EMISAT क्या है और इसको लांच करने का क्या उद्देश्य है?

भारत का नाम अब दुनिया के महाशक्ति देशों में शामिल हो चुका है। भारत सोमवार 1 अप्रैल 2022 को इसका उदाहरण दुनिया के सामने पेश कर चुका है, जब इसरो ने अपनी देसी "जेम्स बॉन्ड" एमिसेट सेटेलाइट सहित विदेशों की 28 नैनो सैटलाइट को भी सफलतापूर्वक लॉन्च कर दिया। EMISAT एक भारतीय सेटेलाइट है, जिसका पूरा नाम "इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस सैटेलाइट" है। इस आर्टिकल में हम आपको EMISAT Satellite लॉन्च करने के उद्देश्य के बारे में विस्तार से बताएंगे। आइए जानते हैं, EMISAT क्या है और इसको भारत में कब लांच किया गया? What is EMISAT in Hindi.

EMISAT क्या है?

भारत अंतरिक्ष की दुनिया में रोज नए-नए प्रतिमान स्थापित करता जा रहा है। अब भारत ना केवल अपने उपग्रह अंतरिक्ष में भेजने में सक्षम हो गया है बल्कि वह अमेरिका जैसे दूसरे देशों के उपग्रह भी भेज रहा है।

यहां पर हम आपको ईएमआईसैट क्या है, EMISAT के उद्देश्य और EMISAT की खासियत के बारे में जानेंगे।

EMISAT क्या है?

ईएमआईसैट (EMISAT) एक भारतीय जासूसी उपग्रह (reconnaissance satellite) है। EMISAT की फुल फॉर्म है इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस सैटेलाइट (Electronic Intelligence Satellite), यह भारत का पहला निगरानी उपग्रह है।

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने इस सैटलाइट को सोमवार 1 अप्रैल 2022 को Launch किया था। इसे इसरो और डीआरडी ने मिलकर बनाया है।

भारत में इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस सैटेलाइट (EMISAT) को सन सिंक्रोनस पोलर आर्बिट में सफलतापूर्वक प्रक्षेपित कर दिया है। इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस उपग्रह एमिसैट को पीएसएलवी C-45 व्हीकल की मदद से श्रीहरिकोटा के सतीश धवन स्पेस सेंटर में लॉन्च किया गया है।

PSLV (Polar Satellite Launch Vehicle) का उपयोग भारत के 2प्र मुख मिशनो में पहले ही किया जा चुका है। जिसमें 2008 में चंद्रयान में और 2013 में मंगल मिशन शामिल है।

भारत में अपनी पहली जासूसी सेटेलाइट एमिसैट के साथ विदेशों की अन्य 28 सैटलाइटों को भी लॉन्च किया है। इसमें अमेरिका की 24, Lithuania के 2, स्वीटजरलैंड और स्पेन के 1-1 सैटेलाइट शामिल है।

EMISAT के उद्देश्य क्या है?

एमिसेट (EMISAT) का उद्देश्य पाकिस्तान और चीन की सीमा पर इलेक्ट्रॉनिक या किसी तरह की मानवीय और आतंकी गतिविधि पर नजर रखना और जासूसी करना है।

सीधे शब्दों में भारतीय सैटेलाइट एमिसेट बॉर्डर पर दुश्मनों के रडार और सेंसर पर निगाह रखेगा। मतलब यह सैटलाइट शत्रु के रडार साइट्स निगरानी रखेगा और उनकी जानकारी देगा।

अब तक भारत से अधिक चेतावनी के लिए एयरप्लेन का इस्तेमाल करता था, अब यह उपग्रह अंतरिक्ष से ही दुश्मनों की गतिविधियों पर नजर रखेगा।

इस उपग्रह का इस्तेमाल ना सिर्फ मानवीय बल्कि संसार से जुड़ी किसी भी तरह की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए किया जा सकता है।

इस लॉन्च की खास बात यह है कि इस उपग्रह को लॉन्च होते हुए करीबन 1000 लोगों ने लाइव देखा। कहा जा रहा है कि अब भारत सरकार द्वारा इस स्टेडियम का निर्माण भी किया जाएगा, जिसमें लोगों को लॉन्च किए जाने वाले उपग्रहों को लाइव देख सकेंगे।

अभी तक दुनिया में सिर्फ अमेरिकी एजेंसी NASA ही आम लोगों को Satellites का लाइव प्रक्षेपण लांच देखने देती है।

EMISAT को अकेले लॉन्च नहीं किया गया है बल्कि इसके साथ अन्य देशों की 28 छोटी-छोटी सेटेलाइट को लांच किया गया है। एमिसेट का वजन 436 किलो और बाकी 28 सैटेलाइट का वजन 220 किलो है।

एमिसेट (EMISAT) की खासियत क्या है?

EMISAT की बहुत सारी खासियत है, जिनमें से कुछ निम्न प्रकार है।

  1. EMISAT भारत का पहला जासूसी सैटेलाइट है।
  2. EMISAT को 748KM की ऊंचाई पर स्थापित किया गया है।
  3. EMISAT इसरो डीआरडीओ ने मिलकर बनाया है।
  4. EMISAT का मुख्य उद्देश्य दुश्मनों पर नजर बनाए रखना है।
  5. EMISAT मोबाइल और अन्य संचार उपकरणों के जरिए होने वाली बातचीत को डिकोड कर सकता है।
  6. EMISAT बॉर्डर पर दुश्मनों के रडार पर नजर रखने में मदद करता है।
  7. EMISAT से दुश्मनों के इलाकों के सटीक नक्शे बनाने में मदद मिलेगी।
  8. बॉर्डर पर माननीय और आतंकी संगठनों की गतिविधियों पर नजर रखेगा।
  9. EMISAT ना सिर्फ दुश्मनों के रडार पर नजर रखेगा बल्कि उसकी लोकेशन भी बताएगा।
  10. EMISAT के साथ अन्य देशों की 28 सैटलाइट और को भी लॉन्च किया गया है।
  11. EMISAT का वजन 436 किलो और बाकी 28 सेट लाइटों का वजन 220 किलोग्राम है।

इससे 2 साल पहले भी इसरो ने इतिहास रचा था, जब फरवरी 2022 में भारत में सबसे ज्यादा सेटेलाइट को लांच करके वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था।

उस समय भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो ने 30 मिनट में रॉकेट से 7 देशों के 104 सेटेलाइट लांच किए थे। इससे पहले यह रिकॉर्ड रूस के नाम था, उसने 2014 में 137 सैटलाइट लॉन्च किए थे।

उम्मीद है आपको INDIAN SATELLITE EMISAT यह जानकारी पसंद आई होगी और अब आपको इसके बारे में सब कुछ मालूम हो गया होगा।

यह भी पढ़ें,

अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

Avatar for Jumedeen Khan

मैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हूं। यहाँ पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी शेयर करता हूं। ❤️

Comments ( 2 )

  1. Sir mai blogging start karna chahta hu
    but mujhe kuch samjh me nahi aa raha hai ki kaise start karu aur topic kya rakhu mai
    aap se request hai ki aap mujhe kuch sujection de

    Reply

Leave a Comment

×