20+ Best Short Story In Hindi: बच्चों के लिए कहानियाँ

कहानियाँ ज्ञान प्राप्त करने का सबसे अच्छा स्रोत होती हैं। इसलिए आज हम यहाँ बच्चों के लिए Short Story In Hindi लेकर आए हैं जिन्हें पढ़ने के बाद आपके बच्चे का ना सिर्फ मनोरंजन होगा बल्कि उन्हें अच्छी सीख भी मिलेगी।

Short stories in hindi

Short Story In Hindi with moral, Moral Story, Kahani Hindi, Short Stories in Hindi, Hindi Story for kids.

शिक्षाप्रद कहानियाँ - Short Stories In Hindi 2022

कहानियाँ सुनना हर उम्र के व्यक्ति को पसंद होता है क्योंकि इनसे हमारा मनोरंजन भी होता है और बहुत कुछ सीखने को भी मिलता है।

ऐसी ही कुछ अच्छी सीख देने वाली कहानियाँ हमने यहाँ आपके लिए पेश की हैं जिन्हें आप भी सुनें और अपने बच्चों को भी सुनाएं।

1. शेर और चूहा (The Lion and Mouse)

एक समय की बात है, एक शेर एक पेड़ के नीचे सो रहा था। तभी वहाँ एक चूहा आया और सोए हुए शेर के शरीर पर कूदने लगा। जिससे शेर तंग आ गया और उसने अपने पंजों से जूहए को पकड़ लिया। शेर ने गुस्से में कहा "मूर्ख चूहे मुझे क्यों परेशान किया" अब इसकी सजा तुझ जरूर मिलेगी।

चूहा डर गया और शेर से माफी मांगते हुए कहने लगा, मुझे जाने दो, इसके बदले मैं जरूरत पड़ने पर आपकी मदद जरूर करूंगा। ये सुनने के बाद शेर हँसने लगा और सोचने लगा कि ये चूहा मेरी क्या मदद करेगा। चूहे को विनती करते देख शेर ने उसे माफ कर दिया और छोड़ दिया।

कुछ ही दिनों बाद शेर जंगल में शिकारी द्वारा बिछाए गए एक जाल में फंस जाता है। शेर उस जाल से निकलने की बहुत कोशिश करता है पर वो निकलने में असफल हो जाता है और दहाड़ना शुरू कर देता है। ये आवाज सुनकर चूहा शेर को बचाने के लिए वहाँ पहुँच जाता है।

चूहा अपने दांतों से जाल को काटकर शेर की जान बचा लेता है। चूहे के इस काम से शेर बड़ा खुश होता है और चूहे से कहता है कि दोस्त मैं तुम्हारा ये अहसान काभी नहीं भूलूँगा।

सीख:- कभी भी किसी को छोटा या कमजोर नहीं समझना चाहिए।

2. प्यासा कौआ (Thirsty Crow)

एक बार की बात है, एक जंगल में एक कौआ रहता था। एक दिन उसे बड़ी जोर से प्यास लगी। वह पानी की तलाश में बहुत दूर तक उड़ता रहा लेकिन कहीं भी उसे पानी नहीं मिला।

जब वह बहुत थक गया तो उसे आखिर में एक घड़ा दिखाई दिया जिसमें थोड़ा -सा पानी था। जब कौए ने पानी पीना चाहा तो उसकी चोंच पानी तक नहीं जा सकी। उसने हर तरह से पानी पीने की कोशिश की, पर सब बेकार गई।

कौआ बैचेन हो उठा, तभी उसे एक उपाय सुझा। उसने आस-पास से कंकड़ एकत्रित किए और एक-एक करके अपनी चोंच से घड़े में तब तक डाले जब तक पानी ऊपर नहीं आ गया। फिर कौए ने जी भर के पानी पिया।

इस तरह कौए ने अपनी मेहनत और सहनशक्ति से अपनी प्यास बुझायी और अपनी जान बचाई।

सीख:- हमें किसी भी हाल में हिम्मत नहीं हारनी चाहिए। मेहनत करते रहो क्योंकि मेहनत करने वालों को ही सफलता मिलती है।

3. लालची शेर (Greedy Lion)

एक समय की बात है, गर्मी का मौसम था। एक जंगल में एक शेर को बहुत जोरों से भूख लगी थी इसलिए वो इधर-उधर खाने की तलाश कर रहा था। कुछ देर बास उसे एक खरगोश मिला लेकिन शेर ने उसे छोड़ दिया क्योंकि वह बहुत छोटा था।

फिर कुछ देर बाद उसे एक हिरण मिला, उसने उसका पीछा किया लेकिन शेर बहुत थका हुआ था इसलिए वो हिरण को पकड़ नहीं पाया।

जब उसे कुछ नहीं मिल तो उसने वापस आकर खरगोश को खाने के बारे में सोचा। जब वो वापस उस जगह पर आया तो खरगोश वहाँ से जा चुका था।

शेर बहुत दुखी हुआ और उसे कई दिनों तक भूखा रहना पड़ा।

सीख:- अति लोभ कभी फलदायी नहीं होता।

4. मूर्ख गधा (Silly Donkey)

एक नमक का व्यापारी रोज अपने गधे पर नमक की बोरी लेकर बाजार जाता था। रास्ते में उसे एक नदी पार करनी पड़ती थी।

एक दिन नदी पार करते वक्त, गधा अचानक नदी में गिर गया और नमक की बोरी भी पानी भी गिर गयी। नमक की बोरी पानी में घुल गई और बोरी बहुत हल्की हो गयी।

जिससे गधा बहुत खुश हुआ। अब गधा फिर वही चाल चलने लगा। इससे व्यपारी को काफी नुकसान उठाना पड़ा।

व्यपारी गधे की चालाकी को समझ जाता है और उसने गधे को सबक सिखाने का फैसला किया।

अगले दिन व्यपारी ने गधे के ऊपर एक रुई से भारी बोरी लाद दी।

गधा फिर से जान बूझकर नदी में गिर गया क्योंकि उसे उम्मीद थी की उसका वजन हल्का हो जाएगा।

लेकिन भीगने के बाद रुई बहुत भारी हो गई और गधे को नुकसान उठाना पड़ा। उस दिन के बाद गधे ने कोई हरकत नहीं की।

अब व्यापारी बहुत खुश था।

सीख:- भाग्य हमेशा साथ नहीं देता, हमें हमेशा अपनी बुद्धि का प्रयोग करना चाहिए।

5. एक मुर्गे की कहानी (Story of A Cock)

एक बार की बात है, एक गाँव में बहुत सारी मुर्गे रहते थे। गांव के बच्चों ने एक मुर्गे को बहुत ज्यादा परेशान कर दिया जिससे मुर्गा तंग आ गया, उसने सोचा कि अगली सुबह मैं आवाज नहीं करूंगा। जब सब सोते रहे जाएंगे तो सब मेरी अहमियत समझेंगे और मुझे परेशान नहीं करेंगे।

अगली सुबह मुर्गे ने कोई आवाज नहीं की। सब समय पर उठे और अपना काम करने लगे, मुर्गा समझ गया कि किसी के बिना कोई काम नहीं रुकता। सबका काम चलता रहता है।

सीख:- गर्व न करें, आपकी अहमियत लोगों को बिना बताए ही पता चल जाती है।

6. चींटी और कबूतर (Ant and Pigeon)

गर्मी का मौसम था, एक चींटी को बहुत प्यास लगी थी। वह पानी की तलाश करते हुए एक नदी के किनारे पहुंची। नदी से पानी पीने के लिए वो एक छोटे से पत्थर पर चढ़ गई।

जैसे ही वो पानी पीने लगी, वो पत्थर से फिसल कर नदी में जा गिरी। पानी का बहाव तेज थे जिससे चींटी नदी में बहने लगी।

नदी के आस-पास एक पेड़ था जिस पर एक कबूतर बैठ हुआ था।

कबूतर की नजर चींटी पर पड़ी, उसने उसकी मदद के लिए पेड़ से एक पत्ता तोड़ कर नदी में फेंका और चींटी उस पर चड़ गई।

कुछ देर बाद पत्ता बहकर सुखी जमीन पर पहुँच गया और चींटी पानी से बाहर आ गई और कबूतर को धन्यवाद दिया।

शाम को एक शिकारी कबूतर का शिकार करने आया। कबूतर इस बात से अनजान था और आराम से सो रहा था। चींटी ने जैसे शिखारी को देखा तो उसने उकसे पाँव में जाकर काट लिया।

इससे उस शिकारी की चीख निकल गई और वो चिल्लाने लगा। उसकी चीख सुनकर कबूतर जाग गया और उड़ गया।

कबूतर ने चींटी की जान बचाकर जो नेक काम किया था आज उसी ने उसकी जान बचाई है।

सीख:- कर भला तो हो भला

7. भेड़िया और सारस की कहानी (Wolf and Stork)

एक जंगल में भेड़िया रहता था। वह एक दिन एक शिकार करके उस जानवर को खा रहा था। खाते-खाते उसके गले में हड्डी अटक जाती है। बहुत कोशिश करने के बाद भी भेड़िया अपने गले से उस हड्डी को नहीं निकाल पाता है और बहुत परेशान हो जाता है।

तभी उसे एक सारस दिखाई देता है। उसकी लंबी चोंच देख कर भेड़िया उससे मदद माँगता है,

सारस डरता हुआ भेड़िये के पास आता है। भेड़िया उससे बोलत है कि तुम मेरे गले में फँसी हड्डी निकाल दो मैं तुम्हें इसके बदले इनाम दूंगा।

सारस को लालच आ गया। वह अपनी लंबी चोंच से भेड़िये के गले हड्डी को निकाल देता है।

हड्डी निकल जाने के बाद भेड़िया वहाँ से जाने लगता है।

यह देखकर सारस कहता है, मेरा इनाम तो दो। यह सुनकर भेड़िया सारस से कहता है, तुम्हारी गर्दन मेरे गले से सुरक्षित बाहर आ गयी, यही तुम्हारा इनाम है। इस बात से सारस को बहुत दुख हुआ।

सीख:- हमें कभी भी स्वार्थी लोगों के साथ नहीं रहना चाहिए। ऐसे व्यक्ति की मदद करने के बदले में किसी प्रकार के लाभ की अपेक्षा न करें जिसमें स्वाभिमान नहीं है।

8. लोमड़ी की कहानी (Story of Fox)

एक लोमड़ी जंगल से गुजर रही थी। रास्ते में अंगूर के लटकते हुए गुच्छों को देखकर लोमड़ी के मुँह में पानी आ जाता है। वह मन-ही-मन बोली "ये अंगूर अवश्य ही मीठे और रसीले होंगे"

अंगूर तोड़ने के लिए उसने कई बार ऊंची छलांग लगाई, पर अंगूर उसके हाथ नहीं आए।

वह सोचने लगी, काश अंगूर की बेल थोड़ी नीचे होती तो वे आसानी से अंगूर तोड़ लेती।

लोमड़ी को वहाँ दूर-दूर तक एक कोई चीज भी दिखाई नहीं दी जिसकी मदद से वह अंगूर तोड़ सकती।

लोमड़ी ने थोड़ा आराम करने के बाद फिर छलांग लगाई लेकिन बार-बार कोशिश करने के बाद भी वह अंगूर तोड़ने में कामयाब नहीं हुई।

थककर उसने अंगूर तोड़ने का इरादा यह कहते हुए बदल लिया कि "अंगूर खट्टे हैं मैं अंगूर नहीं खाती"

सीख:- अगर हम बिना सही प्रयास के कुछ हासिल नहीं कर पाते हैं तो हमें उस चीज के बारे में गलत राय नहीं बनानी चाहिए।

9. भेड़िया आया भेड़िया आया कहानी

एक लड़का जंगल में भेड़ चराने जाता है। अकेले-अकेले भेड़ चराते-चराते वह बहुत ऊब जाता है। एक दिन उसने मजाक करने का फैसला किया।

वह जोर-जोर से चिल्लाया, बचाओ.. भेड़िया.. भेड़िया..। यह सुनकर आस-पास के खेतों में काम कर रहे सभी लोग दौड़कर उस लड़के पास पहुंचे।

वहाँ पहुंचकर उन्होंने देखा कि वहाँ कोई भेड़िया नहीं था। यह देखकर लड़का बहुत खुश हुआ।

अगले दिन लड़का फिर चिल्लाया, लोग फिर से भेड़िया का पीछा करने के लिए दौड़े लेकिन भेड़िया नहीं मिला।

गाँव वालों के साथ माजक करके लड़का फिर से बहुत खुश हुआ।

अगले तीन जब लड़के ने अचानक से एक भेड़िये को अपनी भेड़ों पर हमला करते देखा तो वह फिर से चिल्लाया, बचाओ, भेड़िया.. भेड़िया..

लेकिन गाँवों वालों ने सोच कि वह फिर से मजाक कर रहा है। इसलिए वे उसकी मदद के लिए नहीं आए।

जबकि लड़के ने, इस बार सचमुच अपनी 2 - 3 भेड़ खो दी।

सीख:- हमें कभी भी झूठ नहीं बोलना चाहिए। अन्यथा आपके सच को भी हर कोई झूठ मानेगा।

10. एकता की कहानी (Short Stories In Hindi)

एक बार की बात है। तीन बैल आपस में बहुत अच्छे दोस्त थे। वे साथ मिलकर घास चरने जाते और बिना किसी राग-द्वेष के हर चीज आपस में बाँटते थे।

एक शेर काफी दिनों से उन तीनों के पीछे पड़ा था। लेकिन वो जानता था कि जब तक ये तीनों एकजुट हैं, तब तक मैं उनका कुछ नहीं बिगाड़ सकता।

शेर ने उन तीनों को एक दूसरे से अलग करने की चाल चली।

उसने बैलों के बारे में अफवाहें उड़ानी शुरू कर दी। अफवाहें सुन-सुनकर उन तीनों के बीच गलतफहमी पैदा हो गई।

धीरे-धीरी वे एक-दूसरे से जलने लगे। आखिरकार एक दिन उनमें झगड़ा हो गया और वे अलग-अलग रहने लगे।

शेर के लिए यह बहुत अच्छा अवसर था। उसने इसका पूरा फायदा उठाया और एक-एक करके उसने तीनों को मार डाल और खा गया।

सीख:- एकता में ही शक्ति होती है।

निष्कर्ष,

कहानियों के माध्यम से ना केवल बच्चे बल्कि हम भी प्रेरित हो सकते हैं क्योंकि एक छोटी-सी कहानी भी बहुत बड़ी सीख दे सकती है।

यहाँ हमने आपके साथ ऐसी ही कुछ छोटी-छोटी Short Stories In Hindi प्रस्तुत की हैं जो हमें जिंदगी की सबसे बड़ी सीख देती है।

यह भी पढ़ें:

अगर आपको यह Short Stories In Hindi अच्छी लगे तो सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

Avatar for Jamshed Khan

मुझे लिखने का बहुत शौक है। इस ब्लॉग पर मैं एजुकेशन और फेस्टिवल से रिलेटेड आर्टिकल लिखता हूँ।

Leave a Comment

×