विश्व जनसंख्या दिवस क्यों मनाया जाता है?

हर साल 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जाता है जो वैश्विक जनसंख्या मुद्दों के बारे में जागरूकता की मांग करता है। विश्व जनसंख्या दिवस विश्व स्तर पर मनाया जाने वाला अंतर्राष्ट्रीय कार्यक्रम है। आज हम आपको विश्व जनसंख्या दिवस के बारे में बताएंगे कि, विश्व जनसंख्या दिवस क्यों मनाया जाता है? विश्व जनसंख्या दिवस का उद्देश्य। Why Celebrate Population Day in Hindi.

Why Celebrate Population Day in Hindi

विश्व जनसंख्या दिवस दुनिया भर में जनसंख्या के मुद्दों के प्रति लोगों की जागरूकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है। यह पहली बार वर्ष 1989 में संयुक्त राष्ट्र के गवर्निंग काउंसिल द्वारा शुरू किया गया था।

इस पोस्ट में हम जानेंगे कि, विश्व जनसंख्या दिवस क्या है या कब है, विश्व जनसंख्या दिवस क्यों मनाते हैं, विश्व जनसंख्या दिवस का उद्देश्य क्या है? World Population Day Kyu Manaya Jata Hai.

विश्व जनसंख्या दिवस क्यों मनाया जाता है? World Population Day Kyu Manate Hai

इस दिन का मुख्य उद्देश्य समुदाय के लोगों की प्रजनन स्वास्थ्य समस्याओं की ओर ध्यान आकर्षित करना है क्योंकि यह दुनिया भर में बीमार महिलाओं और यहां तक ​​कि गर्भवती महिलाओं की मृत्यु के प्रमुख कारणों में से है।

यह दिन परिवार नियोजन से संबंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए सामूहिक जनसंख्या की सहायता करता हैं।

जैसे:- प्रजनन स्वास्थ्य, किशोर गर्भावस्था, बालिका शिक्षा, बाल विवाह, यौन संचरित संक्रमण, शिशु स्वास्थ्य और स्वास्थ्य का अधिकार आदि।

विश्व जनसंख्या दिवस समारोह

बढ़ती जनसंख्या के मुद्दों पर सहयोग करने के लिए बड़े पैमाने पर लोगों का ध्यान आकर्षित करने के लिए विभिन्न प्रकार की गतिविधियों, सेमिनारों और कार्यक्रमों का आयोजन करके वैश्विक जनसंख्या दिवस विश्व स्तर पर मनाया जाता है।

इसमें सेमिनार, समूह चर्चा, भाषण, नारे और विभिन्न प्लेटफार्मों पर जानकारी के वितरण जैसी कई गतिविधियां शामिल हैं।

विश्व जनसंख्या दिवस से संबंधित तथ्य

वर्ष 1000 में, विश्व की जनसंख्या केवल 400 मिलियन थी। 1750 में, 750 साल बाद, जनसंख्या 800 मिलियन थी और यह पहली बार 1804 में 1 बिलियन के निशान तक पहुंच गई। 1927 तक हमारे पास 2 बिलियन लोग थे और 1960 तक 3 बिलियन लेकिन केवल 40 साल में आबादी डबल हो गई और 2000 तक आबादी 6 बिलियन तक पहुंच गई।

क्या वास्तव में हमारे पास दुनिया में इतने सारे लोग हैं? अगर दुनिया की पूरी आबादी एक जगह इकठ्ठा हो जाए तो कंधे से कंधा मिलाकर, पूरी दुनिया की आबादी 500 वर्ग मील (1,300 वर्ग किलोमीटर) में समा पाएगी।

विकसित देशों और गरीब देशों के लोगों के बीच औसत जीवन प्रत्याशा का अंतर क्रमशः 55 वर्षों की तुलना में लगभग 20 वर्ष या 77 वर्ष है।

दुनिया भर में लगभग 8 बिलियन लोग 10 से 24 साल की उम्र के बीच हैं जो युवाओं की सबसे बड़ी आबादी है। जी हां, 30 साल से कम उम्र के कुल विश्व की आबादी का लगभग 52% हिस्सा हैं।

यह अनुमान लगाया जाता है कि प्रत्येक सेकंड में 4.3 जन्म और 1.8 मौतें होती हैं, जो प्रति सेकंड 2.5 लोगों की शुद्ध जनसंख्या लाभ को बढ़ाती हैं।

सबसे बड़ी आबादी वाले देश 1.38 बिलियन के साथ चीन हैं, भारत 1.32 बिलियन के साथ दूसरे स्थान पर है, और संयुक्त राज्य अमेरिका 324 मिलियन के साथ है।

अधिक तेजी से जनसंख्या वृद्धि के कारण, कुछ वर्षों में भारत की आबादी चीन से ज्यादा होने की उम्मीद है।

विश्व जनसँख्या दिवस का मुख्य उद्देश्य जनसंख्या के मुद्दों के प्रति लोगों को जागरूक करना हैं।

अगर आपको पता चल गया होगा कि, विश्व जनसंख्या दिवस क्या है? कब है और विश्व जनसंख्या दिवस क्यों मनाया जाता हैं?

अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगे तो अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें। धन्यवाद.

Avatar for Jamshed Khan

मुझे लिखने का बहुत शौक है। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन और फेस्टिवल से रिलेटेड आर्टिकल लिखता हूँ।

Leave a Comment

×