Computer Network क्या है जानिए पूरी जानकारी हिंदी में

Technology के इस दौर में Computer Network Kya Hai? यह हमारे किस काम का है यह जानना बहुत जरूरी है। इस पोस्ट में कंप्यूटर नेटवर्क क्या है (what is network, definition of computer in hindi), कितने प्रकार का होता हैं (computer network types), कंप्यूटर नेटवर्क के पार्ट, कंप्यूटर network के लाभ और इसका उपयोग कैसे करते है के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में दी गयी हैं।

Computer Network Ki Hindi Jankari

Computer कहीं न कहीं जुड़ा है फिर चाहे वह Bank, Office, School, Collage या घर हो इन सभी जगह Computer का उपयोग होता है। जिस तरह से Computer हमारे लिए जरूरी हो गया है उसी तरह से Computer को एक सही network में जुड़ना जरूरी है, एक सही Network ही Computer पर User की Security और Speed से Data Transfer के लिए जिम्मेदार होता है।

अगर आप कोई भी online work से जुड़े हुए है तो आपका कंप्यूटर नेटवर्क के बारे में जानना बहुत जरुरी है, क्युकी कंप्यूटर एक ऐसी चीज़ है जो आज हमारी ज़िन्दगी में हर रोज इस्तेमाल होने लगा हैं तो चलिए जानते हैं कंप्यूटर नेटवर्क के बारे में विस्तार से,

Computer Network क्या है?

जब भी Computer एक या एक से अधिक Computer से जुड़ जाता है तो वह एक Computer Network बन जाता है। इसमें दो या दो से अधिक डिवाइस को कनेक्ट किया जाता है ताकि वो अपनी जानकारी और संसाधनों को एक दुसरे के साथ शेयर कर सके।

कंप्यूटर network की शुरुआत 1960 और 1970 के बिच हुयी थी तब इसका नाम ARPANET था। आज ये दुनिया का सबसे बड़ा network बन गया है जिसे हम इन्टरनेट (Internet) के नाम से जानते हैं।

Network से जुड़ने के लिए router जैसे उपकरणों का इस्तेमाल क्यिया जाता हैं। इसको आपस में जोड़ने के लिए Wired या Wireless Network, Hardware और Software की जरूरत पड़ती है, नेटवर्क में जुड़े सभी Computer को जोड़ने के लिए Protocol का सहारा लिया जाता है।

कंप्यूटर नेटवर्क का उपयोग (Use of Computer Network)

  • किसी भी Information को एक कंप्यूटर से दुसरे कंप्यूटर में Share करना
  • अलग-अलग कंप्यूटर से केवल एक Printer पर Print निकालने के लिए
  • किसी एक File को बहुत से कंप्यूटर में खोलने के लिए
  • किसी एक Project पर बहुत से User को एक साथ काम करने के लिए

कंप्यूटर नेटवर्क के प्रकार (Type of Computer Network)

Computer Network को इनके काम करने या इनकी जरूरत के हिसाब से 3 Type से रखा गया है।

  1. Local Area Network (LAN)
  2. Wide Area Network (WAN)
  3. Metropolition Area network (MAN)

1. Local Area Network

Local Area Network में 10 km तक की Range के अन्दर तक कंप्यूटर को जोड़ा जाता है जैंसे - Ethernet और WiFi. इस तरह के नेटवर्क का उपयोग Collage, School, Office या Business में किया जाता है।

2. Wide Area Network

Wide Area Network में किसी एक शहर या देश के कंप्यूटर को दुसरे देश या शहर के कंप्यूटर से जोड़ा जाता है। यह नेटवर्क Wire या Satellite से जुड़ा होता है। ज्यादातर इस नेटवर्क में Data Transfer Micro Web तरंगो से ही होता है। इस नेटवर्क का उदाहरण है City Cable Network।

3. Metropolitan Area Network

Metropolition Area Network में 100 Km तक के Area तक कंप्यूटर को आपस में जोड़ा जाता है।

 कंप्यूटर नेटवर्क के पार्ट (Part of Computer Network)

बहुत से Part जुड़कर एक Complete Computer Network तैयार करते है और Computer Network को सही से समझने के लिए इनके Part के बारे में समझना भी जरूरी है।

  • Server
  • Cable
  • Node
  • Topology
  • Nos

1. Server

Server भी एक कंप्यूटर होता है लेकिन इससे नेटवर्क में जुड़े सभी कंप्यूटर को Control किया जा सकता है. यह कंप्यूटर नेटवर्क का Main Part होता है।

2. Cable

एक कंप्यूटर को दुसरे कंप्यूटर को जोड़ने वाले तार को LAN Cable कहते है इससे होकर Data या कोई भी Information एक कंप्यूटर से दुसरे कंप्यूटर में Transfer होती है।

3. Node

Server से जो भी कंप्यूटर जुड़ा होता है उसे Node कहते है। एक Node का अपना एक Address होता है जिससे वह Node पहचाना जाता है और Node को Server से जोड़ने के लिए यह Address जरूरी होता है।

4. Topology

एक कंप्यूटर दुसरे कंप्यूटर से किस प्रकार से जुड़ा है यह सभी Topology का हिस्सा होता है। इसमें यह देखा जाता है की कंप्यूटर की location क्या है और यह Cable से किस तरह जुड़ा है। जब भी कंप्यूटर को एक नेटवर्क में जोड़ा जाता है तो इसके लिए Topology का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है Topology को सही से समझने के लिए हम इनके Type को समझते है।

1. Bus Topology

इसका उपयोग तब किया जाता है जब कंप्यूटर नेटवर्क कम समय के लिए लगाया जाता है इस नेटवर्क पर जब एक कंप्यूटर किसी Information को Transfer करता है तो नेटवर्क में जुड़े सभी कंप्यूटर के यह Information Show होती है। इस नेटवर्क पर एक समय में केवल एक ही Computer Information भेज सकता है जिस कारण इस नेटवर्क की Speed Slow हो जाती है।

2. Ring Topology

इस नेटवर्क में जितने भी कंप्यूटर जुड़े होते है वह सभी एक Ring में जोड़े जाते है इसका मतलब है की जो Cable इन कंप्यूटर को जोड़ता है उसका कोई Start या End Point नहीं होता है। इस नेटवर्क की Speed Bus Topology से अधिक होती है।

 3. Star Topology

Star Topology में प्रत्येक कंप्यूटर server से जुड़ा होता है इस नेटवर्क में खराबी आने के Chance बहुत कम होती है इसके साथ-साथ यदि इस नेटवर्क में कोई कंप्यूटर खराब हो जाता है तो इस कंप्यूटर को छोड़कर बाकी कंप्यूटर नेटवर्क से जुड़े रहेंगे।

5. Star Bus Topology

यह नेटवर्क Star और Bus Topology को मिलाकर बनाया जाता है। इसमें सभी कंप्यूटर एक Hub से जुड़े रहते है। Hub का काम यह होता है की यदि कोई कंप्यूटर खराब हो जाता है तो Hub उस खराब कंप्यूटर को नेटवर्क से अलग कर देता है लेकिन यदि Hub ही खराब हो जाये तो इसका असर पुरे नेटवर्क पर पड़ता है।

6. Star Ring Topology

यह Star और Ring Topology को जोड़कर बनाया गया नेटवर्क है. इसमें Computer को Ring Topology Network में जोड़ा जाता है और यह सभी Computer एक Center Hub से जुड़ते है।

कंप्यूटर नेटवर्क के लाभ (Benefits of Computer Network)

कंप्यूटर नेटवर्क के लाभ निम्न हैं।

  • File Sharing: कंप्यूटर नेटवर्क उपयोगकर्ता को डाटा फाइलो को शेयर करने में मदद करता हैं।
  • Hardware Sharing: उपयोग करता पPrinter, Scanner, CD ROM Drive आदि को शेयर कर सकता हैं।
  • Application Sharing: कंप्यूटर नेटवर्क यूजर एप्लीकेशन को एक दुसरे कंप्यूटर में शेयर कर सकता हैं।
  • User Communication: network उपयोगकर्ता को email, video, message send करना allow करता हैं।

प्रिय पाठको, उम्मीद है की आपको Computer Network क्या है की उस Post से कुछ नया और बेहतर सिखने को मिला होगा, अगर आपको कंप्यूटर network से related कोई सवाल पूछना है तो आप comment सेक्शन में पूछ सकते हों।

अगर यह जानकारी आपको पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ Social Media में जरूर Share करे, धन्यवाद!

Avatar for Anoop Bhatt

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम अनूप भट्ट है और मैं एक हिंदी Blogger हूँ और इस ब्लॉग पर Technology से रिलेटेड जानकारी शेयर करता हु। ऐसी ही और जानकारी पाने के लिए हमारे साथ जुड़े रहे। धन्यवाद!

Comments ( 4 )

  1. bahut achi post hai sir

    Reply
  2. bahut hi achi aur useful post he bro

    Reply
  3. बहुत बढ़िया जानकारी दी है sir.

    Reply
  4. Good post.

    Reply

Leave a Comment

×