। है ना बहुत मजेदार।

15. लोहे की पटरिया

चुंबक के उत्पादन की शुरुआत 1900 में हुई थी। उसके बाद जर्मनी ने इसे 1934 में ट्रेस क्या था। उसके बाद बिना भाइयों के चुंबक के ऊपर वाहन चलाने की तैयारी हुई थी।

16. यात्रियों की संख्या

बुलेट ट्रेन की 10 बोगियों में 730 लोग सफर कर सकते हैं। भविष्य में बुलेट ट्रेन की 10 रोगियों को बढ़ाकर 16 कर दिया जाएगा।

17. हवाई यात्रा से ज्यादा बेहतर

बुलेट ट्रेन में सफर करना हवाई यात्रा से ज्यादा बेहतर होता है। क्योंकि इसमें आपको एरोप्लेन से कहीं अधिक सुविधाएं मिलती है। सुरक्षा की दृष्टि से भी यह हवाई यात्रा से ज्यादा बेहतर है।

18. मेट्रो ट्रेन से कम लागत

भारत के बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट में बताया गया है कि बुलेट ट्रेन मेट्रो ट्रेन से भी कम लागत में बनेगी। इस प्रोजेक्ट में 15 मिलीयन यानी लगभग 98,805 करोड का खर्च होगा।

19. एक भी दुर्घटना

जापान में लगभग 100 सालो से बुलेट ट्रेन चल रही है। लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि आज तक जापान में बुलेट ट्रेन दुर्घटना में एक व्यक्ति की जान नहीं गई।

20. जमीन के अंदर सुरंग

जरा सोचिए 200 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलने वाली ट्रेन की आवाज कितनी होती होगी? बहुत ज्यादा। इसीलिए बुलेट ट्रेन को चलाने के लिए जापान में जमीन के अंदर ही सुरंग बनाई।

सुरंग के अंदर बुलेट ट्रेन का सिग्नल, नियंत्रण काफी बेहतर होता है। इससे ट्रेन में बैठे लोगों के अलावा बाहर खड़े लोगों को आवाज की प्रॉब्लम भी नहीं होती है।

उम्मीद करता हूं बुलेट ट्रेन के बारे में यह भी सोचा तथ्य आपको पसंद आएंगे और इन महत्वपूर्ण तथ्यों के बारे में जानकर आपको खुशी जरूर होगी।

मुझे भी आपको यह बताते हुए खुशी हो रही है कि शायद 2-5 साल के अंदर हमारे देश भारत में भी बुलेट ट्रेन देखने को मिलेगी और हम भारतीय भी बुलेट ट्रेन में सफर का आनंद उठा सकेंगे।

यह भी पढ़ें,

अगर आपको यह जानकारी पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

×